नदी में बनाया बांस-बल्ली से पुल

Santosh Dubey

Publish: Jan, 14 2019 07:50:54 PM (IST)

Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

सिवनी. वैनगंगा नदी तट स्थित मकर संक्रांति पर्व के चलते प्रथम दिन सैकड़ों श्रद्धालुओं ने आस्था की डुबकी लगाई। हर साल की तरह यहां लगने वाले मेले में केवलारी व आसपास के कई गांव समेत समीपस्थ जिले मंडला, नैनपुर से लोग पहुंचे। इसके साथ ही बड़ी संख्या में छोटे-बड़े व्यापारियों ने अपनी दुकानें लगाई। नदी पर बांस, बल्लियों का अस्थायी पुल बनाया गया। जहां केवलारी से सागर नदी के किनारे, मोक्षधाम मार्ग व खेतों से होकर जाने वाले रास्ते के लोगों ने इस पुल का उपयोग किया। हालांकि पुल पार करने के लिए लोगों को इसका शुल्क प्रतिव्यक्ति पांच रुपए के हिसाब से देना पड़ा। जिसको लेकर कुछ लोगों ने आपत्ति भी दर्ज कराई।
मेले में मिठाई, खेल, खिलौने, कपड़े, चूड़ी, किराना, कृषि उपकरण, फल-साग-सब्जी आदि बेचने वालों ने अपनी दुकानें लगाई। मेले में मनोरंजन के लिए झूले भी लगाए गए जिसका लुत्फ यहां पहुंचने वालों ने जमकर उठाया। छोटे-बड़े झूले पर लोगों ने झूला।
लाई-गुड का चखा स्वाद
मकर संक्रांति पर्व पर तिल से बने पकवान के साथ-साथ लाई गुड़ खाया गया। वहीं ज्वार से बनी लाई भी स्वास्थ्य के लिए लाभदायक मानी जाती है। जिसका भी स्वाद लोगों ने लिया।
सुबह से डुबकी लगाने पहुंचे श्रद्धालु
दो दिन की मकर संक्रांति पर्व मनाए जाने के चलते सोमवार को प्रथम दिन बड़ी संख्या में लोग वैनगंगा नदी पहुंचे जहां बड़ी संख्या में नदी में डुबकी लगाकर नहाना एवं सूर्य देवता को जल चढ़ाया। लोगों ने मकर संक्रांति के दिन साबून, शैम्पू के स्थान पर तिल का प्रयोग किया। वहीं वैनगंगा नदी तट पर लगे मेले में पहुंचने के लिए दो रास्तों में सबसे ज्यादा लोग आईटीआई वाले रास्ते से पहुंचे। यहां वाहन पार्किंग की व्यवस्था बनाई गई। वहीं लोगों ने बताया कि मंगलवार को भी यहां बड़ी संख्या में लोग मकर संक्रांति पर्व मनाने पहुंचेंगे। मेले में केवलारी पुलिस बल मुस्तैदी से जुटा रहा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned