बुदनी में 125 और आष्टा मेें 60 लीटर कच्ची शराब जब्त

पुलिस ने नष्ट की कच्ची शराब बनाने की भट्टी, तीन गिरफ्तार

By: Kuldeep Saraswat

Updated: 29 Mar 2019, 12:03 PM IST

सीहोर. बुदनी और आष्टा पुलिस ने अलग-अलग जगह से करीब 185 लीटर कच्ची शराब जब्त की है। पुलिस ने दबिश देकर कच्ची शराब बनाने की भट्टी भी नष्ट कराई हैं। पुलिस ने कच्ची शराब बनाकर बेचने के आरोप में तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है।

जानकारी के अनुसार बुदनी पुलिस को गुरुवार सुबह करीब सात बजे मुखबिर ने सूचना दी कि जोशीपुर में बगबाड़ रेत घाट पर एक व्यक्ति अवैध रूप से कच्ची शराब बनाकर बेचने का कारोबार कर रहा है। पुलिस ने तस्दीक कर मौके पर दबिश दी और आरोपी बृद्ध उर्फ बुधराम पिता रामकिशन कतिया उम्र 58 वर्ष निवासी जोशीपुर को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से 125 लीटर महुए की शराब, सात ड्रम महुआ लहान जब्त कर लिया। पुलिस ने शराब की कीमत करीब 65 रुपए आंकी है। मीडिया से रूबरू होते हुए एसडीओपी एसएस पटेल ने बताया कि शराब और जब्त सामान की कीमत करीब डेढ़ लाख रुपए हैं। पुलिस ने अवैध कच्ची शराब बनाने की भट्टी और महुआ लहान को नष्ट कर दिया है।

आष्टा के अतरोलिया से 60 लीटर शराब जब्त
अंचल में फल-फूल रहे अवैध कच्ची शराब बनाने के कारोबार को रोकने पुलिस ने आष्टा के अतरोलिया गांव में भी दबिश दी है। यहां पुलिस ने कच्ची शराब के साथ दो व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी कैलाश सपेरा और प्रेम सपेरा के कब्जे से 60 लीटर कच्ची शराब जब्त कर शराब बनाने की सामग्री नष्ट कराई है। जब्त शराब की कीमत करीब 31 हजार रुपए बताई जा रही है। आष्टा के अतरोलिया गांव में पुलिस ने कार्रवाई बुधवार रात करीब 9 बजे की थी।

देशी कट्टा जिंदा कारतूस के साथ युवक गिरफ्तार
बुदनी पुलिस ने एक युवक को घेराबंदी कर देशी कट्टा और जिंदा कारतूस 8 एमएम के साथ गिरफ्तार किया है। आरोपी युवक की गिरफ्तारी रेलवे स्टेशन के पास से हुई है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने रेलवे स्टेशन के पास दबिश दी और आरोपी राजकुमार उर्फ छोटू कीर पुत्र नम्रदा प्रसाद उम्र 20 साल निवासी वार्ड क्रमांक 05 बड़ा कुंआ के पास सांगाखेड़ा थाना बाबई जिला होशंगाबाद को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी की तलाशी ली तो एक देशी कट्टा और जिंदा कारतूस मिला। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आम्र्स एकट के तहत मामला दर्ज किया है।

Kuldeep Saraswat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned