सांसद आदर्श ग्राम को शिक्षकों का इंतजार

सांसद आदर्श ग्राम को शिक्षकों का इंतजार

Sunil Vandewar | Updated: 24 Jun 2018, 11:39:16 AM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

गोपालगंज के विद्यालय में शिक्षकों की कमी, ग्रामीणों ने सांसद, विधायक, डीइओ से बताई समस्या

सिवनी. सांसद आदर्श ग्राम पंचायत गोपालगंज में वर्ष १९९९ से संचालित हायर सेकेण्डरी स्कूल में हर साल विद्यार्थियों की संख्या बढ़ रही है। इसके बावजूद भी अब तक शिक्षकों की संख्या नहीं बढ़ी है। शिक्षकों की कमी से शिक्षा व्यवस्था प्रभावित हो रही है। इस समस्या को दूर करने ग्रामीणों ने सांसद, विधायक, कलेक्टर, डीइओ तक से अर्जी लगा चुके हैं, लेकिन आश्वासन मात्र मिल रहा है। समाधान नहीं होने से ग्रामीणों में नाराजगी है।
ग्रामीणों का कहना है कि शिक्षा को स्तर सुधारने, गुणवत्तायुक्त बनाने शिक्षा विभाग नए-नए निर्देश जारी करता रहा है। जबकि मूल समस्या शिक्षकों की है, जिस पर विभाग गंभीर नहीं है। जिले का सांसद आदर्श ग्राम का सरकारी स्कूल ऐसा है, जहां जरूरत के मुताबिक शिक्षक न होने से व्यवस्था और शिक्षा का स्तर दोनों प्रभावित हैं। इस बात से शासन-प्रशासन, जनप्रतिनिधि और शिक्षा विभाग के आला अधिकारी भी वाकिफ हैं, लेकिन शासन की नीति का हवाला देकर किनारा कर लेते हैं। शनिवार को गोपालगंज से ग्रामीणों का एक प्रतिनिधि मंडल विधायक, डीइओ के पास समस्या सुनाने पहुंचा था।
एनएच सेवन पर सिवनी से नागपुर रोड पर स्थित गोपालगंज को सिवनी-बालाघाट सांसद बोधसिंह भगत के द्वारा सांसद आदर्श ग्राम घोषित करते हुए इसके विकास की जिम्मेदारी ली गई है। इसके बावजूद यहां हाइस्कूल, हायर सेकेण्डरी स्कूल को शिक्षकों की कमी से जूझना पड़ रहा है। हालांकि सांसद बोधसिंह भगत ने अपनी ओर से अनुशंसा पत्र देते हुए शिक्षकों की कमी को दूर करने शासन को पत्र लिखा है। जिसे संलग्न कर ग्रामीणों द्वारा डीइओ के माध्यम से शिक्षा विभाग को पद स्वीकृति के लिए प्रस्ताव भी भेजा जा रहा है।
ग्रामीणों का कहना है कि गोपालगंज के शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल में आर्टस, साइंस, मेथ्स, बायो फैकेल्टी है। शिक्षक पद संरचना में आरंभ से ५ पद स्वीकृत हैं, जो अब तक उतने ही हैं। विद्यार्थियों की दर्ज संख्या बढ़ रही है, किंतु शिक्षकों के पद नहीं बढ़े। हाइस्कूल में १२ स्वीकृत पद हैं, इनमें ७ नियमित और ५ अतिथि हैं। उन्होंने कहा कि जब नए स्कूलों में जरूरत के मुताबिक शिक्षकों के पद स्वीकृत हो रहे हैं, तब इस दो दशक पुराने विद्यालय को शिक्षकों की पद स्वीकृति आवश्यक रुप से होनी चाहिए।
डीइओ एसपी लाल से मिलने पहुंचे ग्रामीणों ने पत्र सौंपकर अपनी मांग से अवगत कराया। इस पर डीइओ ने पदों की स्वीकृति के नियमों की जानकारी देते हुए फिलहाल पद स्वीकृति न कर पाने की बात कही। हालांकि प्रस्ताव लेकर उच्चाधिकारियों को भेजने की सहमति दी व वैकल्पिक व्यवस्था के तौर पर आवश्यकता अनुसार अतिथि शिक्षकों को रखने के लिए प्राचार्य एएस मेकेन्जी को निर्देशित किया है।
हो रही है समस्या -
इस विद्यालय में शिक्षकों की कमी है। जिससे समस्या हो रही है। इस सम्बंध में ग्रामीण, अभिभावक व हमारे द्वारा विभाग को पत्र लिखा गया है। जैसे निर्देश प्राप्त होंगे, वैसी व्यवस्था की जाएगी।
एएस मेकेन्जी, प्राचार्य शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल गोपालगंज

विद्यालयों में जहां दर्ज संख्या अधिक है और शिक्षक कम हंै, वहां के हाइस्कूल में नियम के तहत अतिथि शिक्षकों को रखने के लिए कहा गया है। गोपालगंज का प्रस्ताव विभाग को भेजा जाएगा।
एसपी लाल, डीइओ सिवनी

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned