जानिए किस कांग्रेस नेता को पहले घसीटा फिर पहनाई जूतों की माला

जानिए किस कांग्रेस नेता को पहले घसीटा फिर पहनाई जूतों की माला

asif siddiqui | Publish: Feb, 15 2018 05:21:00 PM (IST) Sehore, Madhya Pradesh, India

दलित व कांग्रेस नेता के साथ अशोभनीय भाषा का उपयोग किए जाने के मामले ने पकड़ा तूल।

सीहोर। कोतवाली चौराहे उस समय लोग अचानक स्तब्ध रह गए और सारा माजरा देखने लगे। जब प्रभारी जिला कांग्रेस अध्यक्ष के फोटो पर आक्रोशित दलित समाज के लोगों ने जूते-चप्पल की माला पहनाने हुए नारेबाजी कर दी। उपस्थित दलितों का कहना था कि दलितों का अपमान किस भी सूरत में बर्दाश्त नहीं होगा।

घसीट कर की जूतों से पिटाई
दरअसल, पूरा मामला यह है कि पिछले दिनों जिला कांग्रेस अध्यक्ष ओम वर्मा ने अनुसुचित जाति समाज के कांग्रेस नेता नरेंद्र खंगराले के साथ अशोभनीय भाषा का इस्तेमाल किए किया गया था। इस मामले में सर्वहारा अनुसुचित जाति पिछड़ा वर्ग समाज के लोगोंं ने पुलिस को शिकायत दर्ज कराई गई थी, लेकिन पुलिस ने मामले में कार्रवाई नहीं की। इसी बात को लेकर कांग्रेस नेता नरेन्द्र खंगराले और दलित समाज के लोग गुरुवार को कोतवाली चौराहे पर भूख हड़ताल करने पहुंचे थे। दलितों द्वारा प्रभारी कांग्रेस अध्यक्ष की गिरफ्तारी की मांग की जा रही थी। इसी दौरान आक्रोशित सर्वहारा अनुसूचित जाति पिछड़ा वर्ग समाज के महिला पुरूष द्वारा जिला कांग्रेस के प्रभारी अध्यक्ष ओम वर्मा के फोटो को घसीटकर जूते चप्पलोंं से पिटाई की। इसके साथ फोटो पर जूते-चप्पल की माला पहनाकर अपना आक्रोश जताने लगे।

बमुश्किल खत्म हुआ आंदोलन
दलितों का कहना था कि अपमान किसी भी सूरत मेंं बर्दाश्त नही किया जाएगा। जब यह सब कुछ चल रहा था तो माजरा देखने कोतवाली चौराहे पर भीड़ जमा हो गई। सूचना पर मौके पर पुलिस पहुंच गई और समझाइश देकर आंदोलन को समाप्त करा दिया गया। इस मामले में कांग्रेस नेता नरेंद्र खंगराले का कहना है कि पुलिस द्वारा प्रभारी कांग्रेस अध्यक्ष ओम वर्मा पर कार्रवाई का आश्वासन दिया गया है। वहीं प्रभारी कांग्रेस अध्यक्ष ओम वर्मा का कहना है कि मामले के संबंध में उन्होंने पूर्व में ही एजेके थाने में शिकायत दी जा चुकी है। उन्होंने कांग्रेस नेता से कोई अशोभनीय बाते नहीं की है। पुलिस अपने हिसाब से तफ्तीश कर रही है।

वर्जन
-दोनों पक्षों ने एजेके थाने में आवेदन दिया गया है। पुलिस मामले में जांच कर रही है। जांच उपरांत दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
राकेश वर्मा, डीएसपी टू थाना अजाक

Ad Block is Banned