कोरोना वैक्सीन का गृह प्रवेश, 8300 की पहली खेप

जिले में 20 स्थान पर 16 जनवरी से 6977 हेल्थ वर्कर्स को लगेगी वैक्सीन,सीएमएचओ कार्यालय स्थित कक्ष में सुरक्षाकर्मियों की निगरानी में रहेगी वैक्सीन

By: Kuldeep Saraswat

Published: 14 Jan 2021, 11:27 AM IST

सीहोर. कोरोना वैक्सीन का बुधवार को गृह प्रवेश हो गया। सीहोर में कोरोना वैक्सीन को सुरक्षा इंतजाम के साथ सीएमएचओ ऑफिस में बने कक्ष में रखा गया है। जिले में कोरोना वैक्सीन की पहली खेप 8300 डोज की आई है, इसे 16 जनवरी से पंजीकृत हेल्थ वर्कर्स को लगाया जाएगा। सीहोर जिले में 6 हजार 9778 हेल्थ वर्कर ने पंजीयन कराया है। सिविल सर्जन डॉ. आनंद शर्मा ने बताया कि जिले में 20 स्वास्थ्य केन्द्र पर कोरोना का वैक्सीनेशन किया जाएगा। सबसे बड़ा वैक्सीनेशन सेंटर जिला अस्पताल सीहोर को बनाया गया है, यहां पर एक दिन में 200 वैक्सीन लगाए जाने हैं। इसके अलावा जिले के शेष 19 सेंटर पर 100 और 50 की संख्या में वैक्सीनेशन किया जाएगा। वैक्सीनेशन की व्यापक तैयारी की जा चुकी है। इसके लिए मॉक ड्रील हो चुका है। सिविल सर्जन डॉ. शर्मा ने बताया कि कोरोना वैक्सीनेशन के लिए पंजीयन और आइडी प्रूफ बेहत जरूरी है, इसके बिना वैक्सीन नहीं लगाया जाएगा। हर वैक्सीनेशन दल में 4 सदस्य रहेंगे। स्वास्थ्य वर्कर्स को पंजीयन के बाद वैक्सीन लगाने के लिए एसएमएस भेजे जाएंगे। जिले के सभी चिकित्सालय में वैक्सीनेशन पाइंट बनाए गए हैं। इनकी निगरानी के लिए 7 जोनल ऑफिसर तैनात रहेंगे। इसके साथ ही जिले के 8 सेंटर की दिल्ली से लाइव वैक्सीनेशन प्रक्रिया की मॉनीटरिंग की जाएगी। जिला अस्पताल और के अलावा जिले के सभी सिविल अस्पताल में लाइव मॉनीटरिंग की व्यवस्था की गई है।

पूजा आरती कर वेन से निकाली वैक्सीन
कोरोना वैक्सीन किट को भोपाल से लेकर आई वैक्सीन वेन के बाहर निकालने से पहले स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा पूजा-अर्चना की गई। महिला डॉक्टर ने आरती की और सीएस डॉ. आनंद शर्मा ने वेन के गेट पर स्वास्तिक बनाया। कोरोना वैक्सीन वेन को पुलिस अधीक्षक एसएस चौहान, एएसपी समीर यादव, सीएमएचओ डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया, सीएस डॉ. आनंद शर्मा ने रिसीव किया। कुछ देर बाद जैसे ही कलेक्टर अजय गुप्ता पहुंचे, वैक्सीन को वेन से निकालकर सीएमएचओ कार्यालय परिसर में बने चिन्हित कक्ष में सुरक्षित स्थान पर रख दिया गया। बताया जा रहा है कि वैक्सीन को सुरक्षित रखने के लिए जिले में 53 आईएलआर (डी-फ्रीजर) हैं। वैक्सीन कोल्ड चेन में रखी जाएगी। जिले में कोल्ड चेन की संख्या 23 है।

सीएमएचओ को लगेगा पहला टीका
सीहोर जिले में करीब 6 हजार 977 हेल्थ वर्कर्स को कोरोना का वैक्सीन लगेगा। अकेले जिला अस्पताल में 538 स्वास्थ्य कर्मचारियों का पंजीयन किया गया है। इन्हें करीब 250 वैक्सीनेटर वैक्सीन लगाएंगे। पहला वैसीन सीएमएचओ डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया को लगाया जाएगा। वैक्सीन आने के बाद बुधवार को पत्रिका से बातचीत में सीएमएचओ डॉ. डेहरिया ने बताया कि सबसे पहले हेल्थ वर्कर्स को कोरोना का वैक्सीन लगाने के पीछे मुख्य कारण आम आदमी के डर को दूर करना और कोरोना वॉरियर्स की सुरक्षा है। एक तो हेल्थ वर्कर्स की कोरोना से सुरक्षा होगी और दूसरा आम आदमी के मन से वैक्सीन के दुष्प्रभाव को लेकर डर खत्म हो जाएगा। उन्होंने बताया कि यह वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है।

वैक्सीन लगवाने ढीले कपड़े पहनकर जाएं
वैक्सीन लगवाने के लिए हेल्थ वर्कर्स को तीन चरण से गुजरना पड़ेगा। वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंचने वाले स्वास्थ्य कर्मचारी हल्के ढीले कपड़े पहनकर जाएं, जिससे वैक्सीन लगवाने में दिक्कत नहीं हो। सबसे पहले हेल्थ वर्कर को वैक्सीन सेंटर पर प्रवेश करते ही तैनात वैक्सीनेटर कर्मचारी स्क्रीनिंग कर सैनिटाइज्ड करेगा। रूम नंबर ए में प्रवेश करते ही वैक्सीनेटर ऑफिसर कोविन-19 की हार्ड कॉपी ने नाम देखकर चैक कर आईडी चैक करेंगे। इसके बाद कर्मचारी को वैक्सीन के लिए अंदर भेजा जाएगा, जहां रूम नंबर बी में कोविड-19 के सॉफ्टवेयर में कर्मचारी का नाम देखकर ओके किया जाएगा, इसके बाद रूम नंबर सी में पहुंचने पर वैक्सीन के बारे में बताया जाएगा। तीन मिनट तक ऑब्जरर्वेशन रूम में बिठाने के बाद वैक्सीन लगाई जाएगी। वैक्सीन लगाने के बाद फिर से आधे घंटे ऑब्जर्वेशन रूम में रखा जाएगा।

Kuldeep Saraswat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned