कट रहे जंगल ठूंठ में तब्दील हो रहे पेड़

कोलार डैम. एक तरफ पर्यावरण को बचाने अधिक पौधे लगाकर उनके बड़े होने तक देखरेख करने की बात कही जा रही है दूसरी तरफ जंगल में मौजूद पेड़ों को बचाने में वन विभाग ही अनदेखी बरत रहा है। इसकी हकीकत इछावर तहसील के वीरपुर डैम क्षेत्र में आसानी से देखी जा सकती है। यहां जंगल से कई पेड़ कटने से उनके अब ठंूठ ही नजर आएंगे।

By: Anil kumar

Published: 14 Jan 2021, 08:44 PM IST

वीरपुर डैम वन परिक्षेत्र के गांव आबिदाबाद, जीवनताल, सेवनिया, गुलर छापरी, कमलखेड़ा, सारस, चिकलपानी, बावडिय़ा खाल, मगरपाठ, लोहपठार, झालपीपली सहित आसपास क्षेत्र में तस्करों की नजर जंगल पर है। वह चोरी छिपे जंगल में पहुंचकर धड़ल्ले से हरे भरे पेड़ों पर कुल्हाड़ी चलाकर उनको खत्म करने में लगे हैं। आलम यह है कि कई जगह तो अब पेड़ की जगह पर उनके ठूंठ ही देखने को मिलेंगे। जिस वन विभाग को इस जंगल की निगरानी कर पेड़ों को बचाने की जिम्मेदारी सौंपी है उसके ही नुमाईंदे इसमें अनदेखी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। इसका फायदा बखूबी तस्कर उठा रहे हैं। कई लोग पेड़ों को जलाकर भी नष्ट कर रहे हैं। खास बात यह है कि विभाग कभी कभार कार्रवाई तो करता है लेकिन वह औपचारिक बनकर रह जाती है। इतना ही नहीं वन माफियाओं ने जंगल की जमीन पर खेती करना तक शुरू कर दी है, उन पर भी विभाग की नजर नहीं है।
वर्जन...
हमारी टीम लगातार जंगल की निगरानी करती है और कई बार कार्रवाई कर आरोपियों को पकड़ती भी है। पेड़ों को जलाकर नष्ट करने जैसी स्थिति बन रही है तो इसकी जांच कराई जाएगी। दोषी मिलने पर संबंंधित के खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी।
एसएन खरे, रेंजर वीरपुर कोलार डैम

Anil kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned