संसाधनों की कमी के बावजूद नहीं हारे हौसला, अब हो रही है तारीफ

संसाधनों की कमी के बावजूद नहीं हारे हौसला, अब हो रही है तारीफ

Sunil Vandewar | Updated: 26 Oct 2018, 11:42:22 AM (IST) Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

शिक्षक, प्राचार्य की मेहनत लाई रंग, गांव से देश तक हो रहा नाम

सिवनी. कुछ अच्छा कर गुजरने का जोश और जज्बा हो तो बदलाव लाना, लक्ष्य को पाना मुश्किल भी नहीं है। ऐसी ही सोच लेकर वर्षों से सरकारी ढर्रे पर चल रहे स्कूल की तस्वीर बदलने, बच्चों को अच्छी तालीम के साथ हुनर में आगे बढ़ाने का जज्बा लेकर काम करने वाले शिक्षक और प्राचार्य की मेहनत का असर नजर आने लगा है। इसी का परिणाम है कि एक तरफ गांव के बच्चे राष्ट्रीय ्रप्रतियोगिता तक पहुंच रहे हैं। तो दूसरी खेल-खेल में ही बच्चे शिक्षा में निपुण हो रहे हैं। ऐसे समर्पित शिक्षकों, प्राचार्यों से दूसरों को प्रेरित करने शिक्षा विभाग द्वारा गुरुवार को बैठक के दौरान शिक्षक, प्राचार्य को सम्मानित किया।
जनपद पंचायत सिवनी के सभाकक्ष में जिले के हाइस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूल प्राचार्यों की बैठक रखी गई थी। इस बैठक में करीब २१५ प्राचार्य, शिक्षकों की उपस्थिति रही। बैठक के दौरान जिला शिक्षा अधिकारी एसपी लाल, एडीपीसी महेश गौतम के द्वारा श्रेष्ठ कार्य करने वाले एक प्राचार्य एवं दो शिक्षकों को सम्मानित किया गया।
एडीपीसी द्वारा बताया गया कि शासकीय हाइस्कूल खैरी के प्राचार्य डीएल तिवारी द्वारा कार्य क्षेत्र में स्वास्थ्य व स्वच्छता पर विशेष ध्यान देकर जनजागरुकता के प्रयास किए गए हैं। जिससे प्रेरित होकर विद्यार्थी भी विद्यालय एवं ग्राम की स्वच्छता में सहभागी बन रहे हैं।
शासकीय कन्या हाईस्कूल कहानी में पदस्थ अध्यापक व प्रभारी प्राचार्य अनामिका बघेल को भी विद्यालय में नवाचर कर खेल-खेल में गणित सिखाने की कला के लिए सम्मानित किया गया है। इनके प्रयास से विद्यार्थी गणित की जटिलताओं को भी सरलता से सुलझा पा रहे हैं व उनमें शिक्षा पाने का उत्साह आया है।
बरघाट विकासखण्ड के शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल धारनाकला के पीटीआई शिक्षक संदीप मिश्रा ने संसाधनों की कमी के बावजूद अध्ययनरत विद्यार्थियों में ऐसे बच्चों को भारोत्तोलन (वेटलिफ्टिंग) में निपुण किया, कि विद्यार्थी राष्ट्रीय स्तर तक की प्रतियोगिता में पहुंच पाए और जिले का नाम रोशन किया। कम संसाधनों के बावजूद हौसलों से सरकारी स्कूल की तस्वीर और विद्यार्थियों के हुनर में निखार लाने वाले इन शिक्षक-शिक्षिका एवं प्राचार्य के कार्यों की प्रशंसा करते हुए डीइओ, एडीपीसी द्वारा प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मान कर दूसरों को इसी तरह कार्य करने की प्रेरणा दी।
समीक्षा बैठक में उठा ट्यूशन का मामला -
राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के अंतर्गत शासकीय हाइस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूलों के प्राचार्यों की विभागीय समीक्षा बैठक एवं यूडाइस कार्यशाला का आयोजन गुरुवार को जनपद सिवनी के सभाकक्ष में हुआ। इस दौरान ३४ बिंदुओं पर चर्चा कर प्राचार्यों से जानकारी ली गई। इसमें मुख्य रूप से शासकीय विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों द्वारा ट्यूशन पर प्रतिबंध पर चर्चा कर निर्देश दिए गए। वहीं यह प्रमाण पत्र लिया गया कि संकुल अंतर्गत कोई भी शासकीय शिक्षक ट्यूशन नहीं पढ़ा रहे हैं। इसके अलावा त्रैमासिक परीक्षा परिणाम की समीक्षा। रेमेडियल कक्षाओं का संचालन। बालिकाओं के आत्मरक्षा प्रशिक्षण व अन्य बिंदुओं पर समीक्षा कर निर्देश दिए गए हैं। बैठक में एपीसी विपनेश जैन, आरपी बोरकर सहित अन्य की उपस्थिति रही।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned