scriptCongressmen fought for freedom, built the nation by adding bricks each | कांग्रेसियों ने आजादी की लड़ाई लड़ी, एक-एक ईंट जोड़कर किया राष्ट्र का निर्माण | Patrika News

कांग्रेसियों ने आजादी की लड़ाई लड़ी, एक-एक ईंट जोड़कर किया राष्ट्र का निर्माण

जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय पर मनाया गया स्थापना दिवस, कमलनाथ के संदेश का हुआ वाचन

सिवनी

Published: December 29, 2021 10:25:16 am

सिवनी. जिला कांग्रेस कार्यालय इंदिरा भवन सिवनी में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी का स्थापना दिवस मनाया गया। इसकी शुरुआत बापू महात्मा गांधी की प्रतिमा पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष राजकुमार खुराना ने माल्यापर्ण कर किया। राष्ट्रगीत का गायन कर ध्वजारोहण किया गया। जिला कांग्रेस सेवादल द्वारा ध्वज को सलामी दी गई। इसके बाद राष्ट्रगान कर प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष कमलनाथ के संदेश का वाचन किया गया।
कहा कि आप सबको अखिल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के स्थापना दिवस की शुभकामनाएं। 28 दिसम्बर 1885 में आज के ही दिन कांग्रेस पार्टी की स्थापना हुई थी। वोमेश चन्द्र बनर्जी, दादा भाई नौरोजी, सर फिरोजशाह मेहता, लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक, महात्मा गांधी, पंडित जवाहरलाल नेहरू, सरदार वल्भभाई पटेल, मौलाना आजाद, डॉ. भीमराव अम्बेडकर, सुभाषचंद्र बोस, लाल बहादुर शास्त्री, इंदिरा गांधी ने देश की आजादी की लड़ाई लड़ी। देश को आजाद कराया। एक-एक ईंट जोड़कर राष्ट्र का निर्माण किया। छोटी-छोटी पांच सौ से ज्यादा रियासतों को मिलाकर एक राष्ट्र भारत बनाया जो कश्मीर से कन्याकुमारी तक मां भारती को एकाकार करता है। भारत मां के लाल सरदार भगतसिंह, रामप्रसाद बिस्मिल, चन्द्रशेखर आजाद, अशफाक उल्ला के बलिदान ने क्रंाति के चोले को रंग दिया। राजीव गांधी ने अपने काल से 30 साल आगे के भारत के भविष्य के लिए 21वीं सदी का नारा दिया। इक्कीसवीं सदी को कम्प्यूटर, संचार और इंटरनेट की सदी बनाने की नींव रखी, जिससे भारत को संचार क्रंाति का नेतृत्व मिला। भारत विश्वगुरू बना।।सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह ने मंदी की मार से जूझती दुनिया के सामने भारत की अर्थव्यवस्था की स्थिरता को स्थापित किया। आरटीआई, भोजन का अधिकार, मनरेगा, शिक्षा के अधिकार, वन अधिकार, कानून से नागरिक सशक्तिकरण का जनपथ बनाया। आज भी हमारी पार्टी सोनिया गांधी, राहुल गांधी के नेतृत्व में लोकतंत्र एवं संविधान की रक्षा और देश को नई दिशा में जोडऩे के उद्धेश्य की पूर्ति के लिए प्रयत्नशील है। कांग्रेस पार्टी भारतीय संस्कृति, सभ्यता और राष्ट्रवाद की सच्ची प्रतिनिधि है। भारत के सभी धर्म, जाति, क्षेत्र और भाषाओं के लोग कांग्रेस की विचारधारा से प्रभावित होते है। गौरव का विषय है कि हम भारतीयता की इस महान बहुलतावादी, धर्मनिरपेक्ष लोकतंात्रिक परम्परा में शामिल है। पार्टी के स्थापना दिवस पर हम सब कांग्रेस पार्टी और परम्पराओं को मजबूत करने का संकल्प लें कि देश के लोकतंत्र और संविधान के सामने जो भी चुनौतियां है उनका डटकर मुकाबला करें। इस अवसर पर धर्म गुरू पंडि़त राजेन्द्र पांडे, हाफिज शोऐब रज साहब, ग्रंथी हरिन्द्ररसिंह, शैलेष नेथन ने देश में साम्प्रदायिक सौहाद्र्र, सुख, समृद्धि और शांति व भाईचारा के लिए प्रार्थना की। खुराना द्वारा धर्मगुरूजनों का सम्मान किया गया। कांग्रेस पार्टी के इतिहास के संबंध में मोहनसिंह चंदेल, विष्णु करोसिया, अतुलचंद मालू, शिव सनोडिया, राजिक अकील ने अपने विचार रखे।
जिला कांग्रेस प्रभारी महामंत्री ब्रजेशसिंह बघेल, इमरान पटेल, अशोक चौबे, खुमानसिंह ठाकुर, सुजीत नाहटा, पदम सनोडिया, तेजसिंह रघुवंशी, राजेश मानाठाकुर, पंकज बाउसकर, सुमित मिश्रा, देवधर सक्सेना, नितिन शुक्ला, ऋषभ ठाकुर, मुबारक खान, चंदनसिंह राजपूत, प्रवेश बाबू भालोटिया, गेंदलाल भलावी, राकेश अग्रवाल, मोहनसिंह ठाकुर, धु्रवनारायण चौधरी, नन्दू यादव, विनोद यादव, डालचंद बर्वे, अशोक गोखले, अतीक आलम, शरद गोलू ठाकुर, योगिता सनोडिया, विमला ठाकुर, शीरी अफरोज, सोनी डागोर, पवनरेखा रिनायत, सीतांजलि सक्सेना, संदीप चौहान, शिवराम वर्मा, राजकुमार तिवारी, कैलाश महोबिया शफीक बाबा, धनंजयसिंह, सुशील सोनकेशरिया, आबिद हुसैन, काफिल खान, सत्यम बघेल, ठाकुर प्रसाद डहेरिया, राजकुमार कश्यप, राजकिशेार यादव, कमलेश कुमार, जयप्रकाश यादव, डालचंद पुसाम, हिमांशु तेवगम, विशाल साहू, झामसिंह गुर्जर आदि उपस्थित रहें।
कांग्रेसियों ने आजादी की लड़ाई लड़ी, एक-एक ईंट जोड़कर किया राष्ट्र का निर्माण
कांग्रेसियों ने आजादी की लड़ाई लड़ी, एक-एक ईंट जोड़कर किया राष्ट्र का निर्माण

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

लता मंगेशकर की हालत में सुधार, मंत्री स्मृति ईरानी ने की अफवाह न फैलाने की अपीलAssembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनावKanimozhi ने जारी किया हिन्दी सब-टाइटल वाला वीडियोIndian Railways News: रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर, 22 महीने बाद लोकल स्पेशल ट्रेनों में इस तारीख से MST होगी बहालएक किस्साः जब बाल ठाकरे ने कह दिया था- मैं महाराष्ट्र का राजा बनूंगा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.