दर्जनों चेहरे टिकट की फिराक में

Akhilesh Kumar | Publish: Sep, 05 2018 11:40:56 AM (IST) | Updated: Sep, 05 2018 12:59:29 PM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और गोंगपा कर रही भाजपा को टक्कर देने की तैयारी

अखिलेश ठाकुर सिवनी. विधानसभा चुनाव की सरगर्मी तेज हो गई है। सुबह से देर शाम तक भावी उम्मीदवार मैदान में नजर आ रहे हैं। मैदान में परिश्रम करने के साथ ही वे सम्बंधित दल में टिकट पाने के लिए भी जोर लगा रहे हैं। टिकट का फैसला उनके पक्ष में हो वे इसके लिए हर हथकंडा अपना रहे हैं। सिवनी व केवलारी विधानसभा में विभिन्न दलों से अभी दर्जनों चेहरे मैदान में नजर आ रहे हैं। हालांकि भाजपा व कांग्रेस के जिलाध्यक्षों का कहना है कि सर्वे चल रहा है। इसके बाद ही प्रत्याशी की घोषणा होगी।
कौन और क्यों उम्मीद लगाए हैं :
सिवनी और केवलारी विधानसभा क्षेत्र में भाजपा से टिकट पाने की लालसा लेकर तैयारी में लगे उम्मीदवार प्रदेश और केन्द्र सरकार की जनहितैषी नीतियों और उनका द्वारा किए गए विकास कार्यों के कारण जीत की उम्मीद लगाए हैं। कांग्रेस उम्मीदवार जनविरोधी नीतियां और किसानों की समस्या, बढ़ती महंगाई, अपराध के मामले को लेकर जीत की आस लिए मैदान में डटे है। आदिवासी समाज के मामले को लेकर मुखर रहने वाली गोंगपा भी इसी आधार पर मैदान में है। आप, बसपा व अन्य निर्दल उम्मीदवार सरकार की जनहितैषी नीतियों को लेकर मैदान में हैं।
सिवनी विधानसभा क्षेत्र में पिछली बार निर्दल उम्मीदवार को जीत हासिल हुई थी। इस बार वे भाजपा में शामिल होकर जीत की लालसा पाले हैं। बीते माह मेडिकल कॉलेज की घोषणा को वे अपना बड़ा कार्य मानते हैं। इसके अलावा सड़क, बिजली, पानी सहित अन्य कराए गए विकास कार्यों के साथ भाजपा के लिए नया चेहरा साबित होंगे। कांग्रेस से हारे प्रत्याशी इस बार दावा नहीं कर रहे हैं, जो दावा कर रहे हैं वे किसान की समस्याओं को लेकर आगे बढ़ रहे हैं। केवलारी विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस के भावी उम्मीदवार व विधायक रजनीश सिंह ठाकुर छपारा को नगर पंचायत बनवाने का दंभ भरने के साथ ही सड़क की जाल बिछाकर विकास करने की बात को लेकर जनता के बीच डटे हैं। भाजपा के संभावित उम्मीदवार सरकार की योजनाओं के सहारे जीतना चाहते हैं। भाजपा यहां इस बार नए चहरे मैदान में उतारेगी। भाजपा से हारे उम्मीदवार दावा नहीं कर रहे हैं।

सिवनी विधानसभा के दांवेदार
भाजपा - दिनेश राय मुनमुन, नरेश दिवाकर, राजेश त्रिवेदी, ज्ञानचंद सनोडिया।
कांग्रेस - नेहा सिंह, मोहन चंदेल, दिलीप बघेल, रामायण सिंह सनोडिया, सोहेल पाशा, पदम सनोडिया, राजा बघेल।
आप - रघुवीर सिंह सनोडिया।
गोंगपा - इस्माइल खान, जय प्रसाद कुमरे, सदन सिंह बरकड़े।
बसपा - रवि मेश्राम, उमाकांत बंदेवार।

केवलारी विधानसभा के दांवेदार
भाजपा - राकेश पाल सिंह, नीता पटेरिया, गजानंद पंचेश्वर, डॉ. सुनील राय, देवी सिंह बघेल।
कांग्रेस - रजनीश सिंह ठाकुर।
आप - मो. तारिख खान, श्रवण कपूर।
गोंगपा - प्रीत सिंह उइके, राजेंद्र राय, सतीश नाग।
बसपा - उमाकांत बंदेवार।

राजनीति में पढ़े लिखे लोगों को आना चाहिए। युवा वर्गों को राजनीति में ज्यादा सक्रिय होना चाहिए। जिले में कृषि क्षेत्र में बढ़ावा मिले। इसके लिए यहां कृषि संबंधित उद्योग लगने चाहिए।
सरोज तिवारी, बुजुर्ग सिवनी
समय के अनुसार तकनीकी व चिकित्सा शिक्षा संस्थान की जिले में जरूरत है। इस दिशा में जनप्रतिनिधियों व राजनीति पार्टियों के पदाधिकारियों को आगे आकर काम करना होगा। जिस कॉलेज व संस्था को मंजूरी मिल भी रही है, उसका निर्माण व संचालन समय से होना चाहिए। जो पार्टी या नेता इस दिशा में बेहतर काम करेगा जनता भी उसे चुनाव के समय अपना आशीर्वाद देने में पीछे नहीं हटेगी।
डॉ. भूपेंद्र मिश्रा, युवा सिवनी
विधानसभा चुनाव नजदीक हैं और विधानसभा के पूर्व विधायक व राजनीतिक दल सक्रिय हो गए हैं। हर पांच साल में चुनावी वादे किए जाते हैं, लेकिन उनको पूरा होने जनता को हर बार इंतजार ही करना पड़ता है। इस चुनाव में हम ऐसा जनप्रतिनिधि चुनेंगे जो वादों को पूरा भी करे।
देवी सिंह बघेल, वरिष्ठ नागरिक
हमारे क्षेत्र में विकास की गति धीमी है, सड़कें खराब हैं, उद्योग धंधे न होने से लोग पलायन कर रहे हैं, ग्रामीण क्षेत्रों में मूलभूत सुविधाएं अब भी बेहतर नहीं है। इस चुनाव में हमें ऐसा प्रतिनिधि चुनना है, जो हमारी जरूरतों को प्राथमिकता दे।
पवन बघेल, युवा केवलारी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned