MP में सीधे अनिवार्य सेवानिवृत्त होंगे अब ये अफसर!

- राजस्व, पुलिस और माइनिंग की संयुक्त बैठक, कलेक्टर, एसपी और माइनिंग अफसर की दो टूक

- रेत के अवैध उत्खनन पर सरकार की सख्ती

सीहोर। मध्य प्रदेश में लगातार आ रही रेत के अवैध उत्खनन की शिकायतों के बाद मध्यप्रदेश सरकार अब इस पर सख्त होती दिख रही है। वहीं रेत के अवैध उत्खनन के चलते सरकार पर अपने ही नेता भी दबाव बनाए हुए बताए जाते हैं।

ऐसे में रेत के अवैध उत्खनन और परिवहन को रोकने को लेकर शनिवार को राजस्व, पुलिस और माइनिंग की संयुक्त बैठक में कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक ने अपना रुख साफ कर दिया।

कलेक्टर अजय गुप्ता ने कहा कि सीएम कार्यालय से आदेश मिले हैं कि रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन नहीं होना चाहिए। यदि रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन होता है तो दोषी अफसर के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई नहीं होगी, सीधे अनिवार्य सेना निवृत्ति दी जाएगी। कलेक्टर ने बैठक में यह भी कहा कि इसकी मॉनीटरिंग सीधे मुख्य सचिव करेंगे, रिपोर्ट सीधे मुख्य सचिव को भेजी जाएगी।

कलेक्टर अजय गुप्ता और पुलिस अधीक्षक एसएस चौहान ने राजस्व, पुलिस और माइनिंग के अफसरों की क्षेत्रवार टीम भी गठित कर दी हैं। अब जिस टीम के क्षेत्र में रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन होगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

कलेक्टर गुप्ता ने टीम को आदेश दिए हैं कि वह सप्ताह में कम से कम दो दिन नर्मदा तटीय क्षेत्र का औचक निरीक्षण करेगी। बताया जा रहा है कि पुलिस अधीक्षक चौहान ने भी थाना प्रभारियों को स्पष्ट कर दिया है कि जिसके क्षेत्र में रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन होगा, उसके खिलाफ, उसी के थाने में आईपीसी की धाराओं के तहत कार्रवाई की जाएगी।

बैठक में जिला माइनिंग अधिकारी आरिफ खान, सभी एसडीएम, एसडीओपी, थाना प्रभारी और माइनिंग अफसर मौजूद रहे।

रेहटी में तैनात रहेगा माइनिंग अफसर
नर्मदा तटीय क्षेत्र में रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन रोकने के लिए एक माइनिंग इंस्पेक्टर को रेहटी में तैनात करने का निर्णय लिया गया है। यह माइनिंग इंस्पेक्टर 24 घंटे रेहटी में ही रहेगा। राजस्व और पुलिस की टीम जब भी कार्रवाई करेगी, माइनिंग इंस्पेक्टर तकनीकी जानकारी उपलब्ध कराएंगे।


होशंगाबाद कलेक्टर और एसपी की लेंगे मदद
बैठक में रेहटी थाना प्रभारी ने बताया कि राजस्व और पुलिस की टीम जब भी नर्मदा नदी के किनारे कार्रवाई करन जाती है, रेत कारोबारी नाव लेकर होशंगाबाद जिले की सीमा में पहुंच जाते हैं। इस पर कलेक्टर और एसपी ने कहा कि वे होशंगाबाद कलेक्टर और एसपी से बात करेंगे। होशंगाबाद की राजस्व टीम और पुलिस अमले की मदद लेकर संयुक्त रूप से कार्रवाई की जाएगी।

इन अधिकारियों की जिम्मेदारी तय
नसरुल्लागंज दल: तहसीलदार प्रकाश चन्द्र पाण्डेय, थाना प्रभारी पंकज दीवान, टप्पा गोपालपुर के लिए नायब तहसीलदार नसरुल्लागंज संतराम देशमुख एवं थाना प्रभारी गोपालपुर उषा मरावी आदि।

बुधनी दल: तहसीलदार अजय प्रताप पटेल, थाना प्रभारी संध्या मिश्रा, टप्पा शाहगंज के लिए नायब तहसीलदार आकाश महन्त एवं थाना प्रभारी शाहगंज जितेन्द पटेल आदि।

रेहटी दल: नायब तहसीलदार अमित सिंह, थाना प्रभारी रेहटी रविन्द्र यादव आदि।

श्यामपुर तहसीलदार को फटकार
कलेक्टर ने रेत के अवैध उत्खनन को रोकने के लिए आयोजित बैठक में श्यामपुर तहसीलदार मोती लाल अहिरवार को जमकर फटकार लगाई है। यहां से पिछले सप्ताह जब्त पांच खनिज के डंपर में से चार गायब हो गए। कलेक्टर ने थाना प्रभारी को जांच कर मामला दर्ज करने के आदेश दिए हैं।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned