कोरोना के कारण एमपी बोर्ड परीक्षा निरस्त, मूल्यांकन भी टला

दसवीं का अंग्रेजी, बारहवीं के उर्दू विषय की हुई परीक्षा

सिवनी. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने एहतियातन माध्यमिक शिक्षा मण्डल भोपाल द्वारा बोर्ड परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। इसके साथ ही मूल्यांकन कार्य को भी आगामी आदेश तक के लिए टाल दिया गया है।
जिले के ८० केन्द्रों पर गुरुवार को हाइस्कूल (१०वीं) के अंग्रेजी सामान्य एवं हायरसेकेण्डरी (१२वीं) के उर्दू विशिष्ट विषय की परीक्षा आयोजित हुई। सभी केन्द्रों पर चाक-चौबंद सुरक्षा इंतजाम रहे, सतत निगरानी के कारण किसी भी केन्द्र में नकल प्रकरण शून्य रहा।
जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के परीक्षा कक्ष प्रभारी हेमराज कंगाले ने बताया कि १०वीं के अंग्रेजी सामान्य विषय की परीक्षा ८० केन्द्रों पर हुई। इसमें कुल दर्ज २१२३७ में से २०५२१ ने परीक्षा दी, शेष ७१६ की अनुपस्थिति रही। १२वीं के उर्दू विशिष्ट विषय की परीक्षा २ केन्द्रों पर हुई, इसमें कुल दर्ज ७५ में से ७४ परीक्षार्थियों ने प्रश्नपत्र हल किया, १ की अनुपस्थिति रही।
जिला शिक्षा अधिकारी जीएस बघेल, सहायक संचालक एसएस कुमरे, शिक्षक एसके राहंगडाले, सुधीरसिंह ठाकुर, विपनेश जैन, सुनील तिवारी, एस. खान व अन्य के द्वारा शासकीय उमावि गोरखपुर, उमावि बरौदामाल, उमावि घूरवाड़ा, उमावि कन्या धूमा, उमावि बालक धूमा, उमावि नांगनदेवरी परीक्षा केन्द्र का निरीक्षण किया गया।
बोर्ड के आगामी प्रश्नपत्र की परीक्षा एवं मूल्यांकन कार्य निरस्त

नोवेल कोरेना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए मण्डल द्वारा आयोजित हाइस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी परीक्षा एवं अन्य मुख्य परीक्षाएं वर्ष २०२० स्थगित करने का आदेश मण्डल सचिव द्वारा जारी किया गया है। कहा गया है कि माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा आयोजित हो रही १०वीं एवं १२वीं की परीक्षा के आगामी दिनों में होने वाले प्रश्नपत्रों की परीक्षा को ३१ तक के लिए तत्काल प्रभाव से स्थगित कर दिया गया है। इसके साथ ही मण्डल द्वारा परीक्षाओं के प्रथम चरण की अमूल्यांकित उत्तरपुस्तिकाओं का २१ मार्च से प्रारंभ होने वाला मूल्यांकन कार्य भी ३१ मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया है। उक्त जानकारी समन्वयक संस्था मूल्यांकन केन्द्र के परीक्षा प्रभारी पीपी पाण्डे द्वारा दी गई है। माध्यमिक शिक्षा मण्डल की सचिव के जारी आदेश में जिले के सम्बंधित थाना प्रभारियों को कहा गया है कि आगामी आदेश जारी होने तक गोपनीय सामग्री (प्रश्नपत्र) थाना में ही सुरक्षित रखी जाए। किसी भी दशा में गोपनीय सामग्री थाने से निकालने न दी जाए।
निजी स्कूलों ने भी टाला परिणाम -
जिले के अशासकीय शैक्षणिक संस्थाओं में स्थानीय कक्षाओं की परीक्षा आयोजित होने के उपरांत परिणाम जारी किया जाना था। जिसको भी आगामी आदेश तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

Corona virus
sunil vanderwar Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned