यहां एक दिन में हुआ 2156 मामलों का निराकरण

यहां एक दिन में हुआ 2156 मामलों का निराकरण

akhilesh thakur | Publish: Sep, 09 2018 11:44:33 AM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

नेशनल लोक अदालत, दो करोड़ 45 लाख 70 हजार 673 रुपए का संव्यवहार

सिवनी. राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देश पर जिला न्यायालय सिवनी, तहसील न्यायालय लखनादौन एवं घंसौर में नेशनल लोक अदालत का आयोजन हुआ। इसमें 2156 लोग लाभांवित हुए, जिनसे दो करोड़ ४५ लाख ७० हजार 673 रुपए की राशि का संव्यवहार हुआ।
जिला एवं सत्र न्यायाधीश सिवनी डॉ. एसके मिश्र के निर्देशन में सिवनी, लखनादौन एवं घंसौर में आयोजित की गई लोक अदालत में दीवानी एवं दांडिक न्यायालयों की खंडपीठें गठित की गई है। कुल 16 खंडपीठों में समझौता योग्य आपराधिक प्रकरण 282 रखे गए। इनमें दो प्रकरण निराकृत किए गए। धारा 138 चैक बाउंस के 266 प्रकरण रखे गए, जिनमें 13 प्रकरण निराकृत किए गए। १२ लाख ७४ हजार ६५० रुपए की समझौता राशि का आदेश पारित हुआ। मोटर दुर्घटना क्षतिपूर्ति दावा के 605 प्रकरण रखे गए, जिनमें 29 प्रकरण निराकृत हुए एवं 45 लाख 19 हजार रुपए राशि का अवार्ड पारित हुआ। अन्य सिविल प्रकरण 241 रखे गए, जिनमें चार प्रकरणों का निराकरण किया गया। विद्युत अधिनियम के 505 प्रकरण रखे गण्, जिनमें 36 प्रकरण निराकृत हुए एवं ४२ लाख 4500 रुपए समझौता राशि का आदेश पारित हुआ। पारिवारिक विवाद से संबंधित 168 प्रकरण रखे गए थे, जिनमें 12 प्रकरण निराकृत हुए। इसमें 29 लाख 75 हजार रुपए का समझौता राशि का आदेश पारित हुआ। अन्य प्रकृति के 52 प्रकरण रखे गए, जिसमें तीन प्रकरणों का निराकरण हुआ। इसी प्रकार पूर्व वाद प्रकरणों में बैंक वसूली के 546 प्रकरण रखे गए, जिनमें 140 प्रकरणों में आपसी समझौतें से 18 लाख 12 हजार 591 रुपए की राशि का वसूली आदेश पारित हुआ। विद्युत अधिनियम के पूर्व वाद प्रकरण 2618 रखे गए, जिनमें 1757 प्रकरण निराकृत हुए एवं एक करोड़ ३१ लाख 96 हजार 498 रुपए की समझौता राशि का आदेष पारित हुआ। नगरपालिका से संबंधित जलकर के 870 प्रकरण रखे गए, जिनमें 76 प्रकरण निराकृत हुए एवं तीन लाख 68 हजार 434 रुपए की जलकर की राशि वसूल की गई। उपरोक्त सभी मामलों का निराकरण पक्षकारों की आपसी सहमति से हुआ। जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने पक्षकारों को आपसी रजामंदी के द्वारा मामलों के निराकरण के लिए बधाई दी, वहीं जिला मुख्यालय सिवनी में जिला एवं सत्र न्यायाधीश, डॉ. एसके मिश्र, प्रधान न्यायाधीश कुटुम्ब न्यायालय, डॉ. ओपी तिवारी, विषेेष न्यायाधीष असिता श्रीवास्तव, प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश संजीव श्रीवास्तव, द्वितीय अपर जिला एवं न्यायाधीश कैलाश शुक्ल तथा लखनादौन मुख्यालय पर प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश मोहित दीवान लखनादौन ने अपनी-अपनी खंडपीठों की अध्यक्षता की।
जिले के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट संतोशी वासनिक, न्यायिक मजिस्ट्रेटगण सुमन उइके, कल्पना मरावी, सुश्री स्नेहा सिंह, आदिल अहमद खान, राधा उइके तथा तहसील न्यायालय लखनादौन में अरविंद तेकाम, सचिन ज्योतिषी, ज्योति सिंह तेकाम एवं घंसौर में रूपेन्द्र सिंह मरावी द्वारा नेशनल लोक अदालत में प्रकरणों का निराकरण किया गया। साथ ही नेशनल लोक अदालत के शुभारंभ कार्यक्रम में कलेक्टर गोपालचंद्र डाड, पुलिस अधीक्षक विवेकराज सिंह, जिला अधिक्ता संघ अध्यक्ष रूद्रदेव राहंगडाले, जिला विधिक सहायता अधिकारी विजय कुमार खोब्रागड़े एवं समस्त स्टॉफ उपस्थित रहे।

Ad Block is Banned