SBI कियोस्क से एक लाख की हुई चोरी का पुलिस ने किया खुलासा, 4 को किया गिरफ्तार

पुलिस ने खरगोन के सेगांव से नाबालिग सहित 4 आरोपितों को पकड़ा, मोबाइल लोकेशन और हुलिया बना सफलता का कारण, कियोस्क सेंटर में हुई चोरी का मामला

By: vishal yadav

Published: 12 Sep 2020, 06:58 PM IST

बड़वानी/सेंधवा. सेंधवा नगर में 5 दिन पहले कियोस्क सेंटर में हुई चोरी की घटना के बाद पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। शहर थाना पुलिस ने बीते दिनों एसबीआई कियोस्क से हुई 1 लाख रुपए की चोरी का खुलासा करते हुए एक नाबालिग सहित 4 आरोपितों कों गिरफ्तार किया है। आरोपितों ने 2 अलग-अलग स्थानों पर लाखों की चोरी करना भी कबूला है।
शनिवार को एसडीओपी एमएस बारिया ने शहर थाने पर प्रेस कांफे्रेंस करते हुए बताया कि बीते 7 सितंबर को शहर के भीड़भाड़ वाले इलाके नए बस स्टैंड के पास स्तिथ एसबीआई कियोस्क सेंटर से 1 लाख रुपए उठाकर नाबालिग फरार हो गया था। ये घटना सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गई थी। पुलिस ने तत्काल मामले की छानबीन शुरू की। मुखबीर की सूचना पर पुलिस ने आरोपितों की धरपकड़ शुरू कर दी थी। पुलिस ने सेगांव से अमन पिता जीतमल, बैजू पिता जगजीवन, नरपत सिंह पिता नाथू लाल सिंह सभी निवासी ग्राम कडिय़ा जिला राजगढ़ को गिरफ्तार कर लिया। सख्ती से पूछताछ करने पर आरोपितों ने सेंधवा में कियोस्क सेंटर में पर नाबालिग से चोरी करवाना कबूला। पुलिस ने बताया कि पानसेमल में 3 लाख रुपए की चोरी एवं पलसूद से 20 हजार रुपए चोरी करना भी बताया। पुलिस ने आरोपितों से 1 अल्टो कार सहित एक लाख रुपए से अधिक नकद बरामद किए। मामले में फिलहाल एक आरोपी फरार चल रहा है। कार्रवाई में थाना प्रभारी तुरसिंग डावर, एसआई रोहित पाटीदार, प्रधान आरक्षक संजय पाटीदार, आरक्षक योगेश पाटील, अश्विन, नीरज, विनोद, लालसिंह की सराहनीय भूमिका रही।
मोबाइल लोकेशन और हुलिआ बना निर्णायक
सूत्रों ने बताया कि जब पानसेमल में तीन लाख रुपए की चोरी की घटना हुई तो पुलिस सतर्क थी। इसके बाद पालसुल में 20 हजार की चोरी के बाद सेंधवा में कियोस्क सेंटर पर एक लाख रुपए नाबालिग द्वारा उड़ाने के बाद स्थानीय पुलिस अधिकारी सक्रीय हुए। दिनभर के न्यू बस स्टैंड क्षेत्र के फुटेज खंगाले गए। पुलिस को कुछ सूचनाएं भी मिली। वहीं मोबाइल लोकेशन के आधार पर पुलिस आरोपितों तक खरगोन जिले के सेगांव तक पहुंच गई। आरोपी सेगांव में भी किसी वारदात को अंजाम देने की योजना बना रहे थे। पुलिस ने बताया कि जिस नाबालिग ने कियोस्क से पैसे उड़ाए थे, वह मुख्य आरोपितों का नहीं है।

vishal yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned