पंचायत एक रॉयल्टी से निकाल रही रेत की दो-दो गाडिय़ां

पंचायत एक रॉयल्टी से निकाल रही रेत की दो-दो गाडिय़ां

Kuldeep Saraswat | Publish: Mar, 17 2019 11:32:10 AM (IST) Sehore, Sehore, Madhya Pradesh, India

बुदनी की जहाजपुरा पंचायत के सरपंच पति और सचिव की लोकायुक्त में शिकायत, अवैध रेत परिवहन कर शासन को नुकसान पहुंचाने का आरोप

सीहोर. रेत का अवैध कारोबार सरकारी मुलाजिम और जनप्रतिनिधियों के संरक्षण से हो रहा है। नसरुल्लागंज के भाजपा नेताओं के बाद अब बुदनी जनपद की जहाजपुरा पंचायत के सचिव धन सिंह नागर और सरपंच पति तेजराम गौर की शिकायत हुई है। जहाजपुर पंचायत को सरकार की तरफ से रेत की खदान आवंटित की गई है। पंचायत को रॉयल्टी की रसीद काटकर रेत का उत्खनन और परिवहन कराना है, लेकिन यहां के सरपंच और सचिव पर एक रॉयल्टी से दो-दो रेत की गाडिय़ां निकाल सरकार को राजस्व की हानि कर रहे हैं। सरपंच मीना गौर के पति तेजराम गौर और सचिव धन सिंह नागर की भोपाल लोकायुक्त में शिकायत हुई है।

केपीटल होटल हमीदिया रोड भोपाल निवासी भुवनेश्वर प्रसाद मिश्रा ने लोकायुक्त भोपाल में शिकायत दर्ज कराई है कि जहाजपुरा पंचायत के सरपंच मीना गौर के पति तेजराम गौर और सचिव धनसिंह नागर पद का दुरूपयोग कर रेत का अवैध कारोबार कर रहे हैं। सरपंच और सचिव डंपरों में क्षमता से अधिक रेत भरकर निकाल रहे हैं। डंपर में क्षमता से ज्यादा जो रेत भरी जा रही है, उसका अलग से पैसा वसूल किया जा रहा है, जो सरकार के खाते में नहीं जा रहा है। सरपंच और सचिव इस राशि को अपनी जेब में रख रहे हैं। शिकायतकर्ता मिश्रा ने आरोप लगाया है कि सरपंच और सचिव रेत डंपर की रॉयल्टी ज्यादा दूर की काटते हैं, जिससे कि वह डंपर एक ही रॉयल्टी से तीन-चार बार रेत का परिवहन कर सके। शिकायतकर्ता ने दावा किया है कि सरपंच और सचिव की इस करतूत के कारण सरकार को रोज करीब पांच लाख रुपए के राजस्व की हानि हो रही है।

अफसरों की गाडिय़ां देख जेसीबी के टायर खोलकर भाग गए माफिया
इधर, नसरुल्लागंज में भी नर्मदा से खुलेआम रेत का अवैध उत्खनन और कारोबार हो रहा है। राजस्व और पुलिस की सख्ती के बाद भी रेत माफिया रूकने का नाम नहीं ले रहा है। अवैध रेत उत्खनन के कारोबार से जुड़े व्यक्तियों ने राजस्व और पुलिस की कार्रवाई से बचने के तरीके भी अपने ढग़ से खोज लिए हैं। जानकारी के अनुसार शनिवार की अल सुबह करीब ५ बजे एसडीएम बृजेश सक्सेना ने राजस्व अमले के साथ नर्मदा के डिमावर, छिदगांव काछी घाट पर दबिश दी। नदी के कैचमेंट में करीब आधा किलो मीटर दूर से ही अवैध उत्खनन कर रहे व्यक्तियों को अफसरों की गाडिय़ों की लाइट दिखाई दे गई। सरकारी गाडिय़ों का काफिला देख अवैध उत्खनन कर रहे लोग जेसीबी के टायर खोलकर फरार हो गए। नायब तहसीलदार एसआर देशमुख ने बताया कि अवैध उत्खनन कर रही जेसीबी को जब्त कर पुलिस अभिरक्षा में कॉलेज ग्राउंड में खड़ी करा दिया है। अवैध उत्खनन कर रहे रेत कारोबारी जेसीबी के पहिया इसलिए खोलकर भागे कि अफसर जब्त जेसीबी को मौके से नहीं ले जा सकें। राजस्व अमले ने शुक्रवार देर शाम को नसरुल्लागंज-सीहोर मार्ग से भी दो ओवरलोड डंपर जब्त किए हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned