अफसरों की अनदेखी, धड़ल्ले से हो रहा ये काम

अफसरों की अनदेखी, धड़ल्ले से हो रहा ये काम

Radheshyam Rai | Publish: Sep, 10 2018 12:57:19 PM (IST) Sehore, Madhya Pradesh, India

अफसरों की अनदेखी, धड़ल्ले से हो रहा ये काम

सीहोर. अफसरों की अनदेखी के चलते गांवों में किस प्रकार भर्रासाही चल रही है, इसका अंदाजा ग्राम पंचायत खाइखेड़ा में देखा जा सकता है। जहां 4 लाख 68 हजार की लागत से बनने वाले आंगनबाड़ी भवन के निर्माण कार्य में पुरानी बिल्डिंग के जंग लगे सरियों का इस्तेमाल खुलेआम किया जा रहा है।

ग्राम पंचायत खाइखेड़ा में आंगनबाड़ी के पुराने भवन को तोड़कर नए भवन का निर्माण किया जा रहा है। जिसमें सरपंच और सचिब द्वारा ठेका दिया गया है ठेकेदार द्वारा पुराने भवन को पूरी तरह तोड़ा भी नहीं है और जो पुराने पिलर का जो सरिया है उन्हीं को पुन: सीधा कर लगाया जा रहा है।

गांव के लोगों ने इसका विरोध करते हुए निर्माण कार्य को रुकवा दिया है। ग्राम के रूपनारायण दांगी ने बताया कि आंगनबाड़ी के पिलर के जो गड्ढे हैं वह सिर्फ दो फीट के ही खोदे गए हैं और पुराने भवन के निकले तार ही नए निर्माण कार्य में लगाया जा रहा है। इसके अलावा 12 एमएम के तार लगना था लेकिन 10 एमएम के तार लगाए जा रहे हैं।

इसकी शिकायत जब सीओ दिलीप सिंह जैन, इंजीनियर सोदेश गेरबाल और एसडीओ राकेश जैन से की तो उन्होंने कहा कि काम को रुकबा दो, तब हमने काम रुकबा दिया, लेकिन आठ दिन बाद काम फिर से शुरू किया गया। फिर उसी जगह से 10 एमएम के सरिये से राउंड बीम बने हुए हैं। अगर इसी तरह काम किया गया तो नए भवन का क्या मतलब हुआ? वह भी कुछ समय बाद इसी तरह जर्जर हो जाएगा।

ग्रामीण प्रताप सिंह दांगी, अजब सिंह दांगी, कौशल दांगी, रूपनारायण दांगी, मनोहर दांगी, ओपी दांगी, चमन दांगी, वीरू दांगी, दिनेश दांगी, सोहन दांगी, राजू दांगी, मोरसिहं, वीरज साहू, दीपक दांगी, दीनदयाल दांगी ने घटिया निर्माण का आरोप लगाते हुए जांच की मांग की है। ताकि भवन को निर्माण बेहतरी से और गुणवत्ता पूर्ण किया जाए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned