scriptअंतर्राज्यीय बदमाश गिरफ्तार, डूंडासिवनी पुलिस को मिली सफलता | Patrika News
सिवनी

अंतर्राज्यीय बदमाश गिरफ्तार, डूंडासिवनी पुलिस को मिली सफलता

– राजस्थान राज्य के जिला भरतपुर से पकड़ाया, डूंडासिवनी थाना प्रभारी के नेतृत्व में गई थी टीम
– केवलारी व डूंडासिवनी थाना में बदमाशा के खिलाफ दर्ज है प्रकरण

सिवनीMay 30, 2024 / 08:09 pm

akhilesh thakur

प्रेसवार्ता।

प्रेसवार्ता।

सिवनी. डूंडासिवनी पुलिस ने 85 हजार के इनामी बदमाश रामसहाय उर्फ गुर्जर को राजस्थान से गिरफ्तार किया है। उसके पास से पुलिस ने एक देशी कट्टा व कारतूस बरामद किया है। इसकी जानकारी पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह ने बुधवार को पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित एक प्रेसवार्ता के दौरान दी है।

बताया कि डूंडासिवनी थाना में पदस्थ प्रधान आरक्षक राकेश सिंह ठाकुर की हत्या करने के बाद से फरार 30 हजार के ईनामी बदमाश रामगणेश गुर्जर निवासी ग्राम सिरसोदा तहसील थाना गोहद जिला भिंड की तलाश पुलिस कर रही है। उसी की तलाश में पुलिस राजस्थान के भरतपुर जिले में गई थी। उक्त जिले के ग्राम कनावर अड्डा के जंगल क्षेत्र में पुलिस ने दबिश दी जहां रामसहाय उर्फ करिया गुर्जर पिता रघुनाथ (35) पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पूछताछ के दौरान प्रधान आरक्षक की हत्या में रामगणेश का सलिंप्त होना नहीं पाया गया।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि रामसहाय के खिलाफ केवलारी व डूंडासिवनी थाना में चोरी का मामला दर्ज है। इसके अलावा उस पर श्योपुर, ग्वालियर, शिवपुरी जिले में अपहरण, लूट, हत्या, बलात्कार, फिरौती मांगना, नकबजनी, बाल अपराध/पाक्सो एक्ट, अमानत में खयानत, अवैधानिक कब्जा करना तथा डकैती जैसे मामले दर्ज है। उस पर कुल 85 हजार रुपए का इनाम था।

बदमाश रामसहाय के खिलाफ थाना केवलारी में अपराध क्रमांक 23/2023 धारा 395 भादवि के अतंर्गत 10 हजार रुपए का इनामी तथा थाना डूंडासिवनी अंतर्गत 23/2024 धारा 457, 380 नकबजनी के प्रकरण में भी 10 हजार रुपए का ईनामी घोषित है। वह उक्त मामले में फरार चल रहा था। फरारी के दौरान बदमाश अपने अतर्राज्यीय संगठित गिरोह के साथियों के साथ मिलकर 11 जनवरी 2024 की रात डूंडासिवनी थाना क्षेत्र के महाराणाप्रताप नगर कबीर वार्ड में लाखों रुपए कीमत के सोने-चांदी का जेवरात की नकबजनी की घटना कारित की थी। प्रार्थी वैभवसिंह ठाकुर ने उक्त प्रकरण की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

स्थानीय अपराधियों से सांठ-गांठ कर देते थे घटना को अंजाम-

प्रधान आरक्षक की हत्याकांड का मुख्य आरोपी कुख्यात फरार बदमाश रामगणेश गुर्जर पर पुलिस महानिरीक्षक जबलपुर ने 30 हजार रुपए का इनाम घोषित किया है। उस पर भिंड, मुरैना व ग्वालियर जिले के अलग-अलग थानों में मारपीट, चोरी, नकबजनी, लूट, डकैती, हत्या, हत्या के प्रयास के अनेक मामले दर्ज है। उस पर भिंड जिले से 12 हजार रुपए, ग्वालियर जिले से 10 हजार रुपए का ईनाम घोषित है। फरारी के दौरान आरोपी जिस क्षेत्र में घटना को अंजाम देते थे, वहां के स्थानीय अपराधियों से सांठ-गांठ कर लेते थे। रामसहाय की गिरफ्तारी के बाद पुलिस उसे अभिरक्षा में लेकर फरार चल रहे रामगणेश के बारे में पूछताछ कर रही है। उम्मीद है जल्द ही उसको भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

राजस्थान राज्य के धौलपुर निवासी अंतर्राज्यीय इनामिया बदमाश रामसहाय को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी डूंडासिवनी किशोर वामनकर, प्र.आर. मुकेश गोडाने, व नवीन तिवारी, आरक्षक धनराज, सायबर सेल के आरक्षक अजय बघेल तथा राजस्थान पुलिस के जिला भरतपुर के स्पेशल आपरेशन ग्रुप के निरीक्षक मुकेश सिंह एवं उनकी टीम की विशेष भूमिका रही।

Hindi News/ Seoni / अंतर्राज्यीय बदमाश गिरफ्तार, डूंडासिवनी पुलिस को मिली सफलता

ट्रेंडिंग वीडियो