गांव-गांव सार्वजनिक सामुदायिक शौचालय बनाकर चालू करना भूल गया जिला पंचायत कार्यालय

जिला पंचायत ने करीब सात करोड़ रुपए से कराए हैं 200 शौचालयों का निर्माण

By: akhilesh thakur

Published: 08 Jun 2021, 09:01 AM IST

सिवनी. महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत जिले में बनाए गए सार्वजनिक सामुदायिक शौचालय बनाकर जिला पंचायत सीइओ कार्यालय उसे चालू कराना भूल गया है। ग्राम पंचायत नगझर में बनाए गए सामुदायिक शौचालय को देखकर कुछ ऐसा ही अनुमान लगाया जा रहा है। उक्त शौचालय पर ताला लगा हुआ है। ऐसे में जिस मंशा से शौचालय का निर्माण किया गया है। वह पूरा होते नहीं दिख रहा है।
जानकारी के अनुसार जिले के आठों विकासखंड में उक्त योजना के तहत 25-25 सार्वजनिक शौचालयों का निर्माण कराया गया है। इन शौचालयों का निर्माण स्वच्छता मिशन के तहत किया गया है, लेकिन इसका संचालन शुरू नहीं होने से यह मिशन पूरा होते नहीं दिख रहा है। जिला पंचायत सीइओ के कार्यालय पर गौर करें तो कुछ स्थानों पर शौचालय का कार्य पूरा होकर जीओ टैग हो चुका है, जबकि कुछ स्थानों पर अब भी निर्माण चल रहा है। बताया जा रहा है कि एक सार्वजनिक शौचालय के निर्माण में करीब ३.६० लाख रुपए खर्च हुए हैं। ऐसे में करीब सात करोड़ से अधिक की राशि से उक्त योजना के तहत शौचालयों का निर्माण कराया गया है। इसका संचालन शुरू नहीं होने से एक ओर जहां जिला पंचायत सीइओ कार्यालय की कार्यशैली पर सवाल खड़़ हो रहे हैं, वहीं दूसरी ओर स्वच्छता मिशन की मंशा पूरी होते नहीं दिख रही है। शासन की मंशा है कि शौचालयों के संचालन की जिम्मेदारी समूहों को दी जाए ताकि समूह आत्मनिर्भर हो सकें।


कहीं शापिंग काम्प्लेक्स का हॉल न हो जाए शौचालयों का
जिला पंचायत सीइओ कार्यालय से बीते कुछ वर्ष पूर्व जिलेभर में बनाए गए शापिंग काम्प्लेक्सों का निर्माण कराया गया था। इसका संचालन लंबे समय तक नहीं हो पाया। ऐसे में अब सार्वजनिक शौचालयों के निर्माण बाद उनका संचालन शुरू नहीं होने से अनुमान लगाया जा रहा है कि लंबे समय तक कहीं इसका हॉल भी वैसे ही न हो जाए।

वर्जन -
जिलेभर से समूह व एनजीओ की जानकारी मंगाई गई है। सारी जानकारी आने के बाद शौचालयों के संचालन के निर्देश दिए जाएंगे।
- पार्थ जायसवाल, सीइओ जिला पंचायत सिवनी

akhilesh thakur Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned