किसी का आधा, किसी का पूरे माह का काटा वेतन

किसी का आधा, किसी का पूरे माह का काटा वेतन

Sunil Vandewar | Updated: 25 May 2019, 12:11:40 PM (IST) Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

जिले की परियोजना के केन्द्रों में निरीक्षण पर मिल रही हकीकत

सिवनी. जिले की सभी 11 परियोजना अंतर्गत शहरी व ग्रामीण आंगनबाड़ी केन्द्रों के संचालन का समय वर्तमान में सुबह ०९ बजे से से दोपहर 01 बजे तक निर्धारित है। जबकि इस निर्धारित समय में ज्यादातर आंगनबाड़ी केन्द्रों में न तो ताला खुल रहा है और न ही तय समय तक केन्द्र खुले रखे जा रहे हैं। समय से पहले ही ताला जड़ दिया जाता है। इतना ही नहीं व्यवस्था व आदेशों के पालन में भी लापरवाही बरती जा रही है। इस स्थिति में शासन की बच्चों के पोषण व शिक्षा के अलावा महिलाओं के स्वास्थ्य सम्बंधी महत्वपूर्ण कार्य योजना प्रभावित हो रही हैं। आलम ये है कि पूरे-पूरे महीने का मानदेय काटने के बाद भी कार्यकर्ता गंभीर नजर नहीं आ रहे हैं।
सिवनी परियोजना के 11 केन्द्रों का काटा वेतन -
महिला एवं बाल विकास सिवनी शहरी परियोजना अधिकारी एवं सेक्टर पर्यवेक्षक के द्वारा माह अपै्रल 2018 से माह मार्च 2019 तक कार्य क्षेत्र की आंगनबाडिय़ों का निरीक्षण किया गया। इस दौरान उन्हें कार्यकर्ताओं के द्वारा कार्यों में अनियमितता की स्थिति देखने को मिली। तब आंगनबाड़ी केन्द्रों में कार्यरत कार्यकर्ताओं का मानदेय काटने की कार्रवाई की गई। इनमें राजपूत कॉलोनी स्थित आंगनबाड़ी केन्द्र की कार्यकर्ता का 02 दिवस का वेतन काटा गया। गोंडी मोहल्ला आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का 03 दिवस, मझार मोहल्ला सोनी का 03 दिवस, केके कॉलोनी का ०२ दिवस, इन्द्रा नगर का 01 दिवस, झिरिया मोहल्ला का 03 दिवस, बाबा तिवारी केन्द्र का 01 दिवस, नीलम लॉज के पास स्थित आंगनबाड़ी का 03 दिवस, सुनारी मोहल्ला स्थित आंगनबाड़ी का 01 दिवस, सोनी मझार मोहल्ला का 01 दिवस, कुंजड़ी मोहल्ला आंगनबाड़ी केन्द्र की कार्यकर्ता का 03 दिवस का मानदेय काटकर ई-भुगतान किया गया है।
लखनादौन परियोजना का 26 केन्द्रों का काटा वेतन -
कार्यालय परियोजना अधिकारी एकीक1त बाल विकास परियोजना लखनादौन के परियोजना अधिकारी एवं सेक्टर पर्यवेक्षक के निरीक्षण में अनियमितता पाए जाने पर अपै्रल २०१८ से मार्च २०१९ तक आंगनबाड़ी केन्द्रों में अनियमितता पाए जाने पर मानदेय काटने की कार्रवाई की गई है। इनमें आंगनबाड़ी केन्द्र सांगई की कार्यकर्ता द्वारा अनियमितता बरते जाने पर जून २०१८ का 30 दिवस का मानदेय काटा गया है। इसी क्रम में ग्राम चिपकना स्थित केन्द्र कार्यकर्ता का 03 दिवस, पालका का 03 दिवस, मढ़ी का 01 दिवस, कसई का 05 दिवस, करनपुर-२ का ०५ दिवस, गंगई टोला ०५ दिवस, सांगई ०३ दिवस, मोहगांव गूजर ०२ दिवस, रामनगरी ०१ दिवस, घोघरी ०७ दिवस, पथरिया ०३ दिवस, अगस्त 2018 में कुड़ारी का 08 दिवस, खमरिया काछी-2 का 02 दिवस, करनकोल 01 दिवस, घोघरी 01 दिवस, खूबी-१ का 01 दिवस, पाथकाठी-1 का 02 दिवस, चिपकना केन्द्र का 03 दिवस, पालका 08 दिवस, अगस्त 2018 का मढ़ी केन्द्र का 15 दिवस, ज्वारा-१ का 08 दिवस, सितम्बर 2018 में सांगई का 30 दिवस, नवलगांव 03 दिवस, सांगई का अक्टूबर 2018 का 31 दिवस एवं गौराबीबी ग्राम के आंगनबाड़ी केन्द्र कार्यकर्ता की अनियमितता पर अक्टूबर 2018 का 11 दिवस का वेतन काटा गया है।

निर्देशों के पालन में न हो लापरवाही -
जिले की सभी परियोजना के अंतर्गत संचालित आंगनबाड़ी केन्द्र की कार्यकर्ता, सहायिका को बैठकों के दौरान बार-बार निर्धारित समय तक केन्द्र संचालित करने, योजनाओं के क्रियान्वयन की समझाइस देते हैं, निरीक्षण में जिनकी लापरवाही पाई जाती है, उन पर कार्रवाई भी की जा रही है।
लक्ष्मी धुर्वे, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास सिवनी

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned