इधर, नपा अध्यक्ष करती रहीं इंतजार उधर,पार्षद अविश्वास लेकर पहुंच गए कलेक्ट्रेट

इधर, नपा अध्यक्ष करती रहीं इंतजार उधर,पार्षद अविश्वास लेकर पहुंच गए कलेक्ट्रेट

Deepesh Tiwari | Updated: 11 Jul 2019, 01:32:55 PM (IST) Sehore, Sehore, Madhya Pradesh, India

35 में से 29 ने खोला मोर्चा, अविश्वास प्रस्ताव की मांग...

सीहोर. शहर में राजनीतिक सरगर्मियां एक बार फिर से तेज हो गई हैं। बुधवार को 35 में से 29 पार्षदों ने कलेक्टर अजय गुप्ता से मिलकर नगर पालिका अध्यक्ष अमीता अरोरा के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव रखा है।

पार्षदों ने मांग की है कि कलेक्टर यथा शीघ्र परिषद का विशेष सम्मेलन बुलाकर नगर पालिका अध्यक्ष को धारा 47 के तहत हटाने की कार्रवाई करें। पार्षदों ने अध्यक्ष को पद से हटाने के लिए सीएमओ अमरसत्य गुप्ता को भी ज्ञापन दिया है।

जानकारी के अनुसार 28 जून को नगर पालिका सीएमओ अमरसत्य गुप्ता ने 16 बिंदुओं का एजेंडा जारी कर 10 जुलाई दोपहर 3 बजे से परिषद की बैठक बुलाई। निर्धारित समय पर नगर पालिका अध्यक्ष अमीता अरोरा बुधवार को परिषद हॉल में पहुंच गई, लेकिन बैठक शुरू होने से पहले ही खबर मिली कि 29 पार्षद बैठक का बहिष्कार कर अविश्वास प्रस्ताव लेकर कलेक्टर अजय गुप्ता के पास पहुंच गए हैं।

No confidence motion02

इधर, नगर पालिका अध्यक्ष अमीता अरोरा ने कोरम के अभाव में अनिश्चितकाल के लिए बैठक स्थगित की और उधर, कलेक्ट्रेट पहुंच पार्षदों ने कलेक्टर अजय गुप्ता से मुलाकात कर अध्यक्ष अमीता अरोरा के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का प्रस्ताव रख दिया।

कलेक्टर गुप्ता ने पार्षदों से चर्चा करते हुए कहा कि वे जल्द ही इस मामले को लेकर उचित कार्रवाई करेंगे। पार्षदों ने आरोप लगाया है कि साढ़े तीन साल में शहर की हालत पिछली परिषद से भी बदतर हो गई है। विकास के लिए करोड़ों रुपए मिल रहा है, लेकिन विकास कार्य नहीं हो रहे हैं। शहर की पूरी नालियां चौक हैं, सीवेज लाइन पूरी खराब हैं।

सड़कें जर्जर हो गई हैं। आरोप लगाया है कि नाले की खुदाई में 25-50 लाख रुपए खर्च हुआ है और बिल साढ़े तीन करोड़ रुपए का बनाया गया है, इसमें काफी भ्रष्टाचार हुआ है।

पार्षदों ने आरोप लगाया है कि हम बार-बार रोक रहे हैं, लेकिन अध्यक्ष की मनमानी नहीं रुक रही है।


अध्यक्ष बोलीं- बिना भेदभाव के काम कराए
नगर पालिका अध्यक्ष अमीता अरोरा ने बताया कि पार्षदों ने जो आरोप लगाए हैं, बेबुनियाद हैं। महिला होने के बाद भी मैंने बीते साढ़े तीन साल में जितने विकास कार्य कराए हैं, इससे पहले किसी भी परिषद के कार्यकाल में नहीं हुए हैं।

नपाध्यक्ष अमीता अरोरा ने मीडिया को एक सूची भी दी है, जिसमें इस परिषद के कार्यकाल में हुए विकास कार्य का ब्यौरा है। नपा अध्यक्ष अमीता अरोरा ने कहा कि कोरम के अभाव में बैठक रद्द की गई है। इस बैठक में भी शहर के विकास कार्यों को लेकर ही चर्चा होती थी।

परिषद में भाजपा की स्थिति कमजोर
नगर पालिका के चुनाव में भाजपा के 20 और कांग्रेस के चार पार्षद चुनाव जीते थे। भाजपा कांग्रेस के साथ 11 निर्दलीय पार्षद बने। विधानसभा चुनाव के बाद छह भाजपा के विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए। इस हिसाब से परिषद में भाजपा के 14, कांग्रेस के 10 और 11 निर्दलीय पार्षद हैं। 11 निर्दलीय में से अधिकांश नपाध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव रखने वाले पार्षदों के साथ हैं।


ये थे आज की बैठक के प्रमुख मुद्दे
: प्रधानमंत्री योजना के लंबित 1335 हितग्राहियों की सूची की डीपीआर और चार हजार नए आवेदनों पर विचार।
: शहर के सभी वार्ड में आवश्यकता के अनुसार सीसी रोड, डामर और नाली निर्माण।
: ट्रेचिंग ग्राउंड, सीवन घाट, टाउन हॉल के विकास कार्य की योजना तैयार।
: पुराने अध्यक्ष निवास, शुगर फैक्ट्री चौराहा पर शॉपिंग कॉम्पलेक्स और पुरानी सब्जी मण्डी के रिनोवेशन पर विचार।
: करोली वाली माता अंडर ब्रिज से सायलो मेन रोड तक सड़क निर्माण पर विचार।
: नगर पालिका सीहोर के लिए परिसीमन पर विचार।
: पुरानी फायर स्टेशन पर शॉपिंग काम्पलेक्स निर्माण के लिए प्राप्त न्यूतम दरों पर विचार और स्वीकृति।
: सीवेज योजना के तहत जलकर, नल कनेक्शनों की राशि उपभोक्ताओं से वसूली की योजना।
: शुगर फैक्ट्री चौराहा पानी की टंकी का निर्माण।
: कोतवाली चौराहा, लुनिया चौराहा डीलेक्स शौचालय का निर्माण।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned