बेटी लापता, पिता ने की आत्महत्या, ये थी वजह

पुलिस मामले की जांच कर रही है।

By: mantosh singh

Published: 17 Oct 2019, 12:02 PM IST

सिवनी. केवलारी थाना क्षेत्र के कुएं में शव मिलने के बाद गांव में सनसनी फैल गई। मानसिक रूप से बीमार उक्त व्यक्ति द्वारा आत्महत्या की आशंका जताई जा रही है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
दूसरी ओर ग्रामीणों और पीडि़तों का आरोप है कि तीन माह से लापता किशोरी के मामले में पुलिस ने कार्रवाई में कोताही की है। जिसके कारण मानसिक रूप से परेशान था। पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक का कहना है कि आत्महत्या का कारण अज्ञात है। जांच की जा रही है। गांव में सुरक्षा बल तैनात कर दिया गया है।
आत्महत्या के बाद के बाद पुलिस ने आरोपी के पिता, मां और बहहन को गिरफ्तार कर लिया है। केवलारी थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी किशोरी को गांव के ही प्रदीप कु मार ने उसका लगातार शारीरिक शोषण किया। जिससे किशोरी गर्भवती हो गई। जिसके बाद गांव में सामाजिक पंचायत बुलाई गई जहां पर आरोपी प्रदीप और उसके पिता ने अपनी गलती स्वीकारते हुए लड़की को अपनी बहू बनाने की बात स्वीकार कर ली थी। युवती के परिजनों का आरोप है कि इसके बाद जब घर में कोई और नहीं था तब प्रदीप लड़की को लेकर ११ जुलाई २०१९ को गांव से कहीं चला गया। लड़की की अपने स्तर पर पतासाजी करने पर भी पता नहीं चलने पर लड़की की मां केवलारी थाना पहुंची लेकिन पुलिस ने लड़के वालों के दबाव में उसकी शिकायत दर्ज नहीं की। पीडि़त महिला का कहना है कि वह चार-छह बार थाने गई। लगातार शिकायत दर्ज न होने पर महिला जब २६ अगस्त को गांव के चार-छह लोगों को लेकर थाने गई तो पुलिस ने ३६३ धारा के तहत मामला दर्ज कर लिया। रिपोर्ट होने के बावजूद पुलिस ने गांव में वापस लौट आए प्रदीप से कभी कोई पूछताछ नहीं की। महिला का कहना है कि पुलिस इस मामले में गोलमोल जवाब देती रही। पुलिस ने कभी भी प्रदीप और उसके परिजनों से पूछताछ नहीं की और लड़की को तलाशने की तीन माह तक कोई कोशिश नहीं की। जिसके कारण लड़की का पिता मानसिक रूप से कमजोर होने लगा। बुधवार को उसका शव गांव में एक कुएं में प्राप्त हुआ। लोगों का आरोप है कि पुलिस की उदासीनता के कारण पीडि़त की मौत हुई है।
छावनी बना गांव-
बुधवार को जैसे ही किशोरी के पिता का शव कुएं में मिलने की जानकारी मिली वैसे ही ग्रामीण आक्रोशित हो गए। जिसके बाद आसपास के थानों एवं पुलिस लाइन का बल तैनात किया गया है। गांव को पुलिस ने फिलहाल छावनी में तब्दील कर दिया है। पुलिस अधीक्षक ने जानकारी दी है कि इस मामले में प्रदीप के पिता, बहन और मां को गिरफ्तार कर अदालत में पेश कर जेल भेज दिया गया है।
इनका कहना है-
मामले में एक ऑडियो वायरल होने पर संज्ञान लेते हुए तीन लोगों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश कर जेल भेज दिया गया है। गांव में थानों का बल भेजा गया है। केवलारी पुलिस ने अगर लापरवाही की है तो जांच कर कार्रवाई की जाएगी।
कुमार प्रतीक, एसपी सिवनी

Show More
mantosh singh Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned