scriptसिवनी के पांच आरोपियों ने कराया था उपलब्ध, नागपुर के पांच ने की थी हत्या | Patrika News
सिवनी

सिवनी के पांच आरोपियों ने कराया था उपलब्ध, नागपुर के पांच ने की थी हत्या

– नागपुर के सभी आरोपी फरार, सभी पर १०-१० हजार रुपए का इनाम घोषित
– सिवनी के गिरफ्तार तीन पर रासुका की कार्रवाई, दो पर प्रक्रियाधीन
– जिले के अलग-अलग थाना व पुलिस चौकी क्षेत्र में मिले थे ६५ मवेशियों के शव

सिवनीJun 24, 2024 / 06:31 pm

akhilesh thakur

आइजी ने प्रेस कान्फ्रेंस में किया खुलासा

आइजी ने प्रेस कान्फ्रेंस में किया खुलासा

सिवनी. आईजी जबलपुर अनिल सिंह कुशवाहा रविवार को पुलिस कंट्रोल रूम में मवेशियों की हत्या कर फेंके गए शव के मामले में मीडिया से मुखातिब हुए। उन्होंने कहा कि जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्र में कुल 65 शव मिले थे। इनमें जिले के पांच आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उन पर मवेशियों को उपलब्ध कराने का आरोप है। इनमें तीन पर रासुका की कार्रवाई की गई है। दो पर रासुका की कार्रवाई चल रही है। महाराष्ट्र के नागपुर के पांच आरोपी है, जिन पर मवेशियों की हत्या करने और उनको खरीदने के लिए पैसे देने के आरोप है। ये सभी पुलिस की पकड़ से दूर है। आईजी का कहना है कि पुलिस टीम उनके घर दबिश देने गई थी। सभी घर पर ताला मारकर फरार है। सभी आरोपियों पर पुलिस अधीक्षक ने 10-10 हजार रुपए के इनाम घोषित किए हैं।
आईजी कुशवाहा की माने तो धूमा थाना क्षेत्र के ग्राम गरघटिया चिन्टा नाला जामुनझिर के पास १९ (बुधवार) को जंगल में 28 मवेशी मृत मिले थे। धनौरा थाना, पुलिस चौकी सुनवारा क्षेत्र के ग्राम पिण्डरई वैनगंगा नदी के कुरकु घाट पर 22 मवेशी। उसी दिन केवलारी थाना, पुलिस चौकी क्षेत्र के वैनगंगा नदी देवघाट में सात मवेशी मृत मिले।

21 (शुक्रवार) को धनौरा थाना क्षेत्र के ग्राम कड़वे थावरी के पास भसूड़ा नाले की झोड़ी में आठ मवेशी मृत मिले। सभी का पोस्टमार्टम कराया गया। सभी थानों में संबंधित धाराओ में प्रकरण दर्ज किया गया। विवेचना के दौरान 153 ए भादवि का इजाफा किया गया।
बताया कि पुलिस ने उसी दिन 75५ संदिग्धों को उठाकर पूछताछ की। सभी के खिलाफ प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की। केवलारी थाना, पुलिस चौकी पलारी क्षेत्र के ग्राम ग्वारी निवासी वाहिद खान पिता वाजिद खान (27) व शादाब खान पिता इसराइल खान (27)। धूमा थाना क्षेत्र के ग्राम गरघटिया निवासी संतोष कवरेती पिता बृजलाल कवरेती (40) व ग्राम पुतर्रा निवासी रामदास पिता महेंद्र उर्फ कारू उइके (30) एवं केवलारी थाना पुलिस चौकी पलारी क्षेत्र के ग्राम खैरी निवासी इरफान मोहम्मद पिता फैज मोहम्मद (58) को घटना की जानकारी के दूसरे दिन गिरफ्तार कर लिया गया। बताया कि तीन के खिलाफ रासुका की कार्रवाई हो चुकी है। संतोष व रामदास के खिलाफ रासुका की कार्रवाई की जा रही है।

आईजी ने बताया कि गिरफ्तार पांचों में वाहिद मास्टरमाइंड ने है। उसने पुलिस को बताया कि नागपुर निवासी इसरार अंसारी से घटना के पूर्व 30 हजार रुपए मवेशी खरीदने के लिए पलारी में लिया था। उक्त साथियों के साथ मिलकर मवेशियों को खरीदकर उपलब्ध कराया।
आईजी ने बताया कि आरोपियों ने स्वीकार किया है कि 17 (सोमवार) को सभी मवेशियों की अलग-अलग थाना क्षेत्रों में हत्या की गई थी। उनकी हत्या महाराष्ट्र नागपुर के मौमिनपुरा से आए आरोपी वसिउल्लाह अब्दुल पिता लतीफ अंसारी, मोहम्मद वकील अहमद पिता वली अहमद, मोईनुद्दीन पिता मोहम्मद इसराइल, कलंदर अंसारी पिता मंजूर अंसारी व मुईन अंसारी ने की है। बताया कि सभी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए एक टीम नागपुर गई थी। आरोपी घर पर ताला मारकर फरार है। टीम उनकी गिरफ्तारी के लिए लगातार प्रयास कर रही है। सभी आरोपियों पर पूर्व में ही पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह ने 10-10 हजार रुपए के इनाम घोषित कर दिए हैं।
चार पुलिसकर्मी लाइन हाजिर, टीआई के भूमिका की होगी जांच-
आईजी कुशवाहा ने बताया कि इस मामले में एक पुलिस चौकी प्रभारी सहित चार पुलिसकर्मियों को लाइन अटैच किया गया है। इसमें सुनवारा पुलिस चौकी प्रभारी एएसआई रूपेश राहंगडाले, धनौरा थाना एएसआई कमल शंकर तुमराम, पुलिस चौकी पलारी प्रधान आरक्षक मतीन खान व शाहीद मंसूर है। एक सवाल के जवाब में आईजी ने कहा कि टीआई की इस मामले में क्या भूमिका हो सकती है इसकी जांच कराई जाएगी। यदि वे इस मामले में संलिप्त पाए जाएंगे तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
कहीं पूर्व की घटना की अनदेखी तो नहीं पड़ी भारी-
प्रेसवार्ता के दौरान आईजी कुशवाहा से एक वर्ष पूर्व अरी व कुरई थाना क्षेत्र में मवेशियों के शव व सिर मिलने के संबंध में किए गए सवाल पर उनका कहना था कि इसकी जानकारी नहीं है। ऐसे में यह सवाल खड़ा हो रहा है कि कहीं पूर्व की इस घटना की अनदेखी किया जाना पुलिस पर भारी तो नहीं पड़ गया। इस घटना के बाद से जिला पुलिस बैकफुट पर नजर आ रही है। पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह को

Hindi News/ Seoni / सिवनी के पांच आरोपियों ने कराया था उपलब्ध, नागपुर के पांच ने की थी हत्या

ट्रेंडिंग वीडियो