सरकार हो जाओ खबरदार, शुरु करो पुरानी पेंशन, एनएमओपीएस ने किया प्रदर्शन

Sunil Vandewar

Publish: Feb, 18 2019 11:45:53 AM (IST)

Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

सिवनी. नेशनल मूवमेंट फॉर ओल्ड पेंशन स्कीम संगठन के द्वारा पुरानी पेंशन बहाली के लिए प्रांतीय अध्यक्ष परमानंद डेहरिया के नेतृत्व में रविवार को कचहरी चौक पर धरना प्रदर्शन किया गया। जिसमें समस्त विभागों के अधिकारी-कर्मचारियों ने कचहरी चौक में धरना देकर रैली निकाली व प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। धरना देते कर्मियों ने सरकार को खबरदार करते पेंशन शुरु करने को कहा है।
जिला सहायक प्रभारी इश्तियाक अहमद बेग ने बताया कि भारत सरकार ने सन 2004 में अध्यादेश लाकर पुरानी पेंशन स्कीम बंद कर दिया है, जिसके कारण भारत के 60 लाख केंद्र व राज्य कर्मचारी अधिकारी पुरानी पेंशन स्कीम पाने से वंचित हो गए हैं। भारत के समस्त केंद्रीय एवं राज्य कर्मचारी अधिकारी में असंतोष व निराशा है। मध्यप्रदेश शासन ने 2005 में पुरानी पेंशन स्कीम बंद कर दिया है जिससे 6.5 लाख राज्य कर्मचारी, अधिकारी पुरानी पेंशन स्कीम के लाभ से वंचित हैं। मध्य प्रदेश शासन ने न्यू पेंशन स्कीम सन 2005 से लागू की है जिसमें कई विसंगति हैं। इसका लाभ मध्यप्रदेश राज्य के अधिकारी कर्मचारियों को नियुक्ति तिथि से नहीं मिला है।
कहा कि सर्वोच्च न्यायालय ने कर्मचारी, अधिकारी के संबंध में टिप्पणी की है उनकी पुरानी पेंशन स्कीम परिवार पेंशन भारत एवं राज्य सरकारों को बहाल किए जाना चाहिए जो इनका हक है। यह सरकार की सामाजिक जिम्मेदारी है और कर्मचारी, अधिकारियों के बुढ़ापे का सहारा है।
तहसीलदार प्रभात मिश्रा के माध्यम से शासन-प्रशासन को भेजे ज्ञापन में कहा कि न्यू पेंशन स्कीम पात्रता वाले केंद्र एवं राज्य के समस्त पेंशन विहीन अधिकारी, कर्मचारी नेशनल मूवमेंट फॉर ओल्ड पेंशन स्कीम के माध्यम से आपके समक्ष पुरानी पेंशन स्कीम बहाली का विनम्रता पूर्वक प्रस्ताव रखते हैं, ताकि कर्मचारी, अधिकारी की सेवानिवृत्ति उपरांत इनका शेष जीवन एवं परिवार का भरण-पोषण सम्मान पूर्वक हो सके।
शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि -
इसके साथ ही जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी गई। सभी ने कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि वे सब जवान भी पेंशन योजना से वंचित हैं, उन्हें भी पेंशन प्राप्त नहीं होती हैं। इनके लिए भी ज्ञापन दिया गया और राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री से आग्रह कर कहा गया कि सच्ची श्रद्धांजलि तब होगी कि इनकी पुरानी पेंशन तत्काल बहाल की जाए जो इनके परिवार के हित में होगी यही इन शहीदों की सच्ची श्रद्धांजलि होगी भारत के करोड़ों देशवासियों की भावना है।
इसी तारतम्य धरना स्थल पर पुरानी कर्मचारी संगठन में आकर एनएमओपीएस को समर्थन दिया। जिसमें प्रदीप राय जिला अध्यक्ष अधिकारी कर्मचारी महासंघ, सुरेश दुबे जिला अध्यक्ष शिक्षक कांग्रेस, अनिल शर्मा, संतकुमार मर्सकोले, एसके सोलंकी, बलराम नामदेव, लिपिक वर्गीय कर्मचारी संघ प्रांतीय महासचिव एमआर फारुख खान, एनएमओपीएस नरेंद्र ठाकुर अध्यक्ष वन कर्मचारी संघ सिवनी, विपनेश जैन जिला अध्यक्ष राज्य अध्यापक संघ, शकील अहमद अंसारी एवं कपिल बघेल जिला अध्यक्ष आजाद अध्यापक शिक्षक संघ, राजेश कुमार दुबे अध्यक्ष पॉलिटेक्निक एनपीएस कर्मचारी संघ, एनएमओपीएस जिला अध्यक्ष कपिल सनोडिया, गजेंद्र बघेल, गुरुप्रसाद जंघेला, बृजमोहन सनोडिया, मदनसिंह अय्यर, रोहित शुक्ला, अतुल ठाकुर, उमेश सनोडिया, संतोष बढ़कर, सुनील राय, सीएम राहंगडाले, चिंतामन सनोडिया, कमलेश परिहार, चित्तौड़ सिंह कुशराम, अजय गजभिए, मिर्जा जाहिद बैग, उस्मान खान, अब्दुल मालिक खान, सारिक खान, देवेश हनमंत, मुकेश नेमा, पंकज तिवारी, मुकेश नामदेव, मनीष जंघेला, शमशुन निशा खान, सुनंदा ठाकरे, शबाना खान, रश्मि नामदेव, संगीता ठाकरे, सरोज मरावी, सुषमा यादव, रेखा, एस खान, रंजना चौहान आदि सम्मिलित थे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned