डॉक्टर ने दस्तक अभियान के तहत किया औचक निरीक्षण

डॉक्टर ने दस्तक अभियान के तहत किया औचक निरीक्षण

Santosh Dubey | Updated: 25 Jun 2018, 02:00:00 PM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

ग्राम सोठावारी और गहरानाला के ग्रामीणों को दी स्वास्थ्य संबंधी जानकारी

सिवनी. मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. केसी मेशराम एवं दल द्वारा छपारा विकासखण्ड के ग्राम सोठावारी एवं गहरानाला में दस्तक अभियान के तहत किए जा रहे कार्यों का औचक निरीक्षण किया जिसमें दल ने पाया कि ग्राम सोठावारी में महिला सरपंच कांति भलावी घर में डेढ वर्ष के प्रिंस जो काफी सुस्त और कमजोर दिख रहा था के खून की जाचं करवाई गयी जिसमें उसका हीमोग्लोबिन 7.8 ग्राम पाया गया तथा उसकी मां का खून में हीमोग्लोबिन 8.10 ग्राम पाया गया जिस पर डॉ. केसी मेशराम ने उपस्थित बीएमओ डॉ. बेनर्जी एवं एएनएम भुवनेश्वरी को निर्देश दिए।
उन्होंने तत्काल ब्लड चढ़ाने के लिए जिला चिकित्सालय सिवनी भिजवाए तथा मां को आयरन सुक्रोस के इंजेक्शन भी लगवाए ताकि उनके हीमोग्लोबिन स्तर में सुधार परिलक्षित हो सके साथ ही बाद में स्तर को मेनटेन करने के लिए आयरन फालिक एसिड प्रदाय कर खाने के लिए प्रेरित करे। प्रिस की बड़ी बहन गुडिय़ा को कृमि संक्रमण पाए जाने पर अपने सामने एल्बेन्डाजाल की गोली का सेवन करवाया।
निरीक्षण के दौरान ग्राम में हुए मलेरिया स्प्रे का भी निरीक्षण किया गया। जहां घरों के अंदर कुछ कमरो में स्प्रे लोगों द्वारा नही करवाया गया तथा कुछ कमरों में नीचे की तरफ तथा बाहर की दीवार पर स्प्रे करवाया गया जो उचित न होने के कारण घरवालों को घर के हर कमरों में कोनों में स्प्रे करवाने की सलाह दी गई। ताकि मच्छरों का पूर्ण रूप से सफाया किया जा सके।
ग्राम गहरानाला में रोहित पिता मनोज उम्र तीन माह को टीकाकरण का प्रथम डोज एक माह पश्चात देर से आरंभ किए जाने पर एएनएम एवं सेक्टर सुपरवाइजर को चेतावनी दी गयी। साथ ही यह भी निर्देशित किया गया कि भविष्य के सभी टीके समय पर अनिवार्यत: लगाए जाए। अवलोकन में बच्चें की मां प्रेमबतीबाई भी कमजोर दिखाई दी। इस पर दल द्वारा हीमोग्लोबिन की जांच कराई गई जिसमें उसका हीमोग्लोबिन आठ ग्राम निकला तथा उसे भी आयरन सुक्रोस इंजेक्शन लगाए जाने के लिए बीएमओ एवं कार्यकर्ता को निर्देश दिए गए। भ्रमण के दौरान दल द्वारा टीकाकरण रिकॉर्ड का अवलोकन किया गया जिसमें रिकॉर्ड सही ढंग से भरा नही पाया गया जिसे सुधारने के निर्देश दिए गए। साथ ही परिवार के सदस्यों को ओआरएस घोल बनाना, निमोनिया के लक्षण पहचानना, कुपोषण के लक्षण पहचानना तथा स्तनपान के लाभ और हाथ धोने की विधी का प्रदर्शन कर समझाईश दी गयी।
भ्रमण के दौरान दूरभाष पर विकासखण्ड सिवनी के ग्राम बांकी में बुखार एवं चिकिन गुनिया के मरीजों की सूचना प्राप्त होने पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी दल सहित उस ग्राम के बीमारी प्रभावित टोले में जाकर लोगों से चर्चा की तथा बीमारों के हाल चाल जाने लोगों ने बताया कि ठंड लगकर बुखार आ रहा है जिस पर 14 लोगों की मलेरिया जांच की गयी जिसमें सभी मरीज नेगेटिव पाए गए तथा आवश्यक औषधियां प्रदाय की गई। साथ ही उन्होंने खण्ड चिकित्सा अधिकारी को दूसरे दिन ग्राम में शिविर लगाकर सभी बीमारों की पूरी जांच व उपचार की व्यवस्था किए जाने के निर्देश बीएमओ को दिए ग्राम में स्थिति समान्य है।
निरीक्षण दल में जिला मीडिया अधिकारी एसके भोयर जिला पब्लिक हेल्थ नर्स अधिकारी के कुमरे जिला कार्यक्रम प्रबंधक दिनेश चौहान तथा विकासखण्ड स्तरीय टीम में डॉ. डी बेनर्जी सेक्टर सुपरवाईजर उपाध्याय एवं राजपूत शामिल थे ।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned