माता-पिता ने जाना पढ़ाई में कितनी होशियार है बेटी

Sunil Vandewar

Updated: 20 Oct 2019, 01:34:13 PM (IST)

Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

सिवनी. बेटी पढ़-लिखकर कुछ बन जाए, इसी प्रयास में माता-पिता प्रयासरत हैं। माता-पिता के प्रयासों को सार्थक करने की दिशा में शिक्षा विभाग भी नवाचार कर रहा है। इसी के तहत शासकीय स्कूलों में शिक्षक-अभिभावक सम्मेलन आयोजित हो रहे हैं।
नगर के शासकीय कन्या मठ शाला में प्राचार्य एमके सैयाम के मार्गदर्शन में शिक्षक-अभिभावक सम्मेलन का आयोजन शनिवार को किया। प्राचार्य ने कहा कि शिक्षा में गुणवत्ता जरूरी है और गुणवत्ता के लिए शिक्षक, अभिभावकों एवं विद्यार्थियों के बीच संवाद की स्थिति जब तक नही बनेगी तब तक संतोषजनक परिणाम नही आ सकते।
आयोजन में शामिल हुए छात्राओं के अभिभावकों से अपनी बेटियों के अध्यापन के संबंध में प्राचार्य सैयाम के समक्ष उनके पिछले स्थानीय परीक्षा की उत्तरपुस्तिकाओं को देखा व शिक्षा के स्तर को जाना। जिस पर अभिभावकों ने बताया कि हमारा प्रयास रहता है कि बेटी पढ़कर अलग-अलग क्षेत्रों में जाएं, लेकिन समस्या यह है कि बेटियोंं को घर के विभिन्न कार्य में सहयोगी भी होती हैं, जिससे उन्हें पढ़ाई के लिए पर्याप्त समय नहीं मिल पाता।
प्राचार्य ने कहा अगर आप अपनी बेटी का भविष्य बनाना चाहते है तो उन्हें नियमित शाला पहुंचाएं साथ ही शिक्षा कार्य के लिए समय-समय पर इन बच्चियों को मोबाइल का उपयोग करने दें तथा शेष समय में बच्चियों को अध्यापन के लिये प्रेरित करें। तभी बेटियां देश और परिवार के लिए कुछ कर सकती हं। अभिभावकों ने आए दिन समाज में बेटियों के साथ घटित हो रहे अपराध व उनकी सुरक्षा को लेकर भी चिंता व्यक्त की। जिस पर प्राचार्य ने कहा कि शिक्षक के साथ-साथ अभिभावक भी अपने बच्चों पर ध्यान दें। तो सुरक्षा को लेकर काफी हद तक घटनाओं पर अंकुश रखा जा सकता है।
अभिभावकों ने जाना कैसा पढ़ती हैं बेटियां -
शिक्षक संवाद कार्यक्रम के दौरान प्राचार्य ने अभिभावकों को तिमाही एवं अन्य परीक्षाओं की उत्तरपुस्तिका दिखाकर बेटी की शिक्षा व दैनिक कार्य के संबंध में चर्चा की। जिसकी अभिभावकों ने सराहना की। शिक्षक एवं अभिभावक संवाद कार्यक्रम में कक्षा 10वीं की छात्रा कौशल्या पिता ईक्का, मीना सनोडिया, प्रमिला कश्यप, जानकी बाई बर्मन, शेलकुमारी, गुंजन रंगारे, बसमी कुशराम, भूरी श्रीवास, सुनीता आत्मपूज्य, ओमप्रकाश, अशोक यादव, राजकुमार सनोडिया, हरीकांत आदि शामिल थे। इस दौरान शाला के शिक्षक-शिक्षिकाओं में अनिल तिवारी, भारती श्रीवास सहित अन्य शिक्षक शामिल रहे।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned