scriptInstructions given to take quick action during the disaster by forming | विकासखण्डवार रेस्क्यू टीम बनाकर आपदा के दौरान त्वरित कार्रवाई करने के दिए निर्देश | Patrika News

विकासखण्डवार रेस्क्यू टीम बनाकर आपदा के दौरान त्वरित कार्रवाई करने के दिए निर्देश

बाढ़ राहत कार्य की मॉकड्रिल का अवलोकन करने दलसागर तालाब पहुंचे कलेक्टर

सिवनी

Updated: July 29, 2021 09:59:32 am

सिवनी. शहर के दल सागर तालाब में बुधवार को बाढ़ बचाव राहत कार्यों का मॉकड्रिल हुआ। कलेक्टर डॉ. राहुल हरिदास फटिंग ने होमगार्ड विभाग द्वारा जिला मुख्यालय के दलसागर तालाब में आयोजित उक्त मॉकड्रिल का अवलोकन किया। उन्होंने बाढ़ राहत बचाव गतिविधियों में उपलब्ध संसाधनों के उपयोग तथा रेस्क्यू व्यक्ति को प्रदाय प्राथमिक उपचार गतिविधि के सम्बंध में कमांडेड होम गार्ड से जानकारी प्राप्त कर आवश्यक निर्देश दिए।
कलेक्टर ने निर्देशित किया कि जिला मुख्यालय के साथ ही विकासखंडस्तर में भी रेस्क्यू टीम पर्याप्त बचाव संसाधनों के साथ तैनात रहे। बाढ़ आपदा नियंत्रण कंट्रोल रूम अथवा अन्य स्त्रोतों से प्राप्त जानकारी पर उक्त दल तत्काल घटना स्थल पर पहुंचकर बचाव राहत कार्रवाई करें। उन्होंने मानव जीवन रक्षा के लिए रेस्क्यू टीम के प्रत्येक सदस्य का बेहतर प्रशिक्षण सुनिश्चित करते हुए प्रत्येक टीम के पास आवश्यक संसाधन उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने रेस्क्यू उपरांत प्रभावित व्यक्तियों को तत्काल जैसे सीपीआर तथा प्राथमिक उपचार उपलब्ध कराने हेतु आवश्यक व्यवस्था एवं प्रशिक्षण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने होमगार्ड अधिकारियों को केवलारी एवं छपारा के डूब प्रभावी क्षेत्र में त्वरित राहत पहुंचाने हेतु मोटर बोट सहित अन्य संसाधन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान अपर कलेक्टर सुनीता खण्डाइत, जिला सेनानी होमगार्ड स्नेहलता पाठक सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे।
विकासखण्डवार रेस्क्यू टीम बनाकर आपदा के दौरान त्वरित कार्रवाई करने के दिए निर्देश
विकासखण्डवार रेस्क्यू टीम बनाकर आपदा के दौरान त्वरित कार्रवाई करने के दिए निर्देश
पानी में डूबे व्यक्ति को सीपीआर प्रक्रिया से बचाए
किसी व्यक्ति के पानी में डूब जाने, सड़क दुर्घटना होने पर विक्टिम के मस्तिष्क और हृदय के उतकों को बचाएं रखने के लिए रक्त और ऑक्सीजन का प्रवाह बनाए रखने के लिए सीपीआर (कॉर्डियों पल्मोनरी रीसिटेशन) एक आपातकालीन चिकित्सा प्रक्रिया है। यह प्रक्रिया तब अपनाई जाती है जब हार्ट अचानक काम करना या धड़कना बंद कर देता है। विक्टिम को साफ स्थान पर लेटाकर, उसके के बीच की हड्डी (स्टर्नम) जहां खत्म होती है, वहां 30 बार हलेलियों के सहारे दबाकर एवं दो बार माउथ टू आउथ ब्रीथ दिया जाता है। माउथ टू माउथ ब्रीथ के लिए एक साफ रूमाल या कपड़े का इस्तेमाल करना होता है। जब तक चिकित्सा सुविधा उपलब्ध न हो जब तक यह प्रक्रिया लगातार करनी चाहिए। इसके अलावा ड्राय रेस्क्यू कर डूबते हुए व्यक्ति को बचाया जा सकता है। इसके लिए तैरना नहीं जानने वाले व्यक्ति को डूबते हुए व्यक्ति की मदद पानी के अंदर प्रवेश के बिना बांस या रस्सी, बॉटल के माध्यम से बने राफ्ट, साड़ी या दुपट्टे का उपयोग कर किया जा सकता है।

तालाबों को क्षमता से अधिक नहीं भरने दें, सुनिश्चित करें पानी निकासी की व्यवस्था
कलेक्ट्रेट परिसर स्थित सभाकक्ष में बुधवार को कलेक्टर डॉ. राहुल हरिदास फटिंग की अध्यक्षता में बुधवार को आपदा प्रबंधन बैठक हुई। उन्होंने अतिवर्षा बाढ़ राहत कार्यों की तैयारियों की विभागवार समीक्षा कर आवश्यक निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने जल संसाधन विभाग के अधिकारियों से भीमगढ़ डेम सहित सभी छोटे-बड़े टैंक क्षमता एवं वर्तमान जलभराव की स्थिति के संबंध में जानकारी प्राप्त कर निर्देशित किया कि सुरक्षित क्षमता तक ही टैंको बांधो को भरा जाए। इनसे पानी छोडऩे के पूर्व इसकी सूचना प्रभावित क्षेत्रों को प्रसारित करने के निर्देश दिए गए। उन्होंने सभी सड़क निर्माण विभाग के अधिकारियों को डूब प्रभावी पुल पुलिया पर बेरिकेटिंग की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर ने बचाव राहत कार्यों की समीक्षा करते हुए होमगार्ड के पास उपलब्ध संसाधनों की जानकारी प्राप्त करते हुए आवश्यकता अनुसार रेस्क्यू टीम का गठन कर उनके प्रशिक्षण करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने त्वरित राहत बचाव कार्यों के लिए ग्रामवार तैराकों एवं वालिंटियर की सूची तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को सभी क्षेत्रों में मौसमी बीमारियों की रोकथाम के लिए दवा एवं एंटी स्नैक वैलम की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्य नगरपालिका अधिकारी सिवनी को भी दलसागर, बुधवारी एवं मठ तालाब की क्षमता अनुरूप ही जलभरव करने के निर्देश दिए। जल भराव वाले चिन्हांकित क्षेत्रों पर जल निकासी की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने सम्पूर्ण नगरीय क्षेत्र पर फांगिंग के भी निर्देश दिए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

NEET UG PG Counselling 2021: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- नीट में OBC आरक्षण देने का फैसला सही, सामाजिक न्‍याय के लिए आरक्षण जरूरीभारत ने ओडिशा तट से ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफलतापूर्वक किया परीक्षणCorona cases in India: कोरोना ने तोड़ा 8 महीने का रिकॉर्ड; 24 घंटे में 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस, मौत का आंकड़ा 450 के पारटोंगा ज्वालामुखी विस्फोट का भारत पर भी पड़ सकता है प्रभाव! जानिए सबसे पहले कहां दिखा असरCorona Vaccination: देश में 8 टीकों को मंजूरी के बावजूद लगाए जा रहे सिर्फ 3, जानें बाकी का क्या है स्टेटसगुम हो गए सैंकड़ों गांव, हैरत में पड़ी सरकार ने शुरु की ढूंढने की कवायदAmazon Great Republic Day Sale का आखिरी दिन आज, स्मार्टफोन समेत इन प्रोडक्ट्स पर मिलेगा 50 प्रतिशत से ज्यादा डिस्काउंटहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.