पंचायत सचिवों को मिलेगा चिकित्सा एवं प्रसूति अवकाश

पंचायत सचिवों को मिलेगा चिकित्सा एवं प्रसूति अवकाश

Sunil Vandewar | Publish: Apr, 26 2018 03:01:01 PM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

जिला पंचायत, जनपद पंचायतों को आदेश जारी

सिवनी. जिले की ग्राम पंचायतों में कार्यरत ग्राम पंचायत सचिवों को प्रसूति, पितृत्व तथा लघुकृत अवकाश की पात्रता के सम्बंध में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव द्वारा जिला पंचायत तथा जनपद पंचायतों को आदेश दिए गए हैं।
प्रसूति अवकाश के संबंध में जारी आदेश के तहत महिला ग्राम पंचायत सचिव को जिसके दो से कम जीवित बच्चे हों, उन्हें प्रसव होने की दिनांक से 180 दिन की अवधि तक का प्रसूति अवकाश मंजूर किया जा सकता है। ऐसी अवधि में यह वेतन के बराबर अवकाश वेतन की हकदार होगी, जो उसने अवकाश पर प्रस्थान के तुरंत पूर्व प्राप्त किया है।
पितृत्व अवकाश के संबंध में जारी आदेश के तहत पंचायत सेवा के ऐसे कर्मचारी जिसकी दो से कम जीवित संतान है, उसकी पत्नि की प्रसव अवस्था के दौरान अर्थात शिशु के जन्म तारीख से 15 दिन पूर्व तक या जन्म की तारीख से 6 माह तक 15 दिनों का पितृत्व अवकाश स्वीकृत किया जा सकता है।
पितृत्व अवकाश परिवर्तित अवकाश के रूप में स्वीकृत किया जा सकता है, लेकिन ग्राम पंचायत सचिव से चिकित्सा प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने की अपेक्षा नहीं की जाएगी। पितृत्व अवकाश आकस्मिक अवकाश के अलावा किसी अन्य अवकाश के साथ जोड़ा जा सकता है।

जैव विविधता संरक्षण पर मिलेगा पुरस्कार

मप्र राज्य जैव विविधता बोर्ड द्वारा प्रदेश में जैव विविधता संरक्षण के लिए कार्य करने वाले व्यक्तिगत शासकीय व अशासकीय संस्था को प्रोत्साहन देने के लिए पुरस्कार योजना 2018 बनाई है। इसके तहत उत्कृष्ट कार्य करने वालों को 3 लाख रूपए, ट्रॉफी व प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाएगा। वे राज्य स्तरीय जैव विविधता 2018 पुरस्कार के लिए 30 अप्रैल तक निर्धारित प्रारूप में आवेदन कर सकते हैं। पुरस्कारों की घोषणा 22 मई को अंतरराष्ट्रीय जैव विविधता के अवसर पर की जाएगी।
इस योजना में प्रथम पुरस्कार 3 लाख व द्वितीय पुरस्कार 2 लाख रूपए है। जैव विविधता प्रबंधन समिति ग्राम स्तर पर 3 लाख, 2 लाख व 1 लाख रूपए। जनपद और जिला पंचायत स्तर पर 3 और 2 लाख रूपए तथा नगर निकाय स्तर पर प्रथम पुरस्कार 5 लाख और द्वितीय पुरस्कार 3 लाख रूपए प्रदान किया जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned