38 साल पुरानी पाइप लाइन से 40 प्रतिशत एरिया में पानी सप्लाई कर रही नपा, लीकेज से हो रहा दूषित

दूषित पानी आने से लोगों को दूसरी जगह से करना पड़ रहा है इंतजाम

By: Anil kumar

Published: 19 Mar 2020, 12:26 PM IST

सीहोर. शहर के करीब 40 प्रतिशत एरिया में 38 साल पहले बिछाई पाइप लाइन से पानी सप्लाई हो रहा है। पाइप लाइन पुरानी होने से उसमें कई जगह लीकेज होता रहता है। लीकेज के समय नालियों का पानी पाइप लाइन में मिल दूषित होकर नलों में पहुंच जाता है। जिससे लोगों को इसी पानी का उपयोग करना पड़ता है तो कई को दूसरी जगह से लाकर प्यास बुझाना पड़ती है। मंगलवार को इंग्लिशुपरा में यही स्थिति बन गई। सूचना मिलने पर आनन फानन में पहुंचे नगर पालिका अमले ने मरम्मत कर लीकेज बंद किया। यह हाल पहले बारी नहीं बल्कि हर चौथे-पांचवे दिन सामने बनते हैं, जिसका खामियाजा परेशानी के रूप में लोगों को भुगतना पड़ता है।

नगर के गंज क्षेत्र, कृषि उपज मंडी, छावनी, कस्बा सहित अन्य जगह पर साल 1982 में पाइप लाइन बिछाई थी। जिसका कई हिस्सा नालियों के अंदर आ गया है। पाइप लाइन में लीकेज के बाद नाली का गंदा पानी मिलकर लोगों के घर नलों में पहुंंच जाता है। यह पानी पीना तो दूर उपयोग करने लायक तक नहीं रहती है। इस समस्या से कई वार्ड के लोग जूझ रहे हैं। जिससे उनको इधर-उधर से पानी की व्यवस्था कर काम चलाना पड़ रहा है। लोगों का कहना है कि नगर पालिका को नई पाइप लाइन डालना चाहिए, तभी समस्या दूर होगी। जबकि कई जगह लीकेज से हजारों लीटर पानी बर्बाद हो रहा है।

Anil kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned