खतरे के साए में खेलेंगे बच्चे, सरकारी नुमाइंदों को नहीं परवाह

खतरे के साए में खेलेंगे बच्चे, सरकारी नुमाइंदों को नहीं परवाह

Sunil Vandewar | Publish: Jun, 23 2018 11:23:34 AM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

शहर के नेताजी विद्यालय परिसर में जर्जर इमारत से हादसे का डर

सिवनी. शहर के बीच कोतवाली थाना के सामने नेताजी सुभाषचंद्र बोस हायर सेकेण्डरी स्कूल परिसर में ध्वस्त किए जाने के लिए चिन्हित इमारत को गिराने में नगरीय प्रशासन लापरवाही बरत रहा है। अब नए शिक्षण सत्र की शुरुआत के साथ ही इस इमारत के आसपास खेल रहे बच्चों को देखकर खुद प्राचार्य, शिक्षक चिंता में हैं।

नेताजी विद्यालय परिसर में ही जिले की वर्ष १८६३ से संचालित प्रथम बालक हिन्दी मेनबोर्ड प्राथमिक शाला भी है। यहां अध्ययनरत बच्चे जर्जर इमारत के आसपास खेलते हैं। इसके बावजूद भी ना तो जिला प्रशासन इस बिल्डिंग को गिरवाने की सुध ले रहा है और ना ही मरम्मत की। ऐसे में यहां पर सत्र प्रारंभ होने के दौरान बारिश में कोई भी हादसा होने का अंदेशा बना हुआ है।
शाला प्रबंधन व पार्षद ने लिखा था पत्र
नेताजी सुभाष चंद्र बोस हायर सेकेण्डरी स्कूल के प्रभारी सुधीर ठाकुर ने बताया कि इस जर्जर हो चुके भवन को गिराने के लिए पहले ही कई बार नगरपालिका को पत्र लिखा जा चुका है, लेकिन नगरपालिका की उदासीनता के चलते आज तक इस संबंध में कोई कार्रवाई नही हुई। साथ ही क्षेत्र के पार्षद पति नियाज अली द्वारा भी इस संबंध में नगरपालिका से आग्रह किया गया लेकिन सार्थक कार्रवाई नहीं हुई है।
टूटे भवन तो बन सकेगा लैब -
नेताजी विद्यालय में करीब २० लाख की लागत से अटल टिंकरिंग लैब बनना है, इसके लिए भवन की कमी है। उक्त जर्जर इमारत को गिरा दिया जाए, तो यहां लैब के लिए इमारत बनाई जा सकता है। इसे ध्वस्त किए जाने के संबंध में जनशिक्षा केन्द्र द्वारा भी पूर्व में यह कहा गया है कि शाला का यह जर्जर भवन अगर गिरवा दिया जाता है तो शासन के प्रयासों से यहां पर नया भवन बनाया जा सकता है। जिससे नगर के सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं शाला की विभिन्न कक्षाओं का संचालन किया जा सकेगा।
शाला की जर्जर स्थिति होने के कारण इसमें लगी हुई बेशकीमती इमारती लकड़ी भी विगत 2 वर्षो से खराब हो रही है। भवन में लगे खिड़की-दरवाजे निकाल लिए गए हैं लेकिन आज तक विभाग ने कोई संज्ञान नही लिया। देखा गया कि बारिश के दिनों में विषैले सांप-बिच्छु सहित अनेक जीव-जंतु विचरण करते हैं। इसी परिसर में प्राथमिक, माध्यमिक एवं हायर सेकेण्डरी शाला में अध्यापन करने वाले बच्चे इस जर्जर भवन में खेलते-कूदते हैं। ऐसे में कोई घटना घटे इसके पूर्व जर्जर भवन को गिरवाए जाने की मांग पालकों द्वारा की गई है।
इनका कहना है
विद्यालय परिसर के इस जर्जर हो चुके भवन को धराशाही किए जाने कई बार नगर पालिका को पत्र लिखा जा चुका है। नगरीय प्रशासन ही इस ओर कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है।
सुधीर ठाकुर, प्रभारी प्राचार्य नेताजी सुभाष चन्द्र बोस स्कूल सिवनी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned