छह शिक्षकों पर षणयंत्र के आरोप, जांच में हो रही देरी

छह शिक्षकों पर षणयंत्र के आरोप, जांच में हो रही देरी

Sunil Vandewar | Updated: 04 Jan 2019, 11:53:35 AM (IST) Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

जांच अधिकारी ने कहा चुनावी व्यस्तता से हुई देरी

सिवनी. करीब छह महीने पूर्व एक ऑडियो रिकार्डिंग सामने आने के बाद शिक्षा विभाग में हड़कम्प मच गया था। रिकार्डिंग में प्राचार्य के विरूद्ध छह सरकारी शिक्षकों पर षणयंत्र रचने के आरोप लगे थे, तब से जांच अधर में है। जांच अधिकारी शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय केवलारी के प्राचार्य वायएस बघेल ने कहा कि विधानसभा चुनाव के चलते जांच में देरी हुई है। कहा कि जल्द ही जनपद सदस्य और सरपंच के बयान लेकर जांच प्रतिवेदन जिला शिक्षा अधिकारी को सौंपा जाएगा।
प्राचार्य को अपमानित करने की नियत से प्रधानपाठक सहित ६ शिक्षकों पर षडय़ंत्र रखकर गांव-गांव में पर्चे चस्पा किए जाने का आरोप है। इसका खुलासा एक कॉल रिकार्डिंग से हुआ तो शिक्षा विभाग में हड़कम्प मच गया था। कॉल रिकार्डिंग और सम्बंधित प्राचार्य की शिकायत के आधार पर डीइओ एसपी लाल ने प्रधानपाठक और अन्य पांच शिक्षकों को नोटिस जारी कर जवाब-तलब किया था। इस सम्बंध में प्राचार्य एसएस कुमरे ने उगली थाना में भी शिकायत भी की थी।
गौरतलब है कि केवलारी विकासखण्ड अंतर्गत पांडियाछपारा के शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल प्राचार्य शिवराज सिंह कुमरे के द्वारा डीइओ एसपी को कॉल रिकार्डिंग के साथ लिखित शिकायत की गई है। जिसमें बात-चीत से पर्चे चस्पा करने वालों के नाम का खुलासा हो रहा है। कॉल रिकार्डिंग में प्राचार्य और एक शासकीय शिक्षक के बीच संवाद हो रहा है।
प्राचार्य ने डीइओ, पुलिस से की थी शिकायत -
प्राचार्य एसएस कुमरे का कहना है कि जानकारी प्राप्त हुई है कि उनके विरुद्ध प्रधानपाठक सहित ६ शासकीय कर्मियों ने मिलकर षडय़ंत्र रचते हुए योजना बनाकर छवि को धूमिल करने के उद्देश्य से फर्जी व झूठी बातें पर्चे में लिखवाकर गांव-गांव एवं पांडियाछपारा स्कूल के आसपास क्षेत्रों में चिपकाया था। आरोप लगाते बताया कि ०५ अगस्त की रात्रि में चारपहिया वाहन से जाकर गांव-गांव पर्चे चस्पा किए गए हैं। इसका प्रमाण कॉल रिकार्डिंग में दिया गया है। इस षडय़ंत्र में शामिल सभी शासकीय सेवकों के विरुद्ध कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई किए जाने की मांग की है।
इनको जारी हुए थे डीइओ से नोटिस -
डीइओ एसपी लाल के हस्ताक्षर से ०६ शासकीय सेवकों (प्रधानपाठक, शिक्षक) को नोटिस जारी किए गए थे। इनमें शासकीय माध्यमिक शाला पांडियाछपारा के प्रधानपाठक सीएस कर्वेती एवं सहायक शिक्षक एसएल राहंगडाले। शासकीय माध्यमिक शाला पांडीवाड़ा के सहायक अध्यापक योगेश मानेश्वर, सहायक अध्यापक घनश्याम देशमुख, सहायक अध्यापक अगघन पंचेश्वर। शासकीय माध्यमिक शाला गुरेरामाल के सहायक अध्यापक हिम्मत सिंह देशमुख के नाम नोटिस जारी हुआ था।

जल्द सौंपी जाएगी रिपोर्ट -
जांच प्रकरण में जनपद सदस्य, सरपंच के बयान बाकी हैं, शिक्षकों के बयान ले लिए गए हैं। चुनाव होने के कारण जांच में देरी हुई है। जल्द ही जांच पूरी करते हुए रिपोर्ट डीइओ के सुपुर्द की जाएगी।
वायएस बघेल, जांच अधिकारी व प्रचार्य केवलारी
स्मरण पत्र लिखा है -
पांडियाछपारा उमावि विद्यालय के प्राचार्य की शिकायत पर जो छह शिक्षकों पर आरोप हैं, उस प्रकरण की जांच जल्द पूर्ण करने जांच अधिकारी को स्मरण पत्र भेजा गया है। उनसे जांच रिपोर्ट देने को कहा गया है।
हीरालाल सनाढय़, सतर्कता शाखा प्रभारी, डीइओ सिवनी

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned