50 हजार का 18 नग अवैध सागौन चिरान वाहन सहित जप्त

50 हजार का 18 नग अवैध सागौन चिरान वाहन सहित जप्त

Akhilesh Kumar | Updated: 23 Sep 2019, 12:37:43 PM (IST) Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

दक्षिण वनमंडल के सिवनी परिक्षेत्र अधिकारी की कार्रवाई

सिवनी. दक्षिण वनमंडल के सिवनी परिक्षेत्र अधिकारी केके तिवारी ने रविवार को शहर के केशरी नगर से सागौन का 18नग चिरान वाहन सहित जप्त किया है। परिक्षेत्र अधिकारी तिवारी ने यह कार्रवाई सीएफ के निर्देश और मुखबीर की सूचना पर की है। बताया कि जप्त किए गए चिरान की कीमत करीब 50 हजार रुपए बताई जा रही है।


परिक्षेत्र अधिकारी तिवारी ने बताया कि उनको सूचना मिली कि केशरी नगर में एक निर्माणधीन मकान के पास अवैध सागौन चिरान एक वाहन में है। सूचना के बाद जब मौके पर पहुंचकर जांच की गई तो वाहन में मौजूद चालक ने बालाघाट जिले के कटंगी का बिल दिखाया।

जांच में बिल फर्जी मिला। बताया कि चालक सहित दो अन्य लोगों को हिरासत में लिया गया है। बताया जा रहा है कि जिस निर्माणधीन मकान के पास से सागौन चिरान बरामद हुआ है। वह मकान राजस्व विभाग के एक अधिकारी का है। परिक्षेत्र अधिकारी ने बताया कि मुखबीर के अलावा उनको उक्त कार्रवाई के लिए सीएफ व पदेन वमंडलाधिकारी दक्षिण पीपी टीटारे ने निर्देश दिया हैं।


पेंच से सागौन की तस्करी करते पकड़कर छोडऩे का लगा था आरोप
सिवनी परिक्षेत्र अधिकारी केके तिवारी ने बीते वर्ष पेंच टाइगर रिजर्व से सागौन की सिल्ली अवैध तरीके से तस्करी करते हुए पकड़ा था। उक्त सागौन को परिक्षेत्र अधिकारी तिवारी ने शासकीय वाहन सहित पकड़ा था। इस मामले में परिक्षेत्र अधिकारी पर आरोप लगे थे कि बाद में उन्होंने सागौन सहित वाहन को छोड़ दिया था।

मीडिया में मामला सामने आने के बाद पेंच प्रबंधन ने इस मामले में आरोपी पेंच कर्मचारियों के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई करने के साथ ही विभागीय जांच बैठाया था। सिवनी परिक्षेत्र अधिकारी की कार्रवाई के करीब सप्ताहभर बाद मीडिया में मामला आने से संबंधित कर्मचारियों के खिलाफ की गई कार्रवाई ने पेंच प्रबंधन व दक्षिण वनमंडल के आला अफसरों की कार्यशैली भी सवाल खड़े कर दिए थे।

इसबीच रविवार को राजस्व विभाग के एक अधिकारी के निर्माणधीन मकान के पास से बरामद किए गए अवैध सागौन चिरान के बाद यह मामला फिर एक बार सुर्खियां बन गई है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned