scriptTired of moneylenders, youth commits suicide | ट्रेन के सामने कूदकर दी जान, सुसाइड नोट में किया यह खुलासा | Patrika News

ट्रेन के सामने कूदकर दी जान, सुसाइड नोट में किया यह खुलासा

पैसा से 10 गुना से भी ज्यादा ब्याज दे ने के बाद भी इन लोगों ने मुझे बर्बाद कर डाला। घर में नकम, मिर्ची भी उधार हो गए।

सीहोर

Published: November 28, 2021 11:01:58 am

सीहोर. सूदखोरी से तंग एक युवक ने शनिवार को ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली। मृतक के पास से पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला, जिसमें उसके आत्महत्या करने का कारण लिखा था। पुलिस ने मृतक के पास से मिले सुसाइड नोट के आधार पर दो व्यक्तियों के खिलाफ सूदखोरी का मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। मृतक का शव पीएम के पास परिजन के सुपुर्द कर दिया है।
Tired of moneylenders, youth commits suicide
सीहोर में सूदखोरी से तंग व्यक्ति के आत्महत्या करने का यह पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी कई लोग आत्महत्या कर चुके हैं और कई शहर से भाग चुके हैं। जानकारी के अनुसार सीहोर में मुरली रेलवे क्रॉसिंग के पास शनिवार को एक व्यक्ति ने ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू की। मृतक की शिनाख्त परमानंद (40) पुत्र बाबूलाल मंगरोलिया निवासी गंज अंबेडकर नगर के रूप में की गई। पुलिस ने जब मौका मुआयना किया तो शव के पास से एक सुसाइड नोट मिला, जिसमें दस प्रतिशत ब्याज से परेशानी का जिक्र है। सुसाइड नोट में सूदखोर दीपक सोनकार, दिलीप सोनकार पुत्रगण रामदुलारे सोनकार का नाम लिखा है। सुसाइड नोट में लिखा है दीपक सोनकार और दिलीप सोनकार ने सूदखोरी से कई परिवार बर्बाद कर दिए। मृतक परमानन्द (40) पुत्र बाबूलाल मंगरोलिया भोपाल नाके पर फल का ठेला लगाता था। बताया जा रहा है कि मंगरोलिया के एक बेटी और दो बेटे हैं। बेटी की शादी हो चुकी है। शनिवार को सुबह के समय ट्रेन के सामने कूदकर उसने आत्महत्या की। पुलिस ने शव बरामद कर सुसाइड नोट के आधार पर जांच शुरू की और शाम को 6 बजे के बाद मामला दर्ज कर आरोपी दीपक सोनकर और उसके भाई दिलीप सोनकार को गिरफ्तार कर लिया। कोतवाली पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए प्रेरित करने, डरा, धमकाकर ब्याज वसूली करने और मध्यप्रदेश ऋणि संरक्षण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।

सुसाइड नोट के कुछ अंश
मैं परमानंद अपनी जीवनलीला समाप्त कर रहा हूं, क्योंकि मेरा जीवन बहुत खराब हो चुका है। समय इतना खराब चल रहा है, आदमी परेशान हो चुका है। मुझे लोगों ने परेशान कर डाला है। कर्ज दे देकर परेशान हो चुका हूं। लोगों ने बुझे बर्बाद कर डाला, जितना इन लोगों से पैसा नहीं लिया, उससे कही ज्यादा ब्याज दे चुका हूं। 10 गुना से भी ज्यादा ब्याज दे ने के बाद भी इन लोगों ने मुझे बर्बाद कर डाला। लाखों रुपए इन लोगों ने मुझसे वसूल डाला, फिर भी हजारों रुपए मेरे ऊपर निकाल रहे हैं। घर में नकम, मिर्ची भी उधार हो गए। मुझसे मेरे घर की हालत नहीं देखी गई। मरने की नोवत आ गई है। यह लोग मुझे रोज घर आकर गाली बकते हैं, जान से मारने की धमकी देते हैं। यह लोग अवैध बिना लाइसेंस की दारू बेचते हैं, चिकन बेचते हैं। लोगों को उधर दारू पिकाकर उल्टे सीधे मांगते हैं। इन लोगों के नाम है दीपक सोनकार, दिलीप सोनकार पिता रामदुलारे सोनकार। इन लोगों ने कितने घर बर्बाद कर डाले। पुलिस चाहे तो खोजबीन करने पर सच्चाई मालूम पड़ जाएंगी।
कैबिनेट मंत्री के बयान पर बवाल-जयवर्धन सिंह ने दी चेतावनी-आंख उठाने वाले को माफी नहीं

मृतक के पास से मिले सुसाइड नोट के आधार पर कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस जांच कर रही है, यदि इसमें और भी नाम सामने आएंगे तो कार्रवाई की जाएगी।
-समीर यादव, एएसपी सीहोर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.