५० हजार की रिश्वत लेता पकड़ा गया संभागीय कार्यपालन यंत्री

- लोकायुक्त जबलपुर ने की कार्रवाई

By:

Published: 10 Feb 2018, 02:01 PM IST

सिवनी. लोकायुक्त जबलपुर की टीम ने शुक्रवार को पीआईयू के संभागीय कार्यपालन यंत्री मोहन डेहरिया को ५० हजार रुपए रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया है। डेहरिया ने यह कार्रवाई ठेकेदार राकेश दुग्गल का बिल पास करने के लिए मांगा था। ठेकेदार कार्यालय में कार्यपालन यंत्री को रिश्वत दे रहा था। उसी समय टीम ने उसे दबोच लिया।
लोकायुक्त डीएसपी एचपी चौधरी ने बताया कि ठेकेदार ने पीआईयू से निर्माण कार्य कराया था। उसके निर्माण कार्य का बकाया बिल भुगतान के लिए संभागीय कार्यपालन यंत्री ने ५० हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी। ठेकेदार ने इसकी शिकायत की थी। शिकायत के बाद दोनों के बीच की बातचीत रिकार्डिंग कराई गई थी। रिकार्डिंग में रिश्वत मांगने की पुष्टि हुई थी। इसके बाद सुनियोजित तरीके से लोकायुक्त की टीम ने ठेकेदार को रिश्वत देने के लिए संभागीय कार्यपालन यंत्री के यहां भेजा। ठेकेदार ने जैसे ही रुपए दिए टीम ने पकड़ लिया। ठेकेदार ने रिश्वत में ५० हजार रुपए (दो-दो हजार के नोट) के नोट दिए थे। इस संबंध में संभागीय कार्यपालन यंत्री मोहन डेहरिया के नंबर पर काल किया गया। उन्होंने बताया कि अभी कार्रवाई चल रही है बाद में बात करेंगे। कार्रवाई करने वाली लोकायुक्त की टीम में कमल सिंह उइके सहित दो इंस्पेक्टर और तीन आरक्षक रहे।

स्कूल, आंगनबाड़ी का कलेक्टर ने किया औचक निरीक्षण

सिवनी. कलेक्टर गोपालचन्द्र डाड शुक्रवार को केवलारी विकासखंड पहुंचकर विभिन्न शालाओं एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों तथा विकास कार्यों का औचक निरीक्षण किया गया। जिसमें प्रमुख रूप से माध्यमिक शाला झगरा, आंगनबाड़ी केन्द्र लोपा एवं मॉडल ग्राम पंचायत पलारी के साथ-साथ उचित दुकान का निरीक्षण किया।
आगामी परीक्षाओं के मद्देनजर कलेक्टर डाड ने माध्यमिक शाला झगरा तथा लोपा में विद्यार्थियों से बातचीत कर गणित, विज्ञान एवं अन्य विषयों के प्रश्न कर उनके बौद्विक स्तर को जाना। साथ ही उनका उत्साहवर्धन कर उन्हें परीक्षा बिना डर कर अच्छे अंकों से उत्तीर्ण करने की बात कही। वहीं दूसरी और उन्होंने शिक्षकों को अध्यापन कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरतने की हिदायत दी। वहीं आंगनबाड़ी केन्द्रों का निरीक्षण कर उन्होंने आंगनबाड़ी केन्द्रों में उपस्थित बच्चों को दिए जा पोषण आहार एवं अन्य व्यवस्थाओं की गुणवत्ता का अवलोकन किया।
राष्ट्रीय कृमि दिवस पर बच्चों को दी जा रही दवाईयों को देने की विधि की जानकारी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व शिक्षकों को है या नहीं इसका भी अवलोकन किया। वहीं आंगनबाड़ी केन्द्रों में दर्ज बच्चों की कमी को देखते हुए उन्होंने जिला कार्यक्रम अधिकारी इसमें सतत निगरानी के निर्देश दिए।
पौधरोपण कार्यक्रम का किया अवलोकन
ग्राम पंचायत द्वारा मनरेगा से मोक्षधाम में किए पौधरोपण कार्य का अवलोकन कर कलेक्टर डाड ने ग्राम पंचायत सरपंच व जनपद मुख्य कार्यपालन अधिकारी निर्देशित किया आगामी जुलाई में प्रस्तावित वृहद पौधरोपण कार्यक्रम में अधिक फलदार पौधे लगाने निर्देश दिए।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned