एक दिन मुहिम चलाकर अतिक्रमण हटाने के नाम पर की रस्मअदायगी

मुहिम थमते ही फिर सड़कों तक पहुंचा सामान, आमजन परेशान

By: Anil kumar

Published: 06 Jan 2020, 03:49 PM IST

सीहोर.
नगर की व्यस्त सड़क पर हो रहे अतिक्रमण की शिकायत 181 सीएम हेल्पलाइन में होने के बाद 10 दिन पहले नगर पालिका अमला हरकत में आया था। मुख्य बाजार और चौराहे पर मुहिम चलाकर अतिक्रमण हटाया, उसके बाद दोबारा इस तरफ ध्यान नहीं देने से पहले जैसी स्थिति बन गई है। कई व्यापारियों के सड़क तक दुकान के सामान रखने से अव्यवस्था फैलने के साथ जाम के हालात बन रहे हैं। इससे आवाजाही करने वाले लोगों को प्रतिदिन काफी तकलीफ उठाना पड़ रही है।

नगर पालिका ने कुछ दिन पहले नगर में अतिक्रमण हटाओ मुहिम चलाई थी। इसमें गांधी रोड से नमक चौराहा, नमक चौराहा से पान चौराहा, पान चौराहा से कोतवाली, कोतवाली चौराहा से लाल मस्जिद, लाल मस्जिद से नमक चौराहा के बीच से 100 से अधिक दुकानों का सामान हटाकर अवैध अतिक्रमण हटाया था। अतिक्रमण हटने के बाद सड़क काफी चौड़ी होने से आने जाने वाले लोगों ने राहत महसूस की थी। यह मुहिम नियमित चलने की बजाए सिर्फ एक दिन चलकर रह गई। जिससे जिन जगहों से अतिक्रमण हटा था वहां पर पहले की ही तरह कई व्यापारियों ने कब्जा कर लिया है। इसका खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ रहा है। उल्लेखनीय है कि मुहिम के दौरान अमले ने सिर्फ दुकान का सामान हटाया था, जबकि पक्के अतिक्रमण को अनदेखा किया। बता दे कि दो महीने पहले पुलिस-प्रशासन ने कोतवाली चौराहा से तहसील चौराहा के बीच जोरशोर से अतिक्रमण मुहिम चलाई थी। यहां पर भी ऐसा ही हाल हुआ था।

कच्चे के साथ कर लिया पक्का कब्जा
दुकान और मकान के सामने अभी कई जगह आसानी से कच्चा और पक्का अवैध कब्जा देख जा सकता है। कई व्यापारियों ने तो यह तक नहीं देखा कि उनके अवैध कब्जे से प्रतिदिन कितने लोग समस्या का दंश झेल रहे हैं। अफसरों ने भी इनको अनदेखा कर दिया है। ऐसे में ढर्रा सुधरने का नाम नहीं ले रहा है। नागरिकों का कहना है कि अफसर इस समस्या को दूर करने में लापरवाही दिखा रहे हैं।

आष्टा में नोटिस तक सिमटी कार्रवाई
इधर जिले के आष्टा ब्लॉक में प्रशासन ने पगारिया घाटी पर माफिया अभियान के तहत पांच ढाबों से अतिक्रमण हटाया था। प्रशासन की यह मुहिम एक दिन चलने के बाद दोबारा से आगे नहीं बढ़ सकी। आष्टा तहसीलदार अभिषेक शर्मा की की माने तो कई जगह अतिक्रण चिन्हित किया है और कोठरी में कई अतिक्रमणकारियों को नोटिस जारी किए हैं। बावजूद सख्ती से अतिक्रमण हटाने की आज तक शुरूआत नहीं हो सकी है।

Show More
Anil kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned