फसल कटाई करने मजदूरों का टोटा, डेढ़ गुना ज्यादा मजदूरी पर भी नहीं मिल रहे

हार्वेस्टर से फसल कटाने मजबूर किसान

By: Anil kumar

Published: 22 Mar 2020, 05:25 PM IST

सीहोर. चौतरफा परेशानी से घिरे रहने वाले किसानों के सामने अब एक नई मुसीबत फसल कटाई कराने की खड़ी हो गई है। उनको डेढ़ गुना ज्यादा मजदूरी देने पर भी मजदूर नहीं मिल रहे हैं। जिससे हार्वेस्टर मशीन या फिर अन्य फसल कटाई करने वाली मशीनों से फसल कटाई कराना पड़ रही है। इससे उनको काफी नुकसान भी उठाना पड़ रहा है।

इस समय जिले में रबी फसल गेहूं, चना, मसूर की कटाई जोरशोर से चल रही है। इस फसल की कटाई कराने किसानों को 300 रुपए से ज्यादा मजदूरी में भी मजदूर नहीं मिल रहे हैं। बताया जा रहा है कि कई मजदूरों ने पहले ही कई खेतों की फसल काटने का ठेका ले लिया है, जिससे उनकी कमी हो गई है। ऐसे में किसान परिवार के साथ या फिर हार्वेस्टर मशीन से चना, मसूर को छोड़ गेहूं फसल की कटाई करा रहे हैं। किसानों ने बताया कि मौसम में हर पल बदलाव हो रहा है। कई जगह बारिश के साथ ओलावृष्टि भी हुई है। इसे देखते हुए जल्द ही फसल को समेटने में लगे हुए हैं। इसमें मजदूर नहीं मिलने से काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

असमाजिक तत्वों ने फोड़े आंगनबाड़ी के कांच
रोलागांव. गांव में असमाजिक तत्वों का बोलबाला बढ़ता जा रहा है। वह अब सरकारी संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाने लगे हैं। इसकी हकीकत आंगनबाड़ी केंद्र क्रमांक 69 के फोड़े गए कांच बता रहे हैं। ग्रामीणों ने बताया कि आंगनबाड़ी केंद्र पर आए दिन शराबी रात के समय शराब पीकर खाली क्वार्टर वहीं छोड़कर चले जाते हैं। जिससे दूसरे दिन कार्यकर्ता और बच्चों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। वहीं अब इन असमाजिक तत्वों ने आंगनबाड़ी के कांच फोड़कर नुकसान पहुंचाया है। बता दे कि कुछ समय पहले चोरों ने आंगनबाड़ी में चोरी करने का प्रयास किया था। हालांकि वह कुछ सामान नहीं ले जा सकें थे। उल्लेखनीय है कि यह स्थिति लंबें समय से बनी हुई है उसके बावजूद इस तरफ ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

Anil kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned