त्योहार पर दिखा कोरोना और महंगाई का असर

सनातन संस्कृति का रक्षाबंधन त्योहार

By: sunil vanderwar

Published: 21 Aug 2021, 08:49 PM IST

सिवनी. हर साल से अलग इस वर्ष रक्षाबंधन पर हालात नजार आ रहे हैं। एक तरफ कोरोना का साया है तो दूसरी तरफ महंगाई की मार बाजार पर नजर आ रही है। हालांकि रक्षाबंधन की जरूरी खरीदी करने लोग बाजार पहुंच ही रहे हैं।
कोरोनाकाल के कारण लोगों का रोजगार अब धीरे-धीरे पटरी पर आ रहा है, ऐसे में त्योहार को लेकर खासा उत्साह नहीं है। वहीं महंगाई ने भी लोगों के उत्साह को फीका कर दिया है। हालांकि रक्षाबंधन पर्व से ठीक एक दिन पहले नगर के दोनों बस स्टैण्डों में सुबह से देर शाम तक यात्रियों की खासी तादाद देखने को मिली। वहीं रुपए निकालने के लिए एटीएम में भी लम्बी कतारें नजर आई तो कई जगहों के एटीएम में रुपए खत्म होने पर एटीएम में रुपए डाले जाने तक लोग शटर खुलने के इंतजार में घण्टों खड़े नजर आए।
राखी पर्व के चलते शनिवार को नगर के सरकारी व प्रायवेट बस स्टैण्ड में अपने-अपने घर जाने के लिए यात्रियों की पूरी दिन भीड़ बनी रही। वहीं बसों में क्षमता से अधिक सवारी भरकर बसों का परिवहन हुआ। इसके साथ ही सड़कों में भीड़ अधिक होने पर यातायात व्यवस्था बनाने में पुलिस को भी काफी मशक्कत करनी पड़ी। नगर के बस स्टैण्ड क्षेत्र स्थित एटीएम में रुपए निकालने वालों की लम्बी कतार पूरे दिन बनी रही। एटीएम से रुपए खत्म होने पर जब रुपए डाले जाने का काम चल रहा था तब भी बंद शटर के सामने बड़ी संख्या में लोग रुपए निकालने के लिए एटीएम के बाहर खड़े रहे। इसी प्रकार बुधवारी बाजार, शंकर मढिय़ा, शुक्रवारी, बारापत्थर, सोमवारी चौक, भैरोगंज, छिंदवाड़ा चौक समेत अनेक राखी दुकानों में खरीदारों की भीड़ बनी रही।
देर शाम तक बाजारों में बहनों ने खरीदी राखी
भाई-बहन के पवित्र त्योहार रक्षाबंधन के अवसर पर नगर के कमानिया गेट, पुराना बस स्टैण्ड, रेलवे फाटक समेत अन्य दुकानों में राखी खरीदने बहनें देर शाम तक पहुंची। दुकानदारों ने बताया कि यहां आसपास के गांवों में पहाड़ी, बंदम, छीतापार, बिनेकी, बरेला, गोरखपुर आदि गांव के ग्रामीण राखी, रूमाल, मिठाई आदि खरीदारी करने बड़ी संख्या में पहुंचते हैं। शनिवार को यहां सुबह से रात तक दुकानों में भीड़भाड़ बनी रही। माही सेन, विराट सेन, सोहन आदि ने बताया कि इस बार आकर्षक रंग बिरंगी राखी बाजार में आई हैं।
त्योहार की खरीदी से बाजार रहे गुलजार
भाई-बहन के पवित्र प्रेम के त्योहार रक्षाबंधन पर्व के अवसर पर रविवार को बहनें अपने भाइयों की कलाई पर राखी बांधेंगी। इस पर्व को लेकर बाजार में खासी रौनक है। शनिवार को साप्ताहिक के साथ त्योहारी बाजार होने से बड़ी तादाद में लोग पहुंचे। खैरापलारी बस स्टैंड, दुर्गा चौक, बाजार चौक व जगह पर रंग-बिरंगी राखियों की दुकानें सजी हैं। इन दुकानों में महिलाओं, युवतियों की भारी भीड़ है। दुर्गा चौक में राखी की दुकान के साथ कपड़े, फल, मिठाई की दुकानों में भी खासी भीड़ देखने को मिल रही है।
रक्षाबंधन त्योहार को लेकर शनिवार को सुबह से ही दुकानों में भारी भीड़ देखने को मिल रही है। बाजार में खासी रौनक देखी गई। दुकानों में एक से बढ़कर एक डिज़ाइनों की राखी, रेशम के धागे हैं। दुकानदारों ने बताया कि स्टोन निर्मित राखी की मांग अधिक देखी जा रही है।
बैंक व एटीएम बंद रहने से हुई समस्या
रक्षाबंधन जैसे त्योहार के मौके पर एटीएम खाली रहने से आमजनों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। लोग रुपए निकालने की उम्मीद से एटीएम पहुंच रहे हैं, लेकिन उनको मायूस होकर लौटना पड़ रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार खैरापलारी 50 गांव को जोडऩे वाला कृषि प्रधान क्षेत्र के साथ-साथ व्यापारिक केंद्र भी है। यहां प्रतिदिन 30 से 40 यात्री वाहनों का आवागमन होता है एवं क्षेत्र के किसान, व्यापारी, मजदूर, कर्मचारी सभी का लेनदेन पलारी क्षेत्र के बैंकों में होता है। किंतु चौथा शनिवार होने के कारण बैंक बंद रहे और ठीक त्यौहार के समय ही एटीएम खाली पड़े हुए हैं। पलारी में एटीएम उपलब्ध हैं। लेकिन सेवाएं आए दिन वाधित रहती हैं। स्थानीय लोगों ने बताया कि महीने में कुछ दिन ही यहां राशि उपलब्ध रहती है, बाकी समय एटीएम खाली रहते हैं, इससे लोग परेशान दिखे। बैंक बंद होने से अधिकारी-कर्मचारी व्यापारी, मजदूर सभी को दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

sunil vanderwar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned