दादा-दादी, नाना-नानी के नाम रहा दिन

दादा-दादी, नाना-नानी के नाम रहा दिन

Sunil Vandewar | Publish: Jan, 22 2019 11:44:03 AM (IST) | Updated: Jan, 22 2019 11:44:04 AM (IST) Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

केंद्रीय विद्यालय लखनादौन में हुआ आयोजन

सिवनी. केंद्रीय विद्यालय लखनादौन में शनिवार को बच्चों के सर्वांगीण विकास एवं उन्हे अपने जीवन में रिश्तों, नातों, सम्बंधों के महत्व को बताने के लिए दादा-दादी, नाना-नानी दिवस मनाया गया। समारोह के मुख्य अतिथि शिव प्रसाद गोल्हानी सेवानिवृत्त शिक्षक एवं विमला स्थापक थे, जो समारोह मे उपस्थित दादा, दादी मे से ही चुने गये थे। समारोह की शुरुआत प्राचार्य बिरेंद्र साहू की उपस्थिति में किया गया।
विद्यार्थियों द्वारा सरस्वती वंदना प्रस्तुत की गई, इसके पश्चात स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम की निरंतरता में प्राचार्य द्वारा आतिथ्य भाषण दिया गया। उदय प्रताप सिंह संगीत शिक्षक की अगुवाई में समस्त सांस्कृतिक कार्यक्रमों को प्रस्तुत किया गया। बच्चों एवं दादा-दादी के रिश्तों को लेकर कक्षा पहली, दूसरी के छात्रों द्वारा संदेशप्रद व आकर्षक अभिनय नृत्य प्रस्तुत किया गया। इसके पश्चात आज के आधुनिक परिवेश मे बदलते रिश्तों पर बहुत ही भावुक एवं मार्मिक लघुनाटिका कक्षा तीसरी, चौथी एवं पांचवी के छात्रों द्वारा प्रस्तुत की गई, जिसको देखकर उपस्थितजनों में से कई के आंखो मे आंसू आ गए। विद्यालय के वरिष्ठ छात्रों द्वारा तुझ में रब दिखता है यारा मैं क्या करुं, गाने पर समूह नृत्य प्रस्तुत किया गया। इसके बाद विद्यालय के संगीत शिक्षक द्वारा दादा, दादी पर रचित समूह गीत की प्रस्तुति हुई जिसने सभी का मन मोह लिया।
सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान राजस्थान का प्रसिद्ध कालबेलिया नृत्य प्रस्तुत किया गया।
कार्यक्रम के सबसे रोचक भाग के अंतर्गत बच्चों के दादा, नाना के मध्य लकी कोर्नर खेल का आयोजन किया गया। जिसमें बेनी सिंह विजेता बने एवं दादी, नानी के मध्य पासिंग द बॉल खेला गया। जिसमें कांटे की टक्कर में चंद्रकाता कहार विजेता बनींद्ध कार्यक्रम के अंतिम पड़ाव में विजेताओं को उनके नाती, पोतों द्वारा शील्ड प्रदान की गई। अतिथियों द्वारा अपने अनुभव को मंच पर सांझा किया गया और मुख्य अतिथि द्वारा आशीष वचन दिया गया। विद्यालय के संगीत शिक्षक उदय प्रताप सिन्ह द्वारा धन्यवाद प्रस्ताव दिया गया। कार्यक्रम का मंच संचालन विद्यालय के शिक्षक भूपेंद्र गोल्हानी द्वारा किया गया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned