MP में विरोध-प्रदर्शन: वकील, व्यापरियों की हड़ताल, तहसीलदार चले गए सामूहिक अवकाश पर...

MP में विरोध-प्रदर्शन: वकील, व्यापरियों की हड़ताल, तहसीलदार चले गए सामूहिक अवकाश पर...
MP में विरोध-प्रदर्शन: वकील, व्यापरियों की हड़ताल, तहसीलदार चले गए सामूहिक अवकाश पर...

Deepesh Tiwari | Updated: 12 Oct 2019, 06:09:41 PM (IST) Sehore, Sehore, Madhya Pradesh, India

राजस्व अधिकारी मांग पूरी नहीं होने को लेकर कर रहे हैं विरोध...

अभिभाषक, व्यापारियों की हड़ताल और तहसीलदारों के विरोध स्वरूप सामूहिक अवकाश पर जाने के चौतरफा काम प्रभावित हो रहा है।

शुक्रवार को गल्ला व्यापारियों की हड़ताल होने को लेकर किसान अपना सोयाबीन नहीं बेच पाए और अभिषाषकों के हड़ताल पर होने के कारण दूर-दराज गांव से कोर्ट आए लोग बिना काम कराए ही बेरंग लौटे।

तहसीलदार भी अपनी लंबित मांगों को लेकर सामूहिक अवकाश पर हैं। तहसीलदारों के सामूहिक अवकाश पर होने को लेकर राजस्व के सभी काम ठप हो गए हैं।

व्यापारी, अभिभाषक और तहसीलदारों के साथ संविदा कर्मचारी भी सरकार के खिलाफ शांतिपूर्ण तरीके से विरोध कर रहे हैं। संविदा कर्मचारी काली पट्टी बांधकर काम कर रहे हैं।

सीहोर। जिले के तहसीलदार और नायब तहसीलदार प्रदेश राजस्व अधिकारी संघ के आव्हान पर गुरुवार से चार दिन के अवकाश पर चले गए हैं। इसका असर दूसरे दिन से दिखना शुरू हो गया है।

सीहोर: एक साथ छुट्टी पर गए तहसीलदार...
शुक्रवार को कार्य दिवस होने के बाद भी तहसील कार्यालय परिसर में लोग कम दिखे। प्रदेश राजस्व अधिकारी संघ के प्रदेश स्तरीय कार्यालय प्रभारी, कोषाध्यक्ष और श्यामपुर तहसीलदार मोतीलाल अहिरवार ने बताया कि लगातार तहसीलदार, नायब तहसीलदारों ने मांग पूरा करने उच्च स्तर पर अवगत कराया है, उसके बावजूद सरकर सुनवाई नहीं कर रही है।

संघ ने विरोध स्वरूप 13 अक्टूबर तक अवकाश लिया है। इस दौरान किसी तरह का कोई कार्य नहीं किया जाएगा। दूसरे दिन शुक्रवार को भी जिले की सभी तहसील कार्यालय में काम ठप रहा है। कई किसान और आमजन राजस्व से संबंधित काम कराने पहुंचे, लेकिन तहसीलदारों के नहीं मिलने पर उनको खाली लौटना पड़ा है।

MP में विरोध-प्रदर्शन: वकील, व्यापरियों की हड़ताल, तहसीलदार चले गए सामूहिक अवकाश पर...

सीहोर: आष्टा मंडी में पसरा रहा सन्नाटा
बैंक से नगद निकासी पर दो प्रतिशत टीडीएस कटने को लेकर सीहोर और आष्टा कृषि उपज मंडी में विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

आष्टा मंडी में फल और गल्ला व्यापारियों ने अनिश्चित कालीन हड़ताल शुरू कर दी है, वहीं सीहोर में फल और सब्जी व्यापारी हड़ताल पर हैं और गल्ला व्यापारी अपनी शर्तों पर खरीदी कर रहे हैं।

फल सब्जी व्यापारी एसोसिएशन सीहोर समिति के अध्यक्ष शादा राईन, सचिव सलीम राईन, उपाध्यक्ष शाकीर मंसूरी आदि ने बताया कि केन्द्र सरकार ने बैंक से नगदी निकासी करने पर दो प्रतिशत टीडीएस काटने के निर्देश दिए गए हैं। बैंक व्यापारियों से दो प्रतिशत टीडीएस काट रहे हैं। व्यापारियों को रोज निकासी करनी पड़ती है, जिससे कि किसानों को नगद भुगतान किया जा सके। दो प्रतिशत टीडीएस किसानों से वसूला नहीं जा सकता है।

जब तक बैंक नगद निकासी पर टीडीएस काटना बंद नहीं करते हैं व्यापानी नीलामी नहीं करेंगे। आष्टा मंडी में तीसरे दिन शुक्रवार को भी व्यापारी हड़ताल पर रहे हैं। यहां पर व्यापारी दस अक्टूबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर गए हैं। मंडी का पूरा काम ठप हो गया है। मंडी प्रबंधन व्यापारियों को समझाईश दे रहा है, लेकिन व्यापारी मानने को तैयार नहीं हैं।

MP में विरोध-प्रदर्शन: वकील, व्यापरियों की हड़ताल, तहसीलदार चले गए सामूहिक अवकाश पर...

सीहोर: जिला अभिभाषक संघ ने की हड़ताल- गांव से आए लोग हुए परेशान...
एडवोकेट प्रोटक्शन एक्ट की मांग को लेकर शुक्रवार को मध्यप्रदेश राज्य अधिवक्ता परिषद जबलपुर के आव्हान पर जिला अभिभाषक संघ ने सीहोर में हड़ताल की। अभिभाषक संघ ने विरोध दिवस को प्रतिवाद दिवस का नाम दिया है। जानकारी देते हुए जिला अभिभाषक संघ के सचिव लखन सिंह परमार ने बताया कि न्यायालय परिसर में वकीलों की सुरक्षा की कोई व्यवस्था नहीं है।

मंदसौर की गंभीर घटना निदंनीय है, इसके विरोध में सभी वकीलों ने निंदा प्रस्ताव पारित कर मुख्यमंत्री कमलनाथ से मांग की है कि प्रदेश सरकार एडवोकेट प्रोटक्शन एक्ट के संबंध में शीघ्र कार्रवाई करे। प्रदेश में एडवोकेट प्रोटक्शन एक्ट तत्काल लागू किया जाए।

जिला न्यायालय में अचानक वकीलों की हड़ताल होने को लेकर दूर-दराज गांव के आए लोग काफी परेशान हुए हैं। मंदसौर की घटना के विरोध में पहले तो वकीलों ने न्यायालय परिसर के बाहर नारेबाजी की और फिर कलेक्टे्रट पहुंचकर मुख्यमंत्री कमलनाथ के नाम डिप्टी कलेक्टर वरुण अवस्थी को ज्ञापन दिया है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned