यहां बसते हैं चमगादड़, जानिए ये पेड़ों पर उल्टे लटकते क्यों हैं...

Sunil Vandewar

Updated: 05 Mar 2019, 12:24:41 PM (IST)

Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

सिवनी. सिवनी शहर में पोस्ट ऑफिस चौक से भैरोगंज जाने वाले रास्ते के किनारे पेड़ों पर चमगादड़ का बसेरा है, यहां के दर्जन भर पेड़ों की हर डाली पर चमगादड़ उल्टे लटकते नजर आते हैं, इन्हीं पेड़ों के नीचे से आम रास्ता भी है। चमगादड़ को देखने लोग भी ठहर जाते हैं और कुछ पल के लिए यही सोचते हैं कि ये पक्षी उल्टा लटकता क्यों हैï? तो यहां आपकी जिझासा को
चमगादड़ आकाश में उडऩे वाला एक स्तनधारी प्राणी है, जो अपनी ०१ हजार से भी अधिक प्रजातियों के साथ स्तनधारियों के दूसरे सबसे बड़े कुल का निर्माण करता है। ये पूर्ण रूप से निशाचर होते हैं और पेड़ों की डाली अथवा अँधेरी गुफाओं के अन्दर उल्टा लटके रहते हैं।
इनको दो समूहों मे विभाजित किया जाता है, पहला समूह फलभक्षी बड़े चमगादड़ का होता है, जो देख कर और सूंघ कर अपना भोजन ढूंढते हैं जबकि दूसरा समूह् कीटभक्षी छोटे चमगादड़ का होता है, जो प्रतिध्वनि द्वारा स्थिति निर्धारण विधि के द्वारा अपना भोजन तलाशते हैं। यह एकमात्र ऐसा स्तनधारी है जो उड़ सकता है तथा रात में भी उड़ सकता है। इसके अग्रबाहु पंख मे परिवर्तित हो गए हैं जो देखने में झिल्ली (पेटाजियम) के समान लगते हैं। त्वचा की यह झिल्ली गरदन से लेकर हाथ की अंगुलियों तथा शरीर के पाश्र्वभाग से होती हुई पूँछ तक चली जाती है एवं पंख का निर्माण करती है। पिछली टाँगें पतली, छोटी और नखयुक्त होती हैं। इसके शरीर पर बाल कम ही होते हैं। सिर के दोनों ओर बड़े.बड़े कर्णपल्लव पाये जाते हैं। चमगादड़ के पंखो का आकार 2.9 सेण्टीमीटर से लेकर 1500 सेटीमीटर तक तथा इनका वजन 2 ग्राम से 1200 ग्राम तक होता है।
इसलिए उल्टा लटकते हैं ये पक्षी -
चमगादड़ उलटे लटकते हैं क्यों कि उल्टे लटके रहने से वे बड़ी आसानी से उड़ान भर सकते हैं। पक्षियों की तरह वे ज़मीन से उड़ान नहीं भर पाते, क्योंकि उनके पंख भरपूर उठान नहीं देते और उनके पिछले पैर इतने छोटे और अविकसित होते हैं कि वो दौड़ कर गति नहीं पकड़ पाते। चमगादड़ आमतौर पर अंधेरी गुफाओं में दिनभर आराम करते हैं, सोते हैं और रात को ही निकलते हैं। ये सोते हुए गिर क्यों नहीं जाते इसका कारण ये है कि चमगादड़ के पैरों की नसें इस तरह व्यवस्थित हैं, कि उनका वजऩ ही उनके पंजों को मज़बूती के साथ पकडऩे में मदद करता है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned