scriptFour line spot including Dhanaura station in-charge, cow smugglers had | धनौरा थाना प्रभारी सहित चार लाइन हाजिर, गौ-तस्करों को संरक्षण देना पड़ा महंगा | Patrika News

धनौरा थाना प्रभारी सहित चार लाइन हाजिर, गौ-तस्करों को संरक्षण देना पड़ा महंगा

थाने में गौ-तस्करों ने बजरंग दल के कार्यकर्ताओं से की थी झूमा-झपटी, आरोप

सिवनी

Published: November 28, 2021 10:40:07 am

सिवनी. पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक ने धनौरा थाना प्रभारी सहित चार पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर किया है। उन पर गौ-तस्करों को संरक्षण देने का आरोप है। थाना परिसर में गौ-तस्करी की शिकायत करने वाले बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के साथ तस्करों ने झूमा-झपटी की थी। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने इसकी शिकायत पुलिस अधीक्षक से किया था। उनकी शिकायत के बाद यह कार्रवाई हुई है।
जानकारी के अनुसार बीते दिवस बजरंग दल के कार्यकर्ताओं धनौरा में गौ-तस्करी की सूचना मिलने पर पुलिस टीम के साथ घटनास्थल पर पहुंचे थे। उसी समय बाजार ठेकेदार ने पुलिस के सामने ही बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट किया था। इसके बाद बजरंग दल के कार्यकर्ता थाने पहुंचे और गौ-तस्करी करने वालों के खिलाफ नामजद कार्रवाई किए जाने की बात कही। पुलिस अज्ञात के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कर रही थी। उस समय थाने में मौजूद बाजार ठेकेदार एवं गौ-तस्करों ने वहां भी उनसे झूमा झपटी किया। दोनों जगह पुलिस मूकदर्शक बनी रही। धनौरा पुलिस पर तस्करों से साठगांठ के आरोप के होने की शिकायत भी किए जाने की बात बताई जा रही है। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं का कहना है कि गौ-तस्कर एक खेत में २४ नग मवेशियों को बांध कर रखे थे। इस मामले में पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक ने थाना प्रभारी एसआई एनके धुर्वे, एएसआई रूपेश राहंगडाले, प्रधान आरक्षक रघुवीर इनवाती, आरक्षक अरविंद इनवाती एवं आरक्षक प्रदीप उइके को लाइन हाजिर किया है।
Superintendent of Police will do video call, will listen to your complaint
Superintendent of Police will do video call, will listen to your complaint
बाक्स -
एएसआई राहंगडाले बीते माह कान्हीवाड़ा से हुआ था निलंबित
एएसआई रूपेश राहंगडाले को बीते माह पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक ने कान्हीवाड़ा थाना पर तैनाती के समय शिकायत मिलने पर निलंबित किया था। उसके खिलाफ शराब दुकान में चोरी के मामले में शिकायत करने वाले पक्ष के लोगों के साथ मारपीट किए जाने के आरोप लगे थे। इसके पूर्व राहंगडाले के खिलाफ पलारी पुलिस चौकी में तैनाती के समय भी कार्रवाई हुई थी। दूसरे जिले में तैनाती के समय भी उसके खिलाफ कार्रवाई और अन्य जांच के मामले होने की बात बताई जा रही है। खास है कि इतनी शिकायत, कार्रवाई व जांच के मामले होने के बाद भी पुलिस अधीक्षक राहंगडाले की तैनाती तुरंत किसी दूसरे थाने में कैसे हो जाती है। यह जांच का विषय है। एसपी ने ४८ दिन पूर्व राहंगडाले को कान्हीवाड़ा थाने में तैनाती के दौरान निलंबित किया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

UP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावCorona Cases In India: देश में 24 घंटे में कोरोना के 2.68 लाख से ज्यादा केस आए सामने, जानिए क्या है मौत का आंकड़ाJob Reservation: हरियाणा के युवाओं को निजी क्षेत्र की नौकरियों में 75 फीसदी आरक्षण आज से लागूअब हर साल 16 जनवरी को मनाया जाएगा National Start-up DayArmy Day 2022: क्‍यों मनाया जाता है सेना दिवस, जानिए महत्व और इतिहास से जुड़े रोचक तथ्यभीम आर्मी प्रमुख चन्द्र शेखर ने अखिलेश यादव पर बोला हमला, मुलाकात के बाद आजाद निराशछत्तीसगढ़ में तेजी से बढ़ रहे कोरोना से मौत के आंकड़े, 24 घंटे में 5 मरीजों की मौत, 6153 नए संक्रमित मिले, सबसे ज्यादा पॉजिटिविटी रेट दुर्ग मेंयूपी विधानसभा चुनाव 2022 पहले चरण का नामांकन शुरू कैराना से खुला खाता, भाजपा के लिए सीटें बचाना है चुनौती
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.