ग्रामीणों ने रेस्क्यू ऑपरेशन कर मवेशियों को बचाया

ग्रामीणों ने रेस्क्यू ऑपरेशन कर मवेशियों को बचाया
Rescue operations

Bharat pandey | Updated: 15 Jan 2017, 11:55:00 PM (IST) Sehore, Madhya Pradesh, India

झरखेड़ा गांव में कुएं में गिरे दो बैलों को तीन घंटे बाद निकाला जा सका

दोराहा। झरखेड़ा गांव में रविवार को नजारा कुछ अलग ही था। एक अकेला थक जाएगा मिलकर जोर लगाना कि तर्ज पर रहवासियों ने रेस्क्यू ऑपरेशन चलाते हुए कुएं में गिरे बैलों की जोड़ी को तीन घंटे के  प्रयास से बाहर निकाल लिया।

जानकारी के अनुसार ग्राम झरखेड़ा निवासी मंशाराम सगर ने रविवार की सुबह अपने कुएं में दो बैलों को गिरे हुए देखा तो अवाक रहा गया। बिना मुंडेर का कुआ होने के कारण संभवत:रात के समय मवेशी गिर गए थे। मंशाराम ने कुएं में मवेशियों को गिरा देख इसकी सूचना ग्रामीणों को दी। इसके बाद कुएं से बैलों को निकालने ग्रामीणों का रेस्क्यू आपरेशन शुरू हुआ। सूचना पर मौके पर सरपंच सुरेश विश्वकर्मा और पुलिस भी पहुंच गईथी। गांव के वईद भाई के ट्रैक्टर तथा रहवासियों के सहयोग से करीब तीन घंटे के रस्क्यू आपरेशन के बाद दोनों बैलों को कुएं से बाहर निकाल लिया गया। इनमें एक बैल की मौत हो चुकी थी, वहीं एक की हालत नाजुक हो चुकी थी। घायल बैल को डॉक्टर राजेश हिंडोलिया ने बैल का इलाज कराया जा रहा है। इस मौके पर पुलिस विभाग के एसआईकेआर चौधरी, एएसआई विमललाल वर्मा, अजय प्रतापसिंह, दयाल सिंह लावना, हैडकांस्टेबल जनार्धन मिश्र के अलावा लियाकत मंसूरी, महेश यादव, गोलू मारन, दीपेंद्र चौरसिया, संतोष पूरी, नारायण सगर, हेमसिंह मीणा, अजय यादव, मुन्नू ठाकुर का सहयोग रहा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned