scriptfarmer news seoni | सात केन्द्र के 2089 किसान 146600 क्विंटल धान बेचने से रह गए वंचित | Patrika News

सात केन्द्र के 2089 किसान 146600 क्विंटल धान बेचने से रह गए वंचित

जिला पंचायत सदस्य ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर पोर्टल खुलवाने की मांग की

जिले के अन्य 114 केन्द्रों पर भी हजारों की संख्यों में किसान नहीं बेच पाएं हैं धान

सिवनी

Published: January 25, 2022 08:06:39 pm

सिवनी. जिला प्रशासन की लचर व्यवस्था व मौसम के बदले रूख ने किसानों को परेशानी में डाल दिया है। बड़ी संख्या में पंजीकृत किसान अपना धान नहीं बेच पाएं हैं। किसानों ने जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर सोमवार तक पोर्टल खोलने का समय दिया है। यदि पोर्टल नहीं खुला तो किसान जिलेभर में सडक़ पर उतरकर आंदोलन करेंगे। आकड़ों पर गौर करें तो केवल सात केन्द्र पर 2089 किसान से 146600 क्विंटल धान खरीदा जाना शेष है, जबकि जिले में कुल 121 केन्द्र हैं। अन्य केन्द्रों पर भी पंजीकृत किसान धान नहीं बेच पाएं हैं।
सात केन्द्र के 2089 किसान 146600 क्विंटल धान बेचने से रह गए वंचित
सात केन्द्र के 2089 किसान 146600 क्विंटल धान बेचने से रह गए वंचित

किसानों का कहना है कि जिले के 121 केन्द्रों के करीब 10 हजार किसान अभी धान बेचने से वंचित रह गए हैं। जिले के सात केन्द्रों के आकड़ों पर नजर डाले तो धान बेचने से वंचित किसानों की संख्या दो हजार के पार पहुंच गई है। इसकी जानकारी के बाद क्षेत्र क्रमांक दो की जिला पंचायत सदस्य सरिता घनश्याम सनोडिय़ा ने कलेक्टर डॉ. राहुल हरिदास फटिंग को ज्ञापन सौंपकर किसानों का धान खरीदने के लिए पोर्टल खुलवाएं जाने की बात कही है। उन्होंने सात केन्द्रों पर बचे किसानों की संख्या और उनके द्वारा बेचे जाने वाले धान की जानकारी भी क्विंटल में दी है। कहा है कि किसानों में असंतोष है। यदि किसानों का धान नहीं लिया गया तो किसान सडक़ पर उतरकर आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे। किसान अब भी केन्द्रों पर धान रखकर बैठे हुए है। कुछ किसानों के धान बारदाने में है तो कई के खुले में पड़े हुए है।
फैक्ट फाइल
खरीदी केन्द्र का नाम - किसान की संख्या - अनुमानित मात्रा
चावड़ी 400 28000 क्विंटल
सीलादेही 29 3600 क्विंटल
कारीरात 390 30000 क्विंटल
मड़वा 480 29000 क्विंटल
लखनवाड़ा 140 11000 क्विंटल
गोपालगंज 400 30000 क्विंटल
उड़ेपानी 250 15000 क्विंटल
कुल 2089 146600 क्विंटल
धान तुलाई नहीं होने से हजारों किसान निराश

कलेक्टर को पंजीकृत किसानों की धान तुलाई एवं पोर्टल पर चढ़ाने के लिए आवश्यक कार्रवाई कराने की पहल करनी चाहिए। धान तुलाई नहीं होने से हजारों किसान निराश है। अब भी किसान केन्द्रों पर बैठे हैं। ज्यादा देर हुई तो जिलेभर में आंदोलन खड़ा हो जाएगा।
- सरिता घनश्याम सनोडिया, जिला पंचायत सदस्य क्षेत्र क्रमांक दो
बिना लड़े किसानों की नहीं होगी धान की खरीदी

बिना लड़े किसानों की धान की खरीदी नहीं होगी। इसलिए किसानों को एक साथ होकर धरना-प्रदर्शन करना होगा। यदि ऐसा नहीं हुआ तो सरकार उनकी सुनने वाली नहीं है। हम किसानों के साथ हैं।
- रघुवीर पटेल, मध्य भारत के प्रगतिशील किसान।


अंतिम दिन भी केन्द्र पर छाया रहा अव्यवस्था का आलम, दोपहर में बंद हो गया पोर्टल
सिवनी. धान उपार्जन केन्द्र गोपालगंज के केंद्र प्रभारी रामनाथ डेहरिया ने बताया कि 391 किसान बचे हैं, जिनसे खरीदी की जानी है। उक्त केन्द्र पर अंतिम दिवस गुरुवार को बारदाने आए, लेकिन वे भी आधे ही थे। इससे जिन किसानों के धान बिकने थे। उनको भी पूरे बारदाने नहीं मिल पाए। किसानों ने तौलाई व भाराई के लिए पैसे भी दिए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मस्जिद: नौ तालों में कैद वजूखाना, दो शिफ्टों में निगरानी कर रहे CRPF जवान, महंतो का नया दावापाकिस्तान व चीन बॉडर पर S-400 मिसाइल तैनात करेगा भारत, जानिए क्या है इसकी खासियतप्रयागराज में फिर से दिखा लाशों का अंबार, कोरोना काल से भयावह दृश्य, दूर-दूर तक दफ़नाए गए शव31 साल बाद जेल से छूटेगा राजीव गांधी का हत्यारा, सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेशगुजरातः चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, हार्दिक पटेल ने दिया इस्तीफा, BJP में शामिल होने की चर्चाकान्स फिल्म फेस्टिवल में राजस्थान का जलवा, सीएम गहलोत ने जताई खुशीऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का बड़ा फैसला, ज्ञानवापी सर्वे मामले को टेक ओवर करेगा बोर्डआतंकियों के निशाने पर RSS मुख्यालय, रेकी करने वाले जैश ए मोहम्मद के कश्मीरी आतंकी को ATS ने किया गिरफ्तार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.