छत से पानी के साथ टपक रहा प्लास्टर, कैसे करें पढ़ाई

छत से पानी के साथ टपक रहा प्लास्टर, कैसे करें पढ़ाई

Radheshyam Rai | Publish: Sep, 09 2018 04:24:55 PM (IST) Sehore, Madhya Pradesh, India

छत से पानी के साथ टपक रहा प्लास्टर, कैसे करें पढ़ाई

सीहोर. छत से टपकते पानी और गिरते प्लास्टर के बीच छात्र-छात्राओं को पढ़ाई करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। शनिवार को विद्यालय की छत से लगातार पानी टपकने के चलते छुट्टी कर दी गई। आए दिन ऐसे स्थिति निर्मित होने से अध्ययनरत् छात्र-छात्राओं की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। जिसका खामियाजा उन्हें परीक्षा परीक्षा में भुगतना पड़ेगा।

शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बरखेड़ासन का भवन जर्जर अवस्था में पहुंच जाने के कारण आए दिन छत से प्लास्टर टपकता रहता है। जिससे स्कूल में अध्ययनरत् बच्चों में हमेशा हादसे का भय बना रहता। शुक्रवार रात से निरंतर बारिश होने के चलते स्कूल में पानी टपकने के कारण प्रबंधन को छुट्टी करना पड़ी। इस संबंध में स्कूल में अध्ययन करने आन वाले कक्ष-10 और 12 के छात्र-छात्राओं ने बताया कि विद्यालय में कभी टीचरों के नहीं आने के कारण तो कभी बारिश होने पर छत से पानी टपकने के कारण हमारी छुट्टी कर दी जाती है। ऐसे में हमारी पढ़ाई प्रभावित हो रही है। वहीं 10 सितम्बर से हमारे हमारी त्रैमासिक परीक्षा भी शुरू होने वाली है और पढ़ाई नहीं होने से हमें परीक्षा को लेकर काफी चिंता सता रही है।

छात्र-छात्राओं ने बताया कि साइंस और फिजिक्स के टीचर भी नहीं है, कुछ किताबें भी नहीं मिली हैं। जिसको लेकर कई बार प्राचार्य से भी शिकायत की गई, लेकिन आज तक न तो टीचरों की व्यवस्था हो सकी है और न ही पुस्तकें आ पाई है। ऐसे में हमारी पढ़ाई प्रभावित हो रही है। वहीं दूसरी ओर छत से प्लास्टर गिरने के कारण हमेशा हादसे का भय बना रहता है। ऐसे पढ़ाई पर कम छत की ओर ज्यादा ध्यान लगा रहता है।

शुक्रवार रात से हो रही तेज बारिश के कारण स्कूल की छत टपक रही है जिससे क्लासों में पानी भरा गया है। कक्षा में रखी सारी टेबल कुर्सी पानी में भीग गई हैं। बच्चों के बैठने की जगह नहीं थी संकुल प्रभारी संजीव दुबे के आदेश पर मैने स्कूल की छुट्टी की है।
लीला सिसोदिया, सहायक अध्यापक, शा.उ.मा. विद्यालय, बरखेड़ाहसन

Ad Block is Banned