ईको फ्रेंडली गणेश वर्कशाप में प्रतिमा बनाना सीखने मची होड़

श्री गणेश प्रतिमा बनाओ प्रतियोगिता का आयोजन, श्रेष्ठ निर्माणकर्ताओं को किया पुरस्कृत

Sunil Sharma

September, 1311:08 AM

Sehore, Madhya Pradesh, India

सीहोर। ईको फ्रेंडली गणेश वर्कशाप के अंतिम दिन मिट्टी से प्रतिमा बनाना सीखने वालों में होड़ मच गई। इसके साथ ही श्री गणेश की प्रतिमा बनाओं प्रतियोगिता में श्रेष्ठ 20 निर्माण कर्ताओं को पुरस्कृत किया जाएगा। सांई भक्त परिवार ने ब्ल्यू बर्ड स्कूल भोपाल नाका पर गोविंद नेत्रालय के सहयोग से आयोजित तीन दिवसीय ईको फ्रेंडली गणेश वर्कशाप के अंतिम दिन महिलाओं, युवतियों और बच्चों में होड़ मच गई जिससे आयोजकों को अतिरिक्त व्यवस्था करनी पड़ी।

 

अंतिम दिन हरीश तोमर, नवीन चौधरी और अचल साहू द्वारा प्रतिमा निर्माण करना सिखाया गया। मिट्टी से बनी प्रतिमा को और अधिक किस प्रकार से आर्कषक बनाया जाए यह भी सिखाया गया इससे पहले समाज सेवी अरुणा सुदेश राय और संतोष विजयवर्गीय द्वारा शिर्डी के सांई बाबा की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर भगवान श्री गणेश की आरती के साथ समापन दिवस की वर्कशाप का शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर सांई भक्त परिवार के संयोजक बंसत दासवानी ने बताया कि बीस श्रेष्ठ प्रतिमा निर्माण कर्ताओं को पुरस्कृत किया जाएगा।

ECO-FRIENDLY WORKSHOP

जाने माने प्रशिक्षकों द्वारा दिया जा रहा प्रशिक्षण

इको-फ्रेंडली गणेश वर्कशॉप में प्रतिभागियों का उत्साह दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। अपने हाथ से बनाए गणराज की स्थापना करने के लिए सभी प्रतिभागी आतुर हैं। वर्कशॉप में जाने माने प्रशिक्षकों द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षकों ने बताया कि प्रतिभागियों को भगवान गणेश की प्रतिमा को बनाना सिखाया गया। सभी प्रतिभागियों के चेहरे पर आश्चर्य था कि कैसे गणपति को इतने कम समय में तैयार कर लिए। उसके बाद प्रशिक्षकों ने उन्हें छोटे-छोटे टिप्स देकर कई अन्य जानकारियों से अवगत कराया गया। आंखें बनाने के लिए बादाम का उदाहरण दिया गया।
वर्कशॉप में प्रतिभागियों द्वारा गणपति प्रतिमा बनाने के बाद इसमें रंग-रोगन का कार्य करने को कहा गया।

हर्बल कलर से रंग-रोगन करना फायदेमंद
भगवान गणेश की मूर्ति में रंग रोगन भी हर्बल कलर्स से की जाए तो जाएदा अच्छा रहेगा, ताकि जल प्रदूषण को रोका जा सके। कार्यशाला में पूर्णत इको-फ्रेंडली बनाई गई है इसमें किसी तरह के केमिकल का उपयोग नहीं किया गया। साथ ही मिट्टी के गणेश होने से उसे घर पर विसर्जित कर मिट्टी को रीयूज करने की सलाह दी जा रही है।

सुनील शर्मा
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned