नीलकंठ में एक्सपायरी दवाइयों से कर रहे मरीजों का इलाज

स्वास्थ्य से खिलबाड़ : स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही आई सामने

By: Radheshyam Rai

Updated: 10 Mar 2019, 01:51 PM IST

सीहोर. धार्मिक नगरी नीलकंठ में स्वास्थ्य विभाग द्वारा एक्सपायरी दवा से मरीजों के इलाज का मामला सामने आया है।
नसरुल्लागंज से महज 8 किलोमीटर दूर नर्मदा तट क्षेत्र नीलकंठ में शिवरात्रि से लेकर अमावस्या तक मेले का आयोजन होता है। इस मेले में नसरुल्लागंज स्वास्थ्य केन्द्र द्वारा मेले में आने वाले लोगों की सहायता के लिए अस्थाई स्वास्थ्य केन्द्र खोला गया था, ताकि मेले में आए हुए लोगों का इलाज किया जा सके।

अस्थाई स्वास्थ्य केन्द्र में एक्सपायरी दवाओं द्वारा मरीजों का इलाज किया जा रहा था। जब वहां उपस्थित स्वास्थ्य कार्यकर्ता से पूछा गया तो वह जवाब नहीं दे सकी, क्योंकि महज दो प्रकार की गोली दवाई उस टेबल पर रखी थी। जिसमें से एक प्रकार की गोली दवा एक्सपायरी थी जो जनवरी 2019 में एक्सपायर हो चुकी थी। जब इसकी सूचना जिला चिकित्सा अधिकारी को दी गई तो उनके द्वारा भी संतोषप्रद जवाब नहीं दिया गया।

ग्राम नीलकंठ में शिवरात्रि के दौरान तीन दिनों का मेला लगता है जहां हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं किसी भी श्रद्धालुओं को परेशानी न हो इसके लिए प्रशासन के द्वारा यहां उप स्वास्थ्य केन्द्र बनाया गया था। जहां एक्सपायरी दवा से मरीजों का इलाज किया जा रहा था। इस तरह नागरिकों के स्वास्थ्य को ठीक करने के बजाय मौत के मुंह में स्वास्थ्य विभाग के द्वारा धकेला जा रहा है।

प्रभारी मंत्री की फटकार के बाद भी नहीं सुधरे हालात
कुछ दिनों पूर्व प्रभारी मंत्री का नसरुल्लागंज दौरा था। उस दौरान स्वास्थ्य विभाग कर्मचारियों की लापरवाही और विभाग की व्यवस्थाओं को लेकर नागरिकों ने प्रभारी मंत्री से स्वास्थ्य विभाग की शिकायत की थी उस दौरान प्रभारी मंत्री ने न स्वास्थ्य केंद्र का दौरा किया था जहां उन्होंने अस्पताल की अवस्थाओं और डॉक्टरों के समय पर नहीं आने को लेकर बीएमओ सहित सभी डॉक्टरों को फटकार लगाई थी किंतु इसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग के हालात नहीं सुधरे हैं नीलकंठ में स्वास्थ्य विभाग की टीम के द्वारा एक्सपायरी दवा से मरीजों के इलाज करने का यह जीता जागता उदाहरण है कि स्वास्थ्य विभाग मंत्रियों की कितने सुनते हैं। जब मंत्री से ही नहीं डर रहे तो आम नागरिक से कैसे करेंगे।

ऐसा कुछ नहीं है दवाई सभी सही है दो-तीन स्ट्रिप से कुछ नहीं होता है।
मनीष सारस्वत, बीएमओ, नसरुल्लागंज

एक्सपायरी दवा का आप के द्वारा मेरे संज्ञान में मामला आया है संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
डॉ. प्रभाकर तिवारी, जिला चिकित्सा अधिकारी, सीहोर

Radheshyam Rai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned