बस स्टैंड पर यात्रियों को बैठने तक की सुविधा नहीं

बस स्टैंड पर तो यात्रियों के लिए यात्री प्रतीक्षालय तक नहीं

सीहोर/इछावर/ब्रिजिशनगर/फांगिया. ब्रिजिशनगर सहित इछावर बस स्टैंड पर इन दिनों यात्रियों के लिए सुविधाएं के नाम पर कुछ नहीं है। ब्रिजिशनगर बस स्टैंड पर तो यात्रियों के लिए यात्री प्रतीक्षालय तक नहीं है। ऐसे में उन्हें एक ओर जहां गर्मी के दिनों में बस के लिए धूप में खड़ा होना पड़ता है।

वहीं बारिश के दिनों में भंगकर बसों का इंतजार करना पड़ता है। जिम्मेदारों को बार-बार अवगत कराने के बावजूद भी यहां पर यात्री प्रतीक्षालय की व्यवस्था आज तक नहीं हो सकी है।

जबकि दूसरी ओर इछावर बस स्टैंड पर पानी की टंकी तो है लेकिन उसमें यात्रियों के लिए पीने के पानी तक की कोई व्यवस्था नहीं रहती। फल व सब्जी के ठेले वालों ने बस स्टैंड को अपना अड्ढा बना रखा है। जिससे बस चालक और यात्रियों को खासे परेशानी उठाना पड़ती है।

बस स्टैंड पर व्याप्त अव्यवस्थाओं को दुरुस्त कराने को लेकर ग्रामीण कई बार जनप्रतिनिधि सरपंच से लेकर अफसरों तक अवगत करा चुके हैं, लेकिन बस स्टैंड पर न तो यात्रियों के लिए पेयजल की व्यवस्था की गई और न ही यात्री प्रतीक्षालय की व्यवस्था की ओर कोई सार्थक कदम उठाया गया।

ऐसे में दो दर्जन से अधिक गांव से आने वाले यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस संबंध में बस स्टैंड निवासी सुनील नागर ने बताया कि बस स्टैंड पर यात्रियों के लिए बैठने तक की व्यवस्था नहीं है। इस ओर पंचायत को ध्यान देना चाहिए।

वहीं गोलू मेवाड़ा ने बताया कि ब्रिजिशगनर बस स्टैंड पर आसपास के तीन दर्जन से अधिक गांव के यात्री आते हैं, जिनके लिए न तो बैठने की व्यवस्था है और न ही पानी की कोई व्यवस्था। वहीं रितेश नागर का कहना है कि बस स्टैंड पर बारिशों के दिनों में तलाब जैसी स्थिति बन जाती है बारिश के गंदे पानी भर आता है।

हाथ ठेले वालों की गिरफ्त में इछावर बस स्टैंड
बस स्टैंड पर वैसे ही सुविधााओं के अभाव में यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उस पर हाथ ठेले और लोडिंग वाहनों के खड़े रहने के कारण बस चालकों साहित यात्रियों को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। लोडिंग वाहनों के कारण बसों के आने और जाने में खासी परेशानी होती है।

कई बार तो बस चालकों और लोडिंग वाहन चालकों के बीच विवाद की स्थिति भी निर्मित होती रहती है। वहीं दूसरी ओर बस स्टैंड पर दो दर्जन से अधिक सब्जी और फल विक्रेता ठेले लेकर खड़े नजर आते हैं। जो परेशानी का कारण बनते हैं।

ज्ञात हो है कि बस स्टैंड से प्रतिदिन सैकड़ों यात्रियों का सीहोर, नसरुल्लागंज, आष्टा, लाड़कुई, भोपाल आना-जाना लगा रहता है। इसके बावजूद भी नगर परिषद द्वारा यात्रियों की सुविधाओं का कोई ध्यान नहीं रखा जा रहा है। ऐसे में यहां यात्रा करने वाले यात्रियों को खासी परेशानी उठाना पड़ती है। यात्रियों को पीने के पानी तक के लिए होटलों का सहारा लेना पड़ता है। कई बार तो उन्हें होटल पर पानी पीने के लिए कुछ न कुछ खरीदना पड़ता है, इसके बाद ही उन्हें पानी मिल पाता है।


बस स्टैंड पर प्रतीक्षालय के लिए जगह नहीं है, गांव के लोगों ने बस स्टैंड पर अतिक्रमण कर रखा है। अतिक्रमण हटने के बाद बस स्टैंड पर प्रतीक्षालय बनवाया जाएगा।
गुड्डी बाई ज्ञान सिंह राठौर , सरपंच, ग्राम पंचायत ब्रिजिशनगर

वीरेंद्र शिल्पी Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned