WEATHER : गर्मी ने तोड़ा पांच साल का रिकॉर्ड, हवा और उमस ने झुलसाया

पारा 42 डिग्री के पार, 16 अप्रैल 2010 को 42.4 डिग्री पर पहुंच गया था पारा 

By: Bharat pandey

Published: 16 Apr 2016, 11:44 PM IST

सीहोर। गर्मी ने पांच साल का रिकार्ड तोड़ दिया है।शनिवार को शहर का अधिकतम तापमान 42.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। इससे पहले साल 2010 में 16  अप्रैल को पारा 42.4 डिग्री रिकार्ड किया गया था।

 तेज गर्मीके कारण आसमान से आग बरस रही है। सूरज के तेवर इतने तीखे हो गए हैं, घर से बाहर निकलते ही त्वचा झुलसने लगती है। तेज धूप के कारण शनिवार को लोग घर से निकलने में आलस करते रहे।जरुरी काम होने पर भी घर से बाहर नहीं निकले।

शनिवार को सुबह से ही तेज धूप खिली।सुबह 11 बजे पारा 41 डिग्री पर पहुंच चुका था। जैसे-जैसे घड़ी का कांटा बढ़ता गया पारा भी ऊपर चढ़ता गया। दोपहर ढाई बजे शहर का तापमान 42.2 डिग्री और न्यूनतम तापमान 25.5 डिग्री रिकार्डकिया गया।  अप्रैल के महीने में ऐसी गर्मी पांच साल बाद पड़ी है।गर्मी अभी से रिकार्ड तोडऩे लगी है और मौसम वैज्ञानिक फिलहाल मौसम में कोई बदलाव नहीं होने की बात कह रहे हैं।आरएके कृषि महाविद्यालय के मौसम एवं कृषि विशेषज्ञ डॉ. एसएस तौमर ने बताया कि इस सप्ताह तापमान में लगातार बढ़ोत्तरी होगी।पारा 44 डिग्री तक पहुंचने का अनुमान है।

हवा की गति होगी तेज, चलेगी लू
आरएके कृषि महाविद्यालय के मौसम विशेषज्ञ डॉ. एसएस तोमर ने बताया कि आगामी पांच दिन तापमान में बढ़ोत्तरी होने के साथ ही आसमान में हल्के बादल छाए रहेंगे। हवाओं की दिशा उत्तर पश्चिम और पश्चिम से रहेगी। हवाओं की गति सामान्य से नौ से 15 किलोमीटर प्रतिघंटा अधिक रहने का अनुमान है। तापमान बढऩे और हवाओं की गति तेज होने से लू का प्रकोप रहेगा। 

 झुलस रही त्वचा
गर्मी से लोग बेहाल है। धूप निकलते ही बार-बार प्यास के कारण गला सूख रहा है। नगर पालिका ने गांव से शहर आने वाले लोगों की सुविधा के लिए सार्वजनिक स्थान पर प्याऊ नहीं लगाए हैं। सबसे ज्यादा परेशानी गांव से बाजार में खरीदारी करने आने वाले लोगों को हो रही है। शादी समारोह का सीजन होने के कारण बड़ी संख्या में ग्रामीण खरीदारी के लिए शहर आ रहे हैं। तेज धूप के कारण त्वचा झुलस सी रही है।

गर्मी से ऐसे करें बचाव
मसालेदार भोजन के सेवन से डायरिया, उल्टी दस्त जैसी बीमारी हो सकती है। इस सीजन में हरी सब्जियों का सेवन करना चाहिए। कोल्ड ड्रिंक की बजाय घर पर तैयार होने वाले सॉफ्ट ड्रिंक मठा, जूस आदि का सेवन करें। धूप में निकलने से पहले पानी पीकर निकले। घर से बाहर जाते समय पानी की बोतल साथ में लेकर चले। लू से बचने के लिए प्याज, कैरी का पना, ककड़ी आदि का सेवन करें। सिर ढांककर निकले। शरीर में पानी की पूर्ति के लिए सरकारी अस्पतालों में नि:शुल्क उपलब्ध ओआरएस का घोल पीएं। ओआरएस का घोल एक निर्धारित मात्रा में नमक, शक्कर और पानी को मिलाकर घर पर भी तैयार किया जा सकता है।
Bharat pandey Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned