जहां शुद्धता होती है वहां लक्ष्मी का होता है वास

Santosh Dubey

Publish: Apr, 14 2019 07:15:06 PM (IST)

Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

 

सिवनी. लक्ष्मी किस घर में स्थर रहती है। कुछ लोगों के घर जब लक्ष्मी आती तब वे प्रसन्नता के कारण लक्ष्मी का सम्मान करना भूल जाते हैं। इससे लक्ष्मी कुछ दिनों बाद उनके घरों से चली जाती है। इसलिए सभी को शुद्धता व आचार-विचार से रहते हुए देवी-देवताओं का ध्यान, पूजन निरंतर करते रहना चाहिए। उक्ताशय की बात कथावाचक पं. हितेन्द्र शास्त्री (काशी) ने मातृधाम में श्रीमद् देवी महापुराण कथा के अंतिम दिन श्रद्धालुजनों से कही।
उन्होंने आगे कहा कि जिस घर में तुलसी का पौधा नहीं होता है, जहां ब्राम्हणों का सम्मान नहीं होता है। ऐसे घर से लक्ष्मी वापस चली जाती है। नवरात्री आने पर जो अपने घर शुद्धता से नहीं रखता है। आचार-विचार नहीं रखता। अपने सामर्थ के अनुसार पूजन-पाठ नहीं करता है। उस घर से भी लक्ष्मी चली जाती है।
उन्होंने आगे कहा कि सूर्योदय के समय और अस्त होने के समय जो भोजन करता है उस घर से भी लक्ष्मी चली जाती है। घर में अगर रुपए पैसा नहीं है तो कोई बात नहीं है। लेकिन घर को शुद्धता, पवित्रता रखना, शरीर को स्वच्छता से रखने से घर में लक्ष्मी का आगमन होता है।
व्यासजी महाराज कहते हैं जनमयजय जिन घरों में पंचदेवों की उपासना, पूजन नहीं होती है उस घर से भी लक्ष्मी प्रस्थान कर जाती है। इसलिए लक्ष्मी को अपने घर में स्थिर रखना है तो घर में प्रात:काल साफ-सफाई व आचार-विचार रखने से लक्ष्मी का प्रादुर्भाव होता है।
उन्होंने रुद्राक्ष की महिमा के विषय में बताया कि एक व्यक्ति जीवन भर पापकर्म करता रहता था। जिस जगह उसकी मृत्यु हुई उस जमीन के 10 फिट नीचे रूद्राक्ष पड़ा था जिसके प्रभाव से वह शिवलोक पहुंच गया। इसलिए रुद्राक्ष को पहनने का अधिकार सभी को है।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned