पुलिस ने झोलाछाप चिकित्सक भुरू खान को किया गिरफ्तार

पुलिस ने झोलाछाप चिकित्सक भुरू खान को किया गिरफ्तार
Police arrested Fake doctor

Vishal Yadav | Updated: 12 Oct 2019, 06:24:52 PM (IST) Sendhwa, Barwani, Madhya Pradesh, India

सलाइन की बोतल लगाने पर महिला की हुई थी मौत, 4 अक्टूबर के बाद से फरार था चिकित्सक, अस्पताल का किया निरीक्षण, दस्तावेज किए जब्त

बड़वानी/सेंधवा. गलत उपचार से महिला की मौत के मामले में पुलिस ने शनिवार को डॉ. हबीब उर्फ भुरू खान को गिरफ्तार किया। चिकित्सक की गिरफ्तारी के बाद शहर थाना प्रभारी और अन्य पुलिस अधिकारी खलवाड़ी मोहल्ला स्थित उसके क्लीनिक पर ले गए। 4 अक्टूबर के बाद से क्लीनिक पुलिस ने सील कर दिया था। पुलिस अधिकारियों ने उस घर की तलाशी ली। जहां पर क्लीनिक संचालित किया जाता था। घर के हर कमरे की विस्तृत तलाशी ली गई। हालांकि पुलिस ने यहां से कुछ टॉनिक और अन्य दवाई जब्त की।
शहर थाना प्रभारी टीएस डावर सहित अन्य अधिकारी डॉ. भुरू को दोपहर करीब 2.30 बजे खलवाड़ी मोहल्ला स्थित उसके क्लीनिक ले गए। जहां पर चिकित्सक प्रैक्टिस करता था। इस दौरान पुलिस अधिकारियों ने डिस्पेंसरी की जांच की। पुलिस ने चिकित्सक से दस्तावेज बुलवाएं और उन्हें अपने कब्जे में लिया। टीआई डावर ने कहा कि 4 अक्टूबर की घटना के बाद से डॉ. हबीब खान फरार चल रहा था। उसे तलाशने के लिए पुलिस ने कई जगह दबीश दी, लेकिन कामयाबी नहीं मिली। शनिवार को पुलिस ने खान को गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
ना दवाइयां मिली नहीं मिला इंजेक्शन
जब पुलिस ने चिकित्सक भुरु खान के क्लीनिक पर जांच की, तो वहां पर कोई भी इंजेक्शन एलोपैथिक दवाई नहीं मिली। टीआई ने जब भुरू खान से एलोपैथिक दवाइयों के बारे में पूछा तो उसने बताया कि हम मरीजों को दवाई लिख कर देते है। वह बाजार से दवाइयां लेकर आते है। इसके बाद पुलिस ने सभी दस्तावेज अस्पताल में ही बुलवाए। दस्तावेजों के तहत पुलिस ने डॉ. खान से संबंधित सभी दस्तावेजों को जब्त किया। खान को जब उसके क्लीनिक ले जाया गया। उस दौरान मोहल्ले में आम लोगों की भीड़ जमा हो गई।
ये था मामला
नगर के देवझिरी निवासी राधेश्याम कलरसिंग डुडवे ने एसडीएम को बताया कि वह अपनी पत्नी सीना डुडवे को बुखार की शिकायत के बाद इलाज के लिए खलवाड़ी मोहल्ला स्थित चिकित्सक डॉ हबीब उर्फ भूरू खान के पास ले गया। राधेश्याम ने बताया कि चिकित्सक का की पत्नी को हल्का बुखार है। चिकित्सक को इंजेक्शन लगाने या दवाई देने के लिए कहा, लेकिन शक में उसे सलाइन की बोतल लगाने को कहा। हमारे मना करने के बाद भी चिकित्सक ने मेरी पत्नी को सलाइन की बोतल लगा दी। सलाइन लगाने के थोड़ी देर बाद पत्नी को घबराहट होने लगी और वह बेहोश हो गई। इसके बाद चिकित्सक खान और महिला का पति राधेश्याम महिला को ऑटो में लेकर नगर के निजी चिकित्सालय पहुंचे। जहां पर महिला को मृत घोषित कर दिया गया। पत्नी की मौत के बाद पति ने बीते सोमवार को एसडीएम कार्यालय में ज्ञापन देकर उस चिकित्सक के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज करने की मांग की थी। हालांकि पुलिस ने खान के विरुद्ध धारा 304 के तहत प्रकरण दर्ज किया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned