जिले में बंद को लेकर रहा व्यापक असर

Santosh Dubey | Publish: Sep, 06 2018 12:20:19 PM (IST) | Updated: Sep, 06 2018 12:31:26 PM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

दुकानें बंद, बसों का संचालन भी कम होने से यात्री हुए परेशान

सिवनी. सरकार द्वारा कोर्ट के फैसले को पलटते हुए एससी-एसटी एक्ट में संशोधन कर मूल स्वरूप में बहाल करने की मांग को लेकर सवर्णों द्वारा बंद का असर जिले में व्यापक रूप से देखने को मिला। हालांकि कही भी किसी भी प्रकार की कोई अप्रिय घटना देखने को नहीं मिली। जिले भर के व्यापारियों ने अपने-अपने प्रतिष्ठानों को स्वेच्छा से बंद करके बंद का समर्थन दिया। वहीं कुछ पैट्रोल-डीजल पम्प बंद रहे।
जिले में बंद को लेकर एक दिन पहले कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सामाजिक संगठन की बैठक हुई थी। जिसमें गुरुवार को भारत बंद के समर्थन में जिले में होने वाले बंद को लेकर प्रशासन ने समझाइश दी थी। इसके साथ ही केवलारी, बरघाट, घंसौर, कुरई, कहानी, धनौरा, लखनादौन समेत सभी विकासखण्ड व अनेक ग्राम क्षेत्रों में सामाजिक संगठन व व्यापारियों ने बैठक आयोजित कर अपने-अपने प्रतिष्ठानों को शांति पूर्वक बंद किए जाने का निर्णय लिया था जिसके चलते गुरुवार को जिले भर में शांति पूर्ण बंद रहा।
यात्री हुए परेशान
शहर के सरकारी व प्रायवेट बस स्टैण्ड से प्रतिदिन औसत तीन सौ बसों का संचालन होता है। यहां जबलपुर, नागपुर, बालाघाट, मंडला, छिंदवाड़ा, अमरवाड़ा, बंडोल, बखारी समेत अनेक प्रदेश, जिलों व ग्राम क्षेत्रों से बड़ी संख्या में बसें आती-जाती हैं। गुरुवार को सुबह से ही बसों के अत्यधिक कम संचालन होने के कारण बस स्टैण्ड में अपने घरों गंतव्यों की ओर जाने के लिए बड़ी संख्या में बसों के इंतचार में यात्री नजर आए। कई यात्री सुबह से शाम तक यहां खड़े रहे। शुक्रवारी चौक में जहां मजदूर बड़ी संख्या में मजदूरी में जाने, काम की तलाश में खड़े रहते हैं बंद के चलते यहां भी सन्नाटा पसरा रहा। दुकानों, मकानों के निर्माण कार्य के लिए मजदूर नहीं मिले।
शहर के मुख्य मार्गों में सुबह से ही अनेक सामाजिक संगठन शांति पूर्वक निकले। सुबह जहां भी दुकानें खुली पाई गई लोगों ने बंद किए जाने की मांग की। जिसके चलते सुबह लगभग 11 बजे तक छोटी-बड़ी सभी दुकानें बंद रही। दुकानों के बंद रहने से सड़कों व बस स्टैण्ड समेत बाजार क्षेत्रों व भीड़भाड़ इलाकों में सन्नाटा पसरा रहा। जिले के अनेक प्रायवेट स्कूलों में भी छुट्टी कर दी गई। स्कूली यूनीफार्म पहनकर स्कूल पहुंचे विद्यार्थी स्कूल के बंद होने पर वापस घर लौट आए। इसके साथ ही शहर में सुबह से बारिश होने के कारण बंद का असर यहां कुछ ज्यादा ही देखने को मिला।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned