Audio viral: जुआरियों को बचा रहे टीआई का ऑडियो वायरल!

जिले मेें चर्चा का विषय बना टीआई का ऑडियो,एसपी बोले कराई जा रही है जांच।

By: दीपेश तिवारी

Published: 12 Nov 2017, 02:56 PM IST

सीहोर। मुख्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र बुदनी में शाहगंज टीआई के जुआरियों को बचाने का ऑडियो वायरल हुआ है। जिसमें जागरूक लोग फोन पर जुआरियों के अड्डे पर कार्रवाई करने की सूचना दे रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ से टीआई जुआरियों की बचाने और सूचना देने वालों को पुलिस का रौब दिखाते हुए धमकी देते नजर आ रहे हैं।

पुलिस द्वारा जुआरियों को बचाने का ऑडियो चर्चा का विषय बना हुआ है। इस मामले में एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा का कहना है कि पुलिस मामले में पड़ताल कर रही है। जुआरियों और सटोरियो को बख्शा नहीं जाएगा। मामले मेें एसडीओपी एमएस मीणा को जांच सौंपी गई है।

सीएम के क्षेत्र का मामला:
मामला मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के विधानसभा क्षेत्र बुदनी क्षेत्र के ग्राम नांदनेर का है। आरोप है कि यहां लंबे समय से जुआ चल रहा है। नर्मदा नदी किनारे टेंट के नीचे यहां सीहोर के अलावा भोपाल, होशंगाबाद क्षेत्र के बड़े जुआरी वाहनों से पहुंचते हैं और लाखों में जुआ खेलते हैं।
ऐसे में शाहगंज के थाना प्रभारी सीएस राठौर का जुआरियों से मिली भगत का ऑडियो वायरल भी हुआ है। इस ऑडियो में युवक थाना प्रभारी को फोन करके जुआरियों को पकडऩे के लिए बोलता है, लेकिन साहब खाकी का खौफ दिखाते हुए आरोपियों के पकडऩे के बजाय युवक को ही फटकार लगा देते हैं।

ऑडियो में युवक के यह कहने पर कि आप जुआरियों को पकड़ क्यों नहीं रहे हैं, तो थाना प्रथारी ने कहा पकड़ेंगे अपने हिसाब के पकड़ेंगे। इतना ही नहीं, युवक को धमकी देते हुए यह भी कहा कि पुलिस से टक्कर मत लो। जिसके बाद वायरल हुआ यह ऑडियो क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।
ज्ञात हो कि इससे पहले कुछ माह पहले बुदनी विधानसभा क्षेत्र के रेहटी टीआई पंकज गीते का रेत माफिया से मिली भगत का ऑडियो वायरल हुआ था। मामला मीडिया की सुर्खिया में आने के बाद रेहटी टीआई को लाइन अटैच किया गया था।

पुलिस का तर्क
इस मामले में पुलिस का तर्क है कि पिछले दिनों पुलिस ने जुआरियों पर बड़ी कार्रवाई करते हुए 88 हजार रूपए जब्त किए थे। पुलिस अक्टूबर माह के आखिरी सप्ताह में टै्रक्टर-ट्राली से गांव में पहुंचीं तो जुआरियों के साथियों ने उन्हें रोक लिया था। तब उन्होंने बताया कि मवेशी चराने का चारा लेकर आए हैं, तब उन्हें गांव में जाने दिया।

इस पर मुखबिर के बताए स्थान पर पुलिस टीम जुआरियों के फड़ पर पहुंची जहां पुलिस ने उन्हें चारों तरफ से घेरने के बाद कुछ भागने में सफल हो गए थे। वहीं चार आरोपियों में हेमराज मेहरा पुत्र तोताराम मेहरा (38)निवासी इटारसी, राशिद खान पुत्र बली मोहम्मद (28) निवासी खापरखेड़ा जिला होशंगाबाद, रोहित राय पुत्र मानकलाल राय (22)निवासी सकेत नगर बरेली जिला रायसेन, नर्मदा राजपूत पुत्र मित्र सिंह राजपूत(42)निवासी चौबे कॉलोनी हरदा को गिरफ्तार किया था। क्षेत्र में जुआ बंद होने पर पुलिस को परेशान करने हरकत कर रहे हैं।

ऑडियो के परीक्षण कराया जा रहा है। मामले की जांच एसडीओपी एमएस मीणा को सौंपी गई है।जांच सही पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी।
- सिद्धार्थ बहुगुणा, एसपी सीहोर

दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned